Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयMP बहाउद्दीन बहार ने दुर्गा पूजा को कहा 'शराब का त्योहार': बांग्लादेश में हिंदुओं...

MP बहाउद्दीन बहार ने दुर्गा पूजा को कहा ‘शराब का त्योहार’: बांग्लादेश में हिंदुओं ने विरोध में निकाला मार्च, मुस्लिमों ने कोमिला में किया हमला

गौरतलब है कि 28 सितंबर 2023 को ही मुंशीगंज जिले के मेयर फैसल बिप्लब ने हिंदू सांसद मृणाल कांति दास को 'मलौं' (हिंदुओं के लिए अपमानजनक शब्द), 'नोपुंगशाक' (नपुंसक) और 'चांडाल' (दलितों के लिए अपमानजनक शब्द) कहा था।

बांग्लादेश में सांसद बहउद्दीन बहार के खिलाफ विरोध मार्च निकाल रहे हिंदू समुदाय पर हमला किया गया है। इसमें कई लोग घायल हो गए हैं। इन हिंदुओं का कसूर महज इतना था कि इन लोगों ने सांसद बहार द्वारा दुर्गा पूजा को ‘शराब का त्योहार’ बताने पर विरोध कर रहे थे। ये हमला कोमिला महानगर के नजरूल एवेन्यू इलाके में शुक्रवार (13 अक्टूबर) सुबह 11 बजे हुआ।

इस देश में ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है कि सरकार में बैठे लोग हिंदुओं के खिलाफ इस तरह की आपत्तिजनक टिप्पणियाँ कर रहे हैं। ये वहीं देश है, जिसकी मुक्ति वाहिनी को भारत ने सैनिक सहयोग दिया था और ये पाकिस्तान से स्वाधीनता प्राप्त कर नरसंहार से निजात पाया था।

ग्लोबल टेलीविज़न के यूट्यूब पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में हिंदू समुदाय के सदस्यों को बचने के लिए भागते हुए देखा जा सकता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमले के दौरान एक महिला समेत कुल 5 लोग घायल हो गए। उनमें से एक के सिर पर भी गंभीर चोट भी आई। पीड़ितों में से तीन की पहचान आदित्य दास, सुनील दास और तन्मय दास के रूप में हुई है।

इस प्रदर्शन की अगुवाई बांग्लादेश युवा एकता परिषद, हिंदू बौद्ध ईसाई एकता परिषद (एचबीसीयूसी), छात्र एकता परिषद और महिला एकता परिषद ने किया था। ये संगठन कोमिला-6 निर्वाचन क्षेत्र अवामी लीग के सांसद बहउद्दीन बहार के दुर्गा पूजा को लेकर की गई आपत्तिजनक टिप्पणियों के खिलाफ सड़क पर उतरे थे।

हिंदू बौद्ध ईसाई एकता परिषद के महासचिव राणा दास गुप्ता के मुताबिक, सत्ताधारी आवामी लीग के सांसद बहउद्दीन ने 4 अक्टूबर 2023 को वार्षिक हिंदू बंगाली त्योहार को ‘मदजुक्तो पूजा’ (शराब का त्योहार) कहकर बदनाम किया था।

सांसद बहउद्दीन बहार ने यह भी दावा किया था कि अगर शराब की खपत कम कर दी जाए तो पूजा पंडालों की संख्या भी कम हो जाएगी। बहउद्दीन ने एक बार फिर से गुरुवार (12 अक्टूबर) को दुर्गा पूजा को शराब से जोड़ दिया।

गौरतलब है कि 28 सितंबर 2023 को ही मुंशीगंज जिले के मेयर फैसल बिप्लब ने हिंदू सांसद मृणाल कांति दास को ‘मलौं’ (हिंदुओं के लिए अपमानजनक शब्द), ‘नोपुंगशाक’ (नपुंसक) और ‘चांडाल’ (दलितों के लिए अपमानजनक शब्द) कहा था।

हिंदू त्योहारों को शातिर तरीके से निशाना बनाने से नाराज समुदाय के सदस्यों ने एक विरोध मार्च निकाला और अवामी लीग के सांसद के खिलाफ कार्रवाई की माँग की। हालाँकि, प्रदर्शन पर ‘छात्र लीग’ और ‘जुबो लीग’ से जुड़े इस्लामवादियों ने हमला कर दिया।

जहाँ ‘छात्र लीग’ शेख हसीना के नेतृत्व वाली बांग्लादेश अवामी लीग की स्टूडेंट ब्रांच है तो वहीं ‘जुबो लीग’ इसी पार्टी की युवा बिग्रेड हैं। दुर्गा पूजा को लेकर विवादित टिप्पणी करने वाले बहउद्दीन बहार अवामी लीग के सांसद भी हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -