Saturday, July 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'अयोध्या में नॉर्थ कोरिया वाले किम जोंग उन ने भेजी आर्मी, कश्मीर में 200...

‘अयोध्या में नॉर्थ कोरिया वाले किम जोंग उन ने भेजी आर्मी, कश्मीर में 200 सैनिक बने मुस्लिम’: जानिए पाकिस्तान की प्रोपेगेंडा फैक्ट्री में पकता क्या था

पाकिस्तानी यूट्यूब चैनल किन काल्पनिक विषयों पर भारत विरोधी प्रोपगेंडा फैला रहे थे, ये जानना बेहद दिलचस्प और हैरान करने वाला है। जानकारी के मुताबिक, इन चैनलों पर तुर्की से लेकर नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग की खबरें थीं ताकि भारत के ख़िलाफ़ दुष्प्रचार किया जा सके।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने कल (21 दिसंबर 2021) एक प्रेस रिलीज जारी करके जानकारी दी थी कि भारत सरकार ने भारत विरोधी प्रोपगेंडा फैलाने वाली 2 वेबसाइट और 20 यूट्यूब चैनलों को ब्लॉक कर दिया है। रिलीज के मुताबिक, इन साइट व चैनल पर मौजूद सामग्री तथ्यात्मक रूप से गलत थी और भारत के खिलाफ़ दुष्प्रचार कर रही थी, इसलिए सरकार ने सूचना प्रौद्योगिकी नियम, 2021 के नियम 16 ​​के तहत आपातकालीन शक्तियों का उपयोग करके ये कार्रवाई की।

अब हमें ये तो पता है कि ब्लॉक होने वाले पाकिस्तानी यूट्यूब चैनल कंटेंट के नाम पर भारत विरोधी प्रोपगेंडा फैला रहे थे, लेकिन ये किन काल्पनिक विषयों को आधार बनाकर अपना काम कर रहे थे, ये जानना बेहद दिलचस्प और हैरान करने वाला है।

पीआईबी की प्रेस रिलीज के अनुसार:

द पंच लाइन जैसा चैनल जिसके सब्सक्राइबर 1, 16,000 हैं और कुल व्यू 2,01,31,840 हैं, उसने कश्मीर से लेकर राम मंदिर तक पर झूठ का प्रचार किया हुआ था। इस चैनल ने बताया था कि तैयब एर्दोगन ने राम मंदिर की जगह मस्जिद के पुननिर्माण का ऐलान कर दिया है और इससे योगी-मोदी को परेशानी होने वाली है।

इसके बाद कश्मीर मुजाहिद्दीनों (आतंकी) द्वारा भारतीय सेना पर अटैक और उन्हें मारे जाने की खबर, ‘भारत में लगे इमरान खान जिंदाबाद के नारे’ , ’200 भारतीय सैनिकों द्वारा श्रीनगर में कबूल किया गया इस्लाम’, ‘इस्लामी देशों में भारत का विरोध चरम पर’ जैसे टाइटल के साथ वीडियो डाली गई थी। एक वीडियो के टाइटल में दावा था कि नरेंद्र मोदी की सबसे बड़ी हार हुई है क्योंकि भारतीय सेना ने कश्मीरी लोगों पर गोली चलाने से मना कर दिया है।

इसी तरह 1,14,000 सब्सक्राइबर और 1,50,46,007 व्यू वाले इंटरनेशनल वेब न्यूज ने ‘खालिस्तान जनमत संग्रह यूके 2021’ और ‘भारत के इस क्षेत्र में पाला जा रहा आतंकवाद’…जैसे विषय पर अपनी सामग्री पोस्ट की। फिर खालसा टीवी ने भी सिखों को देश के ख़िलाफ़ भड़काने वाली सामग्री पोस्ट की।

4 लाख सब्सक्राइबर और 8 करोड़ व्यूज पाने वाले वाले द नेक्ड ट्रुथ ने तो ये फैलाया कि भारत सरकार ने मुजाहिद्दिनों (आतंकी) की माँगे मान ली हैं; 47 भारतीय जनरलों के समूह ने टैंक के साथ कश्मीर को आजाद कराने के लिए  घोषणा की है; पाँच देशों ने बाबरी मस्जिद पर निर्णय लिया है; भारतीय सेना कश्मीर में हार गई है।

इनके अतिरिक्ट भारत के ख़िलाफ़ प्रोपगेंडा फैलाने वालों में- न्यूज 24, 48 न्यूज, फिक्शनल, हिस्टॉरिकल फैक्ट्स, पंजाब वायरल, नया पाकिस्तान ग्लोबल, कवर स्टोरी, गो ग्लोबल, जुनैद हलीम ऑफिशियल, तैयब हनीफ, जैन अली ऑफिशियल, मोहसिन राजपूत, कनीज फातिमा, सदफ दुर्रानी, मियाँ इमरान अहमद, नज्म हसन जैसे चैनलों के नाम हैं।

इन चैनलों पर फैलाई गई कुछ निराधार खबरें जिनसे भारत के दुष्प्रचार का काम किया गया, इस प्रकार हैं:

  • तुर्की की आर्मी दिल्ली में घुस गई है।
  • एर्दोगन ने कश्मीर में 35 हजार के सैनिकों को भारत भेजा है। 
  • 300 भारतीय जासूसों को अफगान में तालिबानियों ने पकड़ लिया है।
  • जो बाइडन ने यूएस आर्मी को दिल्ली में घुसने को कहा है।
  • 7 अरब देशों ने भारत को तेल देने से मना कर दिया है।
  • नॉर्थ कोरिया के नेता किम जोंग उन ने अयोध्या में अपनी सेना को भेज दिया है।
  • 500 मुजाहिद्दीन भारत में घुस गए हैं।
  • भारत ने अपने फायदे के लिए अमेरिका की पीठ में चाकू घोंपा।
  • बिपिन रावत की मौत एक्सीडेंट नहीं थी, बीजेपी-आरएसएस ने भारतीय मुस्लिमों के लिए प्लान बनाया था।
  • 1000 असम मुस्लिम तालिबान के पास ट्रेनिंग लेने गए हैं।
  • 193 देशों ने अनुच्छेद 370 पर मोदी को धमकाया।

पीआईबी द्वारा जारी की गई रिलीज में कई वीडियो के स्क्रीनशॉट और उनपर फेक न्यूज का स्टैंप भी लगा है।

फेक न्यूज में कश्मीर में 500 मुजाहिद्दीनों के घुसने का दावा (साभार: पीआईबी)
पाकिस्तानी वार जेट के कश्मीर में घुसने का दावा करने वाली फेक न्यूज (साभार: PIB)
भारतीय सेना पर हमले की खबर (साभार: PIB)
‘असम मुस्लिम तालिबान से ट्रेनिंग लेने अफगान गए’
‘200 भारतीय सैनिकों ने स्वीकारा इस्लाम’
‘किम जोंग उन ने अयोध्या में भेजी सेना’
Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में NDA की बड़ी जीत, सभी 9 उम्मीदवार जीते: INDI गठबंधन कर रहा 2 से संतोष, 1 सीट पर करारी...

INDI गठबंधन की तरफ से कॉन्ग्रेस, शिवसेना UBT और PWP पार्टी ने अपना एक-एक उमीदवार उतारा था। इनमें से PWP उम्मीदवार जयंत पाटील को हार झेलनी पड़ी।

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -