Tuesday, October 26, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापंजाब में टारगेट किलिंग करवाने वाला खालिस्तानी आतंकी सुख बिकरीवाल गिरफ्तार: दुबई से किया...

पंजाब में टारगेट किलिंग करवाने वाला खालिस्तानी आतंकी सुख बिकरीवाल गिरफ्तार: दुबई से किया गया डिपोर्ट

अब पंजाब में टारगेट किलिंग से जुड़े मामलों पर खुलासा हो सकता है। खालिस्तानी आतंकी सुख बिकरीवाल पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम करता था। दुबई में रहकर उसने अपना हुलिया बदल लिया है। अब वह पगड़ी पहनता है और दाढ़ी बढ़ा ली है।

लंबे समय से खालिस्तानी आतंकियों पर शिकंजा कस रही भारत की सुरक्षा एजेंसियों को गुरुवार (दिसंबर 31, 2020) को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए पंजाब में टारगेट किलिंग करवाने वाले मोस्ट वांटेड गैंगस्टर और खालिस्तानी आतंकी सुख बिकरीवाल को सुरक्षा एजेंसियाँ दुबई से डिपोर्ट करके दिल्ली लाई। यहाँ दिल्ली एयरपोर्ट पर उसे दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम ने गिरफ्तार कर लिया है।

अब पंजाब में टारगेट किलिंग से जुड़े मामलों पर खुलासा हो सकता है। खालिस्तानी आतंकी सुख बिकरीवाल पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम करता था। दुबई में रहकर उसने अपना हुलिया बदल लिया है। अब वह पगड़ी पहनता है और दाढ़ी बढ़ा ली है।

पंजाब में टारगेट किलिंग में शामिल था सुख बिकरीवाल

7 दिसंबर को दिल्ली पुलिस ने दो खालिस्तानियों समेत पाँच आतंकवादियों को गिरफ्तार करके दिल्ली में बड़े आतंकी हमले को रोका था। गिरफ्तार आतंकवादियों ने पूछताछ के दौरान पंजाब के शौर्य चक्र विजेता बलविंदर संधू की हत्या में शामिल होने का खुलासा किया था। उन्होंने पुलिस को बताया था कि खालिस्तानी आतंकवादी सुख बिकरीवाल ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के इशारे पर संधू को मारने के लिए उनका इस्तेमाल किया था। ऐसा माना जाता है कि सुख 2016 में नाभा पंजाब की जेल ब्रेकिंग घटना में शामिल था। घटना के बाद वह दुबई भाग गया था।

भारतीय एजेंसियों ने दुबई में सुख के निवास पर छापा मारा

गिरफ्तार आतंकवादियों द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर, दुबई में भारतीय एजेंसियों ने उसके आवास पर छापा मारा। एजेंसी ने उसे 8 दिसंबर को हिरासत में ले लिया। पंजाब में शिवसेना नेता हनी महाजन सहित कई अन्य हिंदू नेताओं पर हमले में भी बिकरीवाल शामिल था। घटना में महाजन के एक पड़ोसी की मौत हो गई, लेकिन महाजन बच गया। बिकरीवाल दुबई में बैठकर आईएसआई और खालिस्तानी आतंकवादियों के बीच ब्रिज का काम कर रहा था।

सुख बिकरीवाल के बारे में कहा जाता है कि उसने भारत में अशांति फैलाने के लिए पंजाब व कश्मीरी आतंकियों से हाथ मिलाया था। वहीं, दिल्ली पुलिस की मानें तो पिछले दिनों दिल्ली के शकरपुर इलाके से गिरफ्तार आतंकियों का मकसद भारत के खिलाफ खालिस्तानी आंदोलन खड़ा करना है। इनमें गैंगस्टर सुख बिकरीवाल पाकिस्तान स्थित खुफिया एजेंसी आइएसआइ का मोहरा था। सुख बीच-बीच में पंजाब में टारगेट किलिंग के लिए आदेश देता था। गैंगस्टर सुख बिकरीवाल पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ का मोहरा है, जो खालिस्तियों की आवाज बना हुआ था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केरल में नॉन-हलाल रेस्तराँ खोलने वाली महिला को बेरहमी से पीटा, दूसरी ब्रांच खोलने के खिलाफ इस्लामवादी दे रहे थे धमकी

ट्विटर यूजर के अनुसार, बदमाशों के खिलाफ आत्मरक्षा में रेस्तराँ कर्मचारियों द्वारा जवाबी कार्रवाई के बाद केरल पुलिस तुशारा की तलाश कर रही है।

असम: CM सरमा ने किनारे किया दीवाली पर पटाखों पर प्रतिबंध का आदेश, कहा – जनभावनाओं के हिसाब से होगा फैसला

असम में दीवाली के मौके पर पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध का ऐलान किया गया था। अब मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा है कि ये आदेश बदलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
131,815FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe