Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाज'4 हिंदू महिलाओं का धर्मांतरण कराओ वरना जान से मार देंगे': शौहर के 'लव...

‘4 हिंदू महिलाओं का धर्मांतरण कराओ वरना जान से मार देंगे’: शौहर के ‘लव जिहाद कैंपेन’ की बीवी ने खोली पोल

महिला के मुताबिक उसका शौहर बेंगलुरु की दरगाह का बड़ा फकीर है। वह हिंदू महिलाओं को अपने जाल में फँसाता है। ब्रेनवॉश कर उनका धर्म परिवर्तन करवाता है।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में रहने वाली एक मुस्लिम महिला ने अपने शौहर और सास पर गंभीर आरोप लगाए हैं। महिला ने इंदिरा नगर थाने में पति सैयद हसनैन अशरफ और सास शादिया के खिलाफ लव जिहाद कैंपेन चलाने का केस दर्ज कराया है।

महिला ने पुलिस को बताया कि उसका शौहर और सास गैर मुस्लिम महिलाओं को अपने जाल में फँसाकर उनका धर्म परिवर्तन करवा रहे हैं। उसने बताया कि हसनैन बेंगलुरु में एक दरगाह का सज्जादानशीन (दरगाह का बड़ा फकीर) है। उसको धर्मांतरण के लिए विदेशों से फंडिंग हो रही है। इस काम में उनके रिश्तेदार भी शामिल हैं।

इंस्पेक्टर अजय प्रकाश त्रिपाठी के मुताबिक, महिला ने बताया है कि शौहर ने उसे जान से मारने की धमकी दी है। हसनैन ने उससे कहा है कि चार हिंदू महिलाओं का धर्मांतरण करवाओ। अगर उसने ऐसा नहीं किया तो वह उसके लंदन में रहने वाले भाई समेत पूरे परिवार को खत्म कर देगा। जब महिला ने उसकी बात मानने से इनकार कर दिया, तो उसके शौहर ने उसे पीट-पीटकर घर से निकाल दिया।

हिंदू महिलाओं को फँसाता है

इंस्पेक्टर ने बताया कि खुरमनगर की रहने वाले पीड़ित महिला उम्मे कुलसूम ने आरोप लगाया कि बेंगलुरु में रहने वाला उसका पति हिंदू महिलाओं को अपने जाल में फँसाता है। फिर उन्हें शादी का झाँसा देकर उनका धर्म परिवर्तन कराता है। दरगाह पर हर धर्म के लोग आते हैं, जिसका फायदा उठाकर वह लोगों का ब्रेनवॉश कर उनका धर्म परिवर्तन करवाता है।

गर्भवती थी तो ऋचा से कर ली निकाह

रिपोर्ट्स के मुताबिक पीड़िता ने आपबीती सुनते हुए पुलिस से कहा कि 2019 में उसका निकाह अशरफ से हुआ था। निकाह के कुछ दिनों बाद ही वह उसके साथ मारपीट करने लगा था। उसका पति और सास शादिया हर दिन उस पर दबाव बनाते थे कि वह हिंदू महिलाओं को अपनी दोस्त बनाए और उन दोनों से मिलवाए। जब महिला इसका विरोध करती तो पति उसके पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी देता था। महिला ने आगे कहा, “जब मैं गर्भवती थी, तब उसने ऋचा पाहवा नाम की लड़की से निकाह कर लिया था और उसका नाम बदलकर मदिहा रख दिया था।”

मुझे गर्भपात कराने को कहा

पीड़िता के अनुसार, जब पति और सास का इससे भी मन नहीं भरा तो उन्होंने उससे दहेज की माँग शुरू कर दी। वह कहती है, “गर्भवती होने पर मेरा भ्रूण परीक्षण कराया गया। जैसे ही उन्हें पता चला मेरे गर्भ में बेटी है, उन्होंने मुझे गर्भपात कराने को कहा। साथ ही यह भी बोला कि अगर तू गर्भपात नहीं कराएगी तो उसके पालन-पोषण के लिए 25 लाख रुपए अपने मायके से ला। इस पर लंदन में नौकरी करने वाले मेरे भाई ने 7.50 लाख रुपए भेज कर मेरी बेटी की जान बचाई।”

बता दें कि इस मामले में इंदिरा नगर थाना पुलिस ने धर्म संपरिवर्तन अधिनियम, दहेज प्रताड़ना, जान से मारने की धमकी समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज करके जाँच शुरू कर दी है। इसके साथ ही पुलिस ने यूपी एटीएस को भी सूचित कर दिया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरी दुनिया में अल्लाह की निजामियत कायम करनी है’: IAS इफ्तिखारुद्दीन पर धर्मांतरण को बढ़ावा देने के आरोप, 3 वीडियो वायरल

उत्तर प्रदेश स्थित कानपुर के वरिष्ठ IAS इफ्तिखारुद्दीन के वीडियोज वायरल हुए, जिसमें वो कथित रूप से इस्लामी धर्मांतरण को बढ़ावा देते दिख रहे हैं।

‘किसान विद्रोह’, ‘मालगाड़ी में नरसंहार’, पर्यटन सर्किट: मालाबार में मोपला मुस्लिमों ने हिंदूओं का किया था कत्लेआम, लीपापोती कर रही केरल सरकार

मोपला मुस्लिमों द्वारा मालाबार में किए गए हिंदू नरसंहार को 2021 में 100 वर्ष हो गए हैं। ऐसे में केरल सरकार इन प्रयासों में जुटी है कि कैसे भी इसका जिक्र धो पोंछ कर बराबर हो।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,823FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe