Saturday, July 20, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'या अल्लाह मोदी को 8 साल के लिए हमारा PM बना दो': महंगाई पर...

‘या अल्लाह मोदी को 8 साल के लिए हमारा PM बना दो’: महंगाई पर रोते हुए पाकिस्तानी शख्स ने कहा- भारत के मुस्लिम 150 रुपए में चिकन खा रहे

पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने बीते दिनों कहा था कि उनका मुल्क दिवालिया हो चुका है। वह एक दिवालिया देश के रहने वाले हैं। वहाँ महंगाई चरम पर है और लोग में अफरा-तफरी का माहौल है।

भयंकर आर्थिक संकट से जूझ रहा पाकिस्तान (Pakistan) लगभग कंगाल घोषित हो चुका है। वहाँ के लोगों को दो वक्त की रोटी भी नसीब नहीं हो पा रही है। आईएमएफ, विश्व बैंक सहित कई अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं ने उसे कर्ज देने से भी इनकार कर दिया है। इस बीच सोशल मीडिया पर पाकिस्तान का एक वीडियो सामने आया है। इसमें वहाँ के स्थानीय लोग भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ कर रहे हैं।

वे पीएम मोदी को 8 साल के लिए पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनाना चाहते हैं। उनका कहना है कि उन्हें पाकिस्तान में किसी इमरान खान, बेनजीर और शरीफ की जरूरत नहीं है। उन्हें तो अपने देश को अच्छे से संभालने वाला ग्रेट नेता चाहिए, जो यहाँ के टेढ़े लोगों को ठीक कर सके। इसलिए पाकिस्तानी को नरेंद्र मोदी की जरूरत है।

‘हमारी बदकिस्म​ती थी कि हमें ऐसा मुल्क मिला’

पत्रकार आदित्य राज कौल ने गुरुवार (23 फरवरी 2023) को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया। इस वीडियो में पाकिस्तान का एक व्यक्ति भारत और पाकिस्तान की ना सिर्फ तुलना करता दिख रहा है, बल्कि यह भी कह रहा है कि काश पाकिस्तान नहीं बना होता। वह अपने मुल्क के प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी की माँग कर रहा है।

इस वीडियो में पाकिस्तान की एक रिपोर्टर स्थानीय व्यक्ति से कहती है कि जब 1947 में पाकिस्तान बना तो पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगते थे, लेकिन अब टीवी चैनल्स पर नारे लगते हैं, ‘पाकिस्तान से जिंदा भागो, चाहे इंडिया चले जाओ’। इस बात से सहमत व्यक्ति ने कहा, “आप ठीक कह र​ही हैं। काश, पाकिस्तान भारत से अलग नहीं होता। सारा पाकहिंद एक होता।”

उस पाकिस्तानी शख्स ने आगे कहा, “आज हमें भी टमाटर 20 रुपए किलो, चिकन 150 रुपए किलो और पेट्रोल 150 रुपए लीटर मिलता। ये हमारी बदकिस्म​ती थी कि इतने सालों के बाद अल्लाह पाक ने हमें एक मुल्क दिया और उसमें मुस्लिमों वाला कोई सिलसिला ही नहीं है। इससे अच्छे तो वो मोदी हैं। उनके लोग उन्हें कितना मानते हैं। वह भी अपने लोगों के प्रति कितने अच्छे हैं। हमें मिल जाएँ मोदी। हमें न तो इमरान खान चाहिए, न बेनजीर और न ही शरीफ चाहिए। हमें तो केवल प्रधानमंत्री मोदी चाहिए, जो इस मुल्क के टेढ़े लोगों को सीधा कर सके। इस मुल्क को आगे ले जा सकें।”

‘मोदी साहब, ग्रेटमैन हैं’

पाकिस्तानी व्यक्ति रिपोर्टर से आगे कहता है कि भारत दुनिया में पाँचवे नंबर पर आ चुका है। इस पर रिपोर्टर उससे सवाल करती है कि ‘क्या आप इंडिया के साथ मिलजुल कर रहने को तैयार हैं? क्या आप मोदी की हुकूमत को भी कबूल करने के लिए तैयार हैं?’ इसके जवाब में वह नौजवान कहता है, “जी, बिल्कुल तैयार हैं। मोदी साहब, ग्रेट मैन हैं। वो कोई बुरे इंसान थोड़े ही हैं।”

वह आगे कहता है, “इंडिया के मुस्लिम 150 रुपए लीटर पेट्रोल, 150 रुपए किलो चिकन ले रहे हैं। जब रात को आप अपने बच्चों को रोटी नहीं दे सकेंगे तो यही सोचेंगे कि कौन से मुल्क में आप पैदा हो गए हैं। हमारी दिल से दुआ है कि या अल्लाह हमें मोदी दे दो। 8 साल के लिए नरेंद्र मोदी को पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बना दो, जो हमारे मुल्क को सीधा कर दे। पहले तो हम इंडिया के साथ अपनी तुलना करते थे, लेकिन अब इंडिया के साथ हमारी तुलना हो ही नहीं सकती है।”

गौरतलब है कि पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने बीते दिनों कहा था कि उनका मुल्क दिवालिया हो चुका है। वह एक दिवालिया देश के रहने वाले हैं। पाकिस्तान के सियालकोट में 18 फरवरी, 2023 को एक प्राइवेट कॉलेज के दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए आसिफ ने कहा था, “आपने सुना होगा कि पाकिस्तान डिफ़ॉल्ट या दिवालिया होने वाला है। एक मेल्टडाउन होगा, लेकिन यह पहले ही दिवालिया हो चुका है। हम सब दिवालिया देश में रह रहे हैं।”

इसके अलावा सोशल मीडिया पर पाकिस्तान के कई ऐसे वीडियो वायरल हुए हैं, जिनमें लोग आटा पाने के लिए एक-दूसरे से लड़ते हुए नजर आ रहे हैं। इनमें से एक वीडियो में एक आदमी को दूसरे लोगों को खुले सीवर में ढकेलते हुए भी देखा जा सकता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -