Monday, July 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय62 वर्षीय सांसद मौलाना सलाउद्दीन अयूबी ने 14 साल की नाबालिग से किया निकाह,...

62 वर्षीय सांसद मौलाना सलाउद्दीन अयूबी ने 14 साल की नाबालिग से किया निकाह, पुलिस को दिए गए जाँच के आदेश

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के 62 वर्षीय सांसद मौलाना सलाउद्दीन अयूबी ने 14 साल की नाबालिग बच्ची से निकाह कर लिया। सलाउद्दीन बलूचिस्तान के चित्राल से जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम पार्टी का सांसद है।

एक तरफ पूरी दुनिया में बाल विवाह को लेकर जागरूकता फैलाई जा रही है, वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान के बलूचिस्तान में हैरान करने वाली घटना सामने आई है। पड़ोसी मुल्क के 62 वर्षीय सांसद मौलाना सलाउद्दीन अयूबी ने 14 साल की नाबालिग बच्ची से निकाह कर लिया। सलाउद्दीन बलूचिस्तान के चित्राल से जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम पार्टी का सांसद है, रिपोर्ट्स के मुताबिक़ एक एनजीओ ने इस निकाह की जानकारी सार्वजनिक की। फ़िलहाल, सरकार ने पुलिस को इस मामले की जाँच के आदेश दे दिए हैं। 

निकाह की घटना कुछ समय पुरानी है लेकिन अभी चर्चा में आई है। पाकिस्तान में निकाह के क़ानून की बात करें तो लड़कियों की शादी की उम्र 16 साल है। इससे कम उम्र में शादी होने पर उसे आपराधिक माना जाता है और सज़ा का प्रावधान भी है। मौलाना अयूबी, मौलाना फजल-उर-रहमान की पार्टी से सांसद है और रहमान पाकिस्तान डेमोक्रेटिक फ्रंट का नेता है। ये फ्रंट पाकिस्तान में इमरान सरकार के खिलाफ़ अभियान चला रहा है। 

‘द डॉन’ की रिपोर्ट में बताया गया है कि बच्ची के स्कूल ने उसका जन्म प्रमाणपत्र मीडिया के सामने पेश किया था। जिसमें नाबालिग की जन्म की तिथि 28 अक्टूबर 2006 बताई गई है। इसके बाद एनजीओ ने इस मामले की शिकायत पुलिस से की, पुलिस ने जाँच शुरू कर दी है। घटना पिछले साल की बताई जा रही है, इससे जुड़ी तमाम ख़बरें सामने आई थीं लेकिन उस वक्त सारी जानकारी की पुष्टि नहीं हो पाई थी। न तो मौलाना सलाउद्दीन ने इस पर कुछ कहा था और न ही नाबालिग पीड़िता के परिवार वालों ने। 

चित्राल पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर सज्जाद ने शिकायत दर्ज होने की पुष्टि की है लेकिन एफ़आईआर की बात अभी तक स्पष्ट नहीं है। घटना की शिकायत मिलने पर पुलिस पीड़िता के घर पहुँची, पूछताछ में उसके पिता ने अपनी बेटी के निकाह की बात को सिरे से खारिज कर दिया। उन्होंने कहा मेरी बेटी की शादी नहीं हुई है। दूसरी तरफ पुलिस के डीपीओ का ये भी कहना है कि नाबालिग के पिता ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि वह अपनी बेटी को सांसद अयूबी के पास कभी नहीं भेजेंगे।   

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -