Wednesday, April 21, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय PUBG ने चीन के Tencent Games से वापस लिए भारत के अधिकार, कहा- हम...

PUBG ने चीन के Tencent Games से वापस लिए भारत के अधिकार, कहा- हम भारत सरकार की सुरक्षा चिंता का सम्मान करते हैं

भारत में PUBG मोबाइल के लिए सभी तरह का पब्लिशिंग राइट PUBG कॉर्पोरेशन के पास होगा जो साउथ कोरिया की कंपनी है। PUBG की तरफ़ से ये भी साफ़ कर दिया गया है कि PUBG मोबाइल गेम साउथ कोरियन पबजी कॉर्पोरेशन का हिस्सा है और इस पर कंपनी का पूरा अधिकार है।

भारत में PUBG बैन होने के कारण PUBG कॉर्पोरेशन को बहुत नुकसान हुआ है। उन्होंने इस प्रतिबंध के कारण अपने यूजर्स को गवाने के साथ-साथ राजस्व का भी नुकसान झेला है। ये हानि कंपनी के लिए इतनी बड़ी है कि उन्होंने अपनी नीतियों में संशोधन करके उपाय खोजने की इच्छा व्यक्त की है।

7 सितंबर को PUBG कॉर्पोरेशन ने अपने एक ब्लॉग में बताया कि वह कैसे ऐप से प्रतिबंध हटाने के लिए भारतीय सरकार को मनाने के प्रयास कर रही है। कंपनी ने कहा, “PUBG Corporation भारत सरकार द्वारा किए गए उपायों को पूरी तरह से समझता है और उसका सम्मान करता है, क्योंकि खिलाड़ी के डेटा की गोपनीयता और सुरक्षा कंपनी के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता है।”

अपनी बड़ी घोषणा करते हुए PUBG ने बताया कि चीन की Tencent games के पास अब भारत की फ्रैंचाइजी चलाने का अधिकार नहीं होगा। PUBG कॉर्पोरेशन ने अपने बयान में कहा है कि वह भारत में PUBG गेम की पूरी जिम्मेदारी खुद लेगा और फैन्स को नए अनुभव देने पर काम करेगा। 

यानी भारत में PUBG मोबाइल के लिए सभी तरह का पब्लिशिंग राइट PUBG कॉर्पोरेशन के पास होगा जो साउथ कोरिया की कंपनी है। PUBG की तरफ़ से ये भी साफ़ कर दिया गया है कि PUBG मोबाइल गेम साउथ कोरियन पबजी कॉर्पोरेशन का हिस्सा है और इस पर कंपनी का पूरा अधिकार है।

बता दें, PUBG कॉर्पोरेशन ने भारतीय फैन्स के जुनून और उत्साह के लिए उनका आभार व्यक्त किया है। PUBG ने कहा, “PUBG Corporation सक्रियता से भारत में ‘PUBG MOBILE Nordic Map: Livik औप PUBG MOBILE Lite’ पर लगे हालिया प्रतिबंध के आसपास की स्थिति पर नजर रख रहा है। इस खेल ने देश के ख़िलाड़ियों से भारी समर्थन पाया है। इसलिए खिलाड़ी समुदाय को उनके जुनून और उत्साह के लिए धन्यावाद देना चाहते हैं।”

गौरतलब है कि भारत के हालिया फैसले के बाद गुरुवार को चीन की टेंसेंट के शेयर 2 प्रतिशत से ज्यादा नीचे आ गए। इस गिरावट की मार्केट वैल्यू को एक दिन में लगभग 14 बिलियन अमरीकी डॉलर आँका गया है। हालाँकि, गेम्स के अलावा Tencent समाचार और मनोरंजन मंच Newsdog, कैमरा ऐप YouCam और ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म Shein में भी निवेश करता है। मगर, इन्हें भी भारत ने बैन कर दिया है।

बता दें ऑनलाइन गेमिंग की दुनिया में पब जी सबसे नामी खेल है। भारत में अब तक इसे 175 मिलियन लोग इंस्टाल कर चुके थे। ये तादाद पूरे विश्व के पब जी यूजर्स की 24% है। वर्तमान में इसके 50 मिलियन से ज्यादा सक्रिय यूजर्स भारत में थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मधुबनी: धरोहर नाथ मंदिर में सोए दो साधुओं का गला कुदाल से काटा, ‘लव जिहाद’ का विरोध करने वाले महंत के आश्रम पर हमला

बिहार के मधुबनी जिला स्थित खिरहर गाँव में 2 साधुओं की गला काट हत्या कर दी गई है। इससे पहले पास के ही बिसौली कुटी के महंत के आश्रम पर रात के वक्त हमला हुआ था।

पाकिस्तानी फ्री होकर रहें, इसलिए रेप की गईं बच्चियाँ चुप रहें: महिला सांसद नाज शाह के कारण 60 साल के बुजुर्ग जेल में

"ग्रूमिंग गैंग के शिकार लोग आपकी (सासंद की) नियुक्ति पर खुश होंगे।" - पाकिस्तानी मूल के सांसद नाज शाह ने इस चिट्ठी के आधार पर...

रवीश और बरखा की लाश पत्रकारिताः निशाने पर धर्म और श्मशान, ‘सर तन से जुदा’ रैलियाँ और कब्रिस्तान नदारद

अचानक लग रहा है जैसे पत्रकारों को लाश से प्यार हो गया है। बरखा दत्त श्मशान में बैठकर रिपोर्टिंग कर रही हैं। रवीश कुमार लखनऊ को लाशनऊ बता रहे हैं।

‘दिल्ली में बेड और ऑक्सीजन पर्याप्त, लॉकडाउन के आसार नहीं’: NDTV पर दावा करने के बाद CM केजरीवाल ने टेके घुटने

केजरीवाल के दावे के उलट अब दिल्ली के अस्पतालों में बेड नहीं है। ऑक्सीजन के लिए हाहाकार मचा है। लॉकडाउन लगाया जा चुका है।

‘हाइवे पर किसान, ऑक्सीजन सप्लाई में परेशानी’: कोरोना के खिलाफ लड़ाई में AAP समर्थित आंदोलन ही दिल्ली का काल

ऑक्सीजन की सप्लाई करने वाली कंपनी ने बताया है कि किसान आंदोलन के कारण 100 किलोमीटर की अतिरिक्त दूरी तय करनी पड़ रही है।

देश को लॉकडाउन से बचाएँ, आजीविका के साधन बाधित न हों, राज्य सरकारें श्रमिकों में भरोसा जगाएँ: PM मोदी

"हमारा प्रयास है कि कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकते हुए आजीविका के साधन बाधित नहीं हों। केंद्र और राज्यों की सरकारों की मदद से श्रमिकों को भी वैक्सीन दी जाएगी। हमारी राज्य सरकारों से अपील है कि वो श्रमिकों में भरोसा जगाएँ।"

प्रचलित ख़बरें

‘सुअर के बच्चे BJP, सुअर के बच्चे CISF’: TMC नेता फिरहाद हाकिम ने समर्थकों को हिंसा के लिए उकसाया, Video वायरल

TMC नेता फिरहाद हाकिम का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल है। इसमें वह बीजेपी और केंद्रीय सुरक्षा बलों को 'सुअर' बता रहे हैं।

रेमडेसिविर खेप को लेकर महाराष्ट्र के FDA मंत्री ने किया उद्धव सरकार को शर्मिंदा, कहा- ‘हमने दी थी बीजेपी को परमीशन’

महाविकास अघाड़ी को और शर्मिंदा करते हुए राजेंद्र शिंगणे ने पुष्टि की कि ये इंजेक्शन किसी अन्य उद्देश्य के लिए इस्तेमाल नहीं किया जा सकता है। उन्हें भाजपा नेताओं ने भी इसके बारे में आश्वासन दिया था।

रेप में नाकाम रहने पर शकील ने बेटी को कर दिया गंजा, जैसे ही बीवी पढ़ने लगती नमाज शुरू कर देता था गंदी हरकतें

मेरठ पुलिस ने शकील को गिरफ्तार किया है। उस पर अपनी ही बेटी ने रेप करने की कोशिश का आरोप लगाया है।

हाँ, हम मंदिर के लिए लड़े… क्योंकि वहाँ लाउडस्पीकर से ऐलान कर भीड़ नहीं बुलाई जाती, पेट्रोल बम नहीं बाँधे जाते

हिंदुओं को तीन बातें याद रखनी चाहिए, और जो भी ये मंदिर-अस्पताल की घटिया बाइनरी दे, उसके मुँह पर मार फेंकनी चाहिए।

पत्रकारिता का पीपली लाइवः स्टूडियो से सेटिंग, श्मशान से बरखा दत्त ने रिपोर्टिंग की सजाई चिता

चलते-चलते कोरोना तक पहुँचे हैं। एक वर्ष पहले से किसी आशा में बैठे थे। विशेषज्ञ को लाकर चैनल पर बैठाया। वो बोला; इतने बिलियन संक्रमित होंगे। इतने मिलियन मर जाएँगे।

‘मई में दिखेगा कोरोना का सबसे भयंकर रूप’: IIT कानपुर की स्टडी में दावा- दूसरी लहर कुम्भ और रैलियों से नहीं

प्रोफेसर मणिन्द्र और उनकी टीम ने पूरे देश के डेटा का अध्ययन किया। अलग-अलग राज्यों में मिलने वाले कोरोना के साप्ताहिक आँकड़ों को भी परखा।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,468FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe