Thursday, July 25, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयचीन में मुस्लिमों को रहना है तो चीन की परंपरा और कम्युनिस्ट व्यवस्था के...

चीन में मुस्लिमों को रहना है तो चीन की परंपरा और कम्युनिस्ट व्यवस्था के साथ रहें: राष्ट्रपति शी जिनपिंग, उइगरों के दमन के लगते रहे हैं आरोप

चीन स्थित शिविरों में उइगर मुस्लिमों को सामूहिक रूप से कैद कर यातना दी जाती है। हालाँकि, चीन इसे खारिज करता रहा है। शिनजियांग चीन का एक ऐसा प्रांत है, जहाँ मुस्लिम आबादी सबसे अधिक है। एक समय ऐसा भी था जब उइगर मुस्लिम विद्रोही अपने लिए अलग मुल्क की माँग कर रहे थे।

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Chinese President Xi Jinping) ने कहा है कि इस्लाम चीन की परंपराओं और समाज के मुताबिक अपने आप को ढालने की कोशिश करे और उसे समाजवादी ढाँचे को अपनाना चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि चीनी मुस्लिमों को चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी (CPC) के समाजवादी व्यवस्था के अनुकूल होना चाहिए। जिनपिंग ने यह भी कहा कि धर्म को मानने वाले लोगों की सामान्य धार्मिक जरूरतों को सुनिश्चित किया जाना चाहिए और उन्हें पार्टी और सरकार के करीब एकजुट होना चाहिए।

जिनपिंग ने चीन के लिए मजबूत सामुदायिक भावना को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न जातीय समूहों के बीच संवाद और एकीकरण को बढ़ावा देने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि उइगर मुस्लिम समुदाय को चीन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता बढ़ानी चाहिए।

चीन के शिनजियांग प्रदेश के 4 दिवसीय दौरे पर रहे चीनी राष्ट्रपति ने मध्य एशिया से पूर्वी यूरोप की अर्थव्यवस्थाओं को जोड़ने के लिए बंदरगाहों, रेलवे और बिजली स्टेशनों के निर्माण के चीन के कार्यक्रम में शिनजियांग को एक ‘मुख्य क्षेत्र और केंद्र’ कहा।

बता दें कि शिनजियांग क्षेत्र कभी प्राचीन सिल्क रोड का एक महत्वपूर्ण मार्ग था। चीन ने अब इस क्षेत्र को अपने महत्वाकांक्षी बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (BRI) का मुख्य केंद्र बनाया है। यहाँ 5,900 से अधिक चीन-यूरोप के लिए मालगाड़ियाँ चलाई गई हैं।

बता दें कि चीन का शिनजियांग प्रांत रूस, अफगानिस्तान और अस्थिर मध्य एशिया की सीमा से लगा हुआ है। चीन ने आर्थिक प्रोत्साहन और सुरक्षा गठबंधन के केेंद्र के रूप में विकसित करने की बात कही है। पिछले आठ सालों में इस क्षेत्र में शी जिनपिंग की यह दूसरी यात्रा है। इसके पहले वह 2014 में यहाँ गए थे।

शी ने शिनजियांग प्रोडक्शन एंड कंस्ट्रक्शन कॉर्प्स के नेताओं से भी मुलाकात की। यह एक सुपर-सरकारी निकाय है, जो 1949 में चीन में कम्युनिस्ट पार्टी के सत्ता में आने के बाद इस क्षेत्र पर लगाए गए सैन्य प्रणाली के तहत अपनी अदालतें, स्कूलों और स्वास्थ्य प्रणाली का संचालन करता है।

बता दें कि पिछले कुछ वर्षों से चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग इस्लाम को सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी की नीतियों के अनुरूप ढालने की कोशिश कर रहे हैं। यह भी बात कई बार सामने आ चुकी है कि चीन स्थित शिविरों में उइगर मुस्लिमों को सामूहिक रूप से कैद कर यातना दी जाती है।

हालाँकि, चीन पश्चिमी देशों और अमेरिकी द्वारा मुस्लिमों के खिलाफ मानवाधिकारों के उल्लंघन के आरोपों को सिरे से खारिज करता रहा है। शिनजियांग चीन का एक ऐसा प्रांत है, जहाँ मुस्लिम आबादी सबसे अधिक है। एक समय ऐसा भी था जब उइगर मुस्लिम विद्रोही अपने लिए अलग मुल्क की माँग कर रहे थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -