Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीतिदहशत में बिहार के एक यूट्यूबर का परिवार, दावा- प्रताड़ित कर रही तेज प्रताप...

दहशत में बिहार के एक यूट्यूबर का परिवार, दावा- प्रताड़ित कर रही तेज प्रताप यादव की IT टीम, पैसों की डिमांड: क्या लालटेन राज में शुरू हो गया ‘वसूली उद्योग’

जब दोबारा निवेदन किया गया तो उधर से कहा गया कि 'नियम एवं शर्तें' बता दी गई हैं और 'LR Vlog' कंपनी के बैंक खाते में ही ये रुपए देने होंगे। जब हमने 'LR Vlog' यूट्यूब चैनल को खँगाला तो इसके डिस्क्रिप्शन में अंग्रेजी में लिखा मिला - 'तेज प्रताप यादव, वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री, विधानसभा क्षेत्र - हसनपुर (बिहार)।'

बिहार के वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री तेज प्रताप यादव की आईटी टीम पर बिहार के एक यूट्यूब चैनल के संस्थापक को धमकी देने का आरोप लगा है। इतना ही नहीं, यूट्यूबर पत्रकार से 2 लाख रुपए भी माँगे जा रहे हैं। इस संबंध में बिहार के पूर्वी चम्पारण स्थित पकड़ीदयाल नगर थाने में मामला दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया गया है। ‘टुडे बिहार न्यूज़’, जिसके यूट्यूब पर 7.26 लाख सब्सक्राइबर्स हैं, उसके संस्थापक प्रकाश राज ने ये मामला दर्ज कराया है।

दरअसल, मामले कुछ यूँ है कि प्रकाश राज के यूट्यूब चैनल को ‘LR Vlog‘ नामक यूट्यूब चैनल की तरफ से बुधवार (7 दिसंबर, 2022) को एक कॉपीराइट स्ट्राइक का नोटिस भेजा गया। ये नोटिस उस वीडियो को लेकर था, जिसमें राजद नेता तेज प्रताप यादव को कंबल वितरित करते हुए दिखाया गया था। प्रकाश राज का कहना है कि चूँकि वो एक सार्वजनिक पद पर हैं, इसीलिए मंत्री होने के कारण उनसे जुड़ी खबर और वीडियो उनके न्यूज़ चैनल द्वारा दिखाई गई।

इसके बाद ‘टुडे बिहार न्यूज़’ ने ‘LR Vlog’ से ईमेल के माध्यम से संपर्क किया गया और कॉपीराइट स्ट्राइक हटाने के लिए निवेदन किया गया, क्योंकि इससे चैनल का कामकाज प्रभावित हो रहा था। प्रकाश राज ने बिहार पुलिस को दिए गए आवेदन में जानकारी दी है कि 11 दिसंबर को उनके फोन पर एक कॉल आया, जिसमें कॉल करने वाले ने खुद को तेज प्रताप यादव की आईटी टीम का सदस्य बताया। उक्त व्यक्ति ने कहा कि स्ट्राइक हटाने के अनुरोध संबंधी डिटेल्स उसे वाहट्सएप्प पर भेज दिया जाए।

राजेपुर नवादा गाँव के रहने वाले प्रकाश राज ने अगले दिन जब उन्होंने कॉल करने वाले व्यक्ति से संपर्क कर के जब पूछा कि इस संबंध में बात आगे बढ़ी या नहीं, तो उधर से राजीव रंजन नामक ‘सीनियर’ का नंबर देकर उनसे बात करने को कहा गया। हालाँकि, ऑडियो कॉल से खुलासा हुआ है कि राजीव रंजन ने इसके बाद अपने यूट्यूब चैनल के खाते में 2 लाख रुपए की डिमांड की, और इसके बदले स्ट्राइक हटाने का वादा किया।

प्रकाश राज ने पुलिस को बताया है, “शुरुआत में हमें ऐसा लगा कि मंत्री तेज प्रताप यादव के नाम पर हमारे साथ कहीं धोखाधड़ी तो नहीं की जा रही! जब हमने बिहार सरकार से इसकी शिकायत करने की बात कही और उधर से हमें धमकी दी गई। मुझे झूठे मुक़दमे में फँसाने की धमकी दी जा रही है। हमारा परिवार अभी दहशत में है। हमें तेज प्रताप यादव की आईटी टीम द्वारा मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है। झूठे आरोप लगा कर मुझे फँसाने और कानूनी कार्रवाई की धमकी भी मिल रही है।”

इस मामले की आवेदन की कॉपी ऑपइंडिया के पास मौजूद है। साथ ही हमारे पास तेज प्रताप यादव की आईटी टीम से खुद को बताने वाले लोगों के साथ प्रकाश राज के व्हाट्सएप्प चैट का स्क्रीनशॉट्स भी हैं। चैट में देखा जा सकता है कि जब प्रकाश राज ने कहा कि उनकी कंपनी इतने रुपए देने में समर्थ नहीं है, तो उधर से लिखा गया – “एक तो चोरी, ऊपर से सीनाजोरी।” पैसे माँगने वाली बात बताने पर उधर से कहा गया कि हमें कुछ समझ में नहीं आ रहा है।

जिसे वीडियो को लेकर कॉपीराइट स्ट्राइक का मामला बनाया जा रहा है, उसे ‘राष्ट्रीय जनता दल (RJD)’ के यूट्यूब चैनल से भी दिखाया गया था। फोन कॉल के ऑडियो में भी सुना जा सकता है कि उस तरफ से कॉल उठाने वाले व्यक्ति ने कहा कि वो तेज प्रताप यादव की आईटी सेल से बोल रहा है और कॉपीराइट स्ट्राइक उन्हीं लोगों के द्वारा दिया गया है। उधर से कहा गया कि कॉपीराइट हटवाने के लिए 2 लाख रुपए का चार्ज रखा गया है, जिसे पे करना ही पड़ेगा।

जब दोबारा निवेदन किया गया तो उधर से कहा गया कि ‘नियम एवं शर्तें’ बता दी गई हैं और ‘LR Vlog’ कंपनी के बैंक खाते में ही ये रुपए देने होंगे। जब हमने ‘LR Vlog’ यूट्यूब चैनल को खँगाला तो इसके डिस्क्रिप्शन में अंग्रेजी में लिखा मिला – ‘तेज प्रताप यादव, वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री, विधानसभा क्षेत्र – हसनपुर (बिहार)।’ साथ ही ‘बिजनेस इंक्वायरी’ के लिए ‘[email protected]’ नामक आईडी पर ईमेल करने के लिए कहा गया है।

यूट्यूब चैनल ‘LR Vlog’, जिसे तेज प्रताप यादव का ही बताया जा रहा

इस चैनल की डीपी के रूप में तेज प्रताप यादव की तस्वीर भी लगी हुई है। 6 नवंबर, 2021 को बनाए गए इस चैनल के 65,600 सब्सक्राइबर्स हैं। इस पर कई ऐसे वीडियो हैं, जिसे तेज प्रताप यादव ने खुद बनाया है और कई वीडियो में वो कहते भी हैं, “नमस्कार, आप देख रहे हैं LR Vlog और मैं हूँ तेज प्रताप यादव।” इसमें कभी वो अपने गाँव फुलवरिया की सैर कराते हैं, कभी पटना जैविक उद्यान की तो कभी ट्रेन के सफर में दिखते हैं।

प्रकाश राज ने इस संबंध में अपने यूट्यूब चैनल पर वीडियो बनाते हुए भी पूछा कि क्या ये जायज है? उन्होंने तेज प्रताप यादव से माँग की कि वो रुपए माँग रहे लोगों पर कार्रवाई करें। उन्होंने पूछा कि क्या अब तेज प्रताप यादव यूट्यूबर्स से पैसों की वसूली करेंगे, या फिर उन्हें बदनाम करने की कोशिश की जा रही है? इस संबंध में तेज प्रताप यादव की तरफ से कोई बयान फ़िलहाल नहीं आया है, उनका बयान आते ही स्टोरी को अपडेट किया जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

अनुपम कुमार सिंह
अनुपम कुमार सिंहhttp://anupamkrsin.wordpress.com
भारत की सनातन परंपरा के पुनर्जागरण के अभियान में 'गिलहरी योगदान' दे रहा एक छोटा सा सिपाही, जिसे भारतीय इतिहास, संस्कृति, राजनीति और सिनेमा की समझ है। पढ़ाई कम्प्यूटर साइंस से हुई, लेकिन यात्रा मीडिया की चल रही है। अपने लेखों के जरिए समसामयिक विषयों के विश्लेषण के साथ-साथ वो चीजें आपके समक्ष लाने का प्रयास करता हूँ, जिन पर मुख्यधारा की मीडिया का एक बड़ा वर्ग पर्दा डालने की कोशिश में लगा रहता है।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आरक्षण के खिलाफ बांग्लादेश में धधकी आग में 115 की मौत, प्रदर्शनकारियों को देखते ही गोली मारने के आदेश: वहाँ फँसे भारतीयों को वापस...

बांग्लादेश में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के भी आदेश दिए गए हैं। वहाँ हिंसा में अब तक 115 लोगों की जान जा चुकी है और 1500+ घायल हैं।

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -