Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय6 साल के छात्र ने शिक्षिका को मार दी गोली: अमेरिका के स्कूल की...

6 साल के छात्र ने शिक्षिका को मार दी गोली: अमेरिका के स्कूल की घटना, ‘गन कल्चर’ वहाँ पहले ही बन चुका है गले की फाँस

घटना के बाद स्कूल प्रशासन के तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेस कर इसके बारे में सूचना दी गई। स्कूल के सुपरिटेंडेंट डॉ. जॉर्ज पार्कर ने जानकारी दी कि स्कूल सोमवार को बंद रहेगा।

अमेरिका के वर्जीनिया शहर के एक स्कूल में 6 साल के बच्चे ने क्लास रूम में टीचर पर गोली चला दी। घायल टीचर को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गोली चलाने वाले छात्र को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। घटना में किसी छात्र के घायल होने की खबर नहीं है।

घटना वर्जीनिया के न्यूपोर्ट न्यूज़ इलाके में स्थित रिचनेक एलीमेंट्री स्कूल की बताई जा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, फर्स्ट ग्रेड में पढ़ने वाले एक 6 साल के बच्चे ने शुक्रवार (6 जनवरी, 2023) दोपहर एक टीचर पर गोली चला दी। पुलिस ने गोली चलाने वाले बच्चे को हिरासत में ले लिया है। गोली चलने के बाद स्कूल में अफरा-तफरी मच गई और पुलिस को घटना की जानकारी दी गई।

न्यूपोर्ट न्यूज़ पुलिस डिपार्टमेंट के चीफ स्टीव ड्रू ने जानकारी दी है कि 30 साल की शिक्षिका और आरोपित छात्र के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। कहासुनी के बीच बच्चे ने शिक्षिका पर फायरिंग कर दी। उसने टीचर पर एक राउंड फायर किया। ड्रू ने कहा कि घटना की जाँच की जा रही है शुरुआती जानकारी के मुताबिक, इस घटना में कोई दूसरा छात्र शामिल नहीं है। पुलिस अब यह जानने की कोशिश कर रही है कि 6 साल के बच्चे के पास बंदूक कहाँ से आई और किन हालात में छात्र ने गोली चलाई।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, घटना के बाद स्कूल प्रशासन के तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेस कर इसके बारे में सूचना दी गई। स्कूल के सुपरिटेंडेंट डॉ. जॉर्ज पार्कर ने जानकारी दी कि स्कूल सोमवार को बंद रहेगा। स्कूल के स्टाफ सदमें में हैं। हम स्कूल स्टाफ और बच्चों के मानसिक स्थिति को सामान्य होने के लिए कुछ वक्त देना चाहते हैं। पार्कर ने कहा कि हमें अपने युवाओं के हाथों से बंदूकें दूर रखने की जरूरत है। पार्कर ने कहा कि हमें बच्चों को शिक्षित करने और उन्हें सुरक्षित रखने की जरूरत है। हमें अमेरिका के गन कल्चर को बदलने की जरूरत है।

न्यूपोर्ट न्यूज के मेयर फिलिप जॉन्स ने पत्रकारों से कहा कि आगे इस तरह की घटना न हो हम इस दिशा में कदम उठाने जा रहे हैं। आपको बता दें कि अमेरिकी में हथियार खरीदने को लेकर कोई सख्त कानून या नियम नहीं है। वहाँ हथियार खरीदना दुकान से सामान खरीदकर घर लाने जैसा है। अमेरिका के अलग-अलग राज्यों में आए दिन मास शूटिंग या गोलीबारी की ऐसी घटनाओं के लिए यहाँ के गन कल्चर को जिम्मेदार ठहराया जाता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मांस-मछली से मुक्त हुआ गुजरात का पातिलाना, इस्लाम और ईसाइयत से भी पुराना है इस शहर का इतिहास: जैन मंदिर शहर के नाम से...

शत्रुंजय पहाड़ियों की यह पवित्रता और शीर्ष पर स्थित धार्मिक मंदिर, साथ ही जैन धर्म का मूल सिद्धांत अहिंसा है जो पालिताना में मांस की बिक्री और खपत पर प्रतिबंध लगाने की मांग का आधार बनता है।

US में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी गोली, हमलावर सहित 2 की मौत: PM मोदी ने जताया दुख, कहा- ‘राजनीति में हिंसा की...

गोलीबारी के दौरान सुरक्षाबलों ने हमलावर को मार गिराया। इस हमले में डोनाल्ड ट्रंप घायल हो गए और उनके कान से निकला खून उनके चेहरे पर दिखा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -