Friday, July 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'सादे कपड़े पहनने पर अंडरगारमेंट्स पहनना होगा अनिवार्य, एयर होस्‍टेस की ड्रेस से खराब...

‘सादे कपड़े पहनने पर अंडरगारमेंट्स पहनना होगा अनिवार्य, एयर होस्‍टेस की ड्रेस से खराब हो रही इमेज’: पाकिस्तानी एयरलाइंस का फरमान, शिफ्ट इंचार्ज रखे नजर

PIA की एयरहोस्‍टेस की यूनिफॉर्म सबसे पहले मशहूर फ्रेंच डिजाइनर पियरे कार्डिन ने तैयार की थी। सन् 1950 में सफेद सलवार और दुपट्टे के साथ एक सफेद कफ्स और कॉलर वाली लंबी ग्रीन ड्रेस को लाया गया था। इसके साथ हरे रंग की कैप भी थी। इसके बाद कई बार बदलाव हुए। इनकी ड्रेस में अंतिम बदलाव साल 2016 में हुआ।

पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (Pakistan International Airlines) ने एयर होस्‍टेस के सादे कपड़े पहनने पर आपत्ति जताई है। फ्लाइट सर्विसेज के जनरल मैनेजर की तरफ से एयर होस्टेस की ड्रेस को लेकर अटपटा आदेश जारी किया गया है। PIA के इस आदेश में कहा गया है, “एयर होस्‍टेस को सादे कपड़े पहनने पर अंडरगारमेंट्स पहनना अनिवार्य है।”

जनरल मैनेजर आमिर बशीर ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि उनको एयर होस्‍टेस के बारे में कई शिकायतें मिली थीं। इन शिकायतों में कहा गया था कि जब वे ऑफिस पहुँचती हैं, होटल में रुकती हैं या दूसरे शहरों के लिए सफर करती हैं, तो ठीक ढंग से कपड़े नहीं पहनती हैं। उनके मुताबिक, फ्लाइट अटेंडेंट्स के सलीके से कपड़े नहीं पहनने की वजह से PIA की इमेज खराब हो रही है।

ग्रूमिंग इंस्‍ट्रक्‍टर्स और शिफ्ट इंचार्ज को फ्लाइट अटेंडेंट्स यानि एयर होस्टेस की ड्रेस पर नजर रखने का आदेश दिया गया है। इसके साथ ही फ्लाइट सर्विसेज जनरल मैनेजर की तरफ से आगाह किया गया है कि दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करने और सलीके से कपड़े नहीं पहनने वाली एयर होस्टेस खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इससे इतर इंटरनेशनल ट्रांसपोर्ट वर्कर्स फेडरेशन ने PIA पायलटों और फ्लाइट अटेंडेंट की एक्स्ट्रा ड्यूटी टाइमिंग पर चिंता व्यक्त की है। फेडरेशन ने इस मामले को लेकर पीआईए के सीईओ आमिर हयात (PIA CEO Aamir Hayat) को पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है कि काम के घंटे बढ़ाने से केबिन क्रू की प्रोडक्टिविटी और परफॉरमेंस पर असर पड़ रहा है। यह कदम नियमों का उल्लंघन करता है।

पत्र में यह भी कहा गया है कि लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए इस मामले को जल्द-से-जल्द हल किया जाना चाहिए, क्योंकि पायलटों और एयर होस्टेस द्वारा लंबे समय तक काम करने से दुर्घटनाएँ हो सकती हैं। फेडरेशन ने दो साल पहले भी नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के महानिदेशक को इसी तरह का पत्र भेजा था।

बता दें कि पीआईए की एयरहोस्‍टेस की यूनिफॉर्म सबसे पहले मशहूर फ्रेंच डिजाइनर पियरे कार्डिन ने तैयार की थी। सन् 1950 में सफेद सलवार और दुपट्टे के साथ एक सफेद कफ्स और कॉलर वाली लंबी ग्रीन ड्रेस को लाया गया था। इसके साथ हरे रंग की कैप भी थी। इसके बाद कई बार बदलाव हुए। इनकी ड्रेस में अंतिम बदलाव साल 2016 में हुआ।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -