Tuesday, July 23, 2024
Homeसोशल ट्रेंडन अंग्रेजी आती है, न टैटू है-न गर्लफ्रेंड... हार के बाद वायरल हुआ पाकिस्तानी...

न अंग्रेजी आती है, न टैटू है-न गर्लफ्रेंड… हार के बाद वायरल हुआ पाकिस्तानी का दर्द: Video देख नेटिजन्स ले रहे Pak क्रिकेट टीम के मजे

भारत और जिम्बाब्वे से हारने के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों को अपने ही लोगों की आलोचना झेलनी पड़ रही है। इसी बीच एक वीडियो सामने आई है जिसमें पाकिस्तानी युवक ये बता रहा है कि आखिर उनके क्रिकेटर मैच में क्यों हार जाते हैं।

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत और जिम्बाब्वे से हारने के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों को अपने ही लोगों की आलोचना झेलनी पड़ रही है। इसी बीच एक वीडियो सामने आई है जिसमें पाकिस्तानी युवक ये बता रहा है कि आखिर उनके क्रिकेटर मैच में क्यों हार जाते हैं।

युवक कहता है, “हमारे जो लड़के हैं न, बाकी टीमें खेलती हैं आईपीएल, बीबीएल और सब बोलते हैं आपस में अंग्रेजी। उनकी आपस में बातचीत होती है। मैक्सवेल और हार्दिक पांड्या आपस में दोस्त हैं क्योंकि उन्हें अंग्रेजी बोलनी आती है, उनके हाथ में टैटू है, वो लड़कियों से बात करते हैं, आपस में पार्टी करते हैं।”

युवक आगे कहता है, “साड्डे लौंडे, न उन्हें किसी से गल (बात) करनी आती है, न उन्हें अंग्रेजी आती है, न उनके कोई टैटू है, न उन्हें पार्टी करनी आती है, तो जब दुनिया के सारे खिलाड़ी इकट्ठा होते हैं, चिलिंग कर रहे होते हैं, तब हमारे लड़के इनसिक्योर हो जाते हैं, उन्हें अंग्रेजी बोलनी नहीं आती। इंडिया का बच्चा-बच्चा अंग्रेजी बोल रहा है। अब हमारा बंदा जाता है पिच पर। देखता है कि उसके तो टैटू भी है, ग्राउंड में चार गर्लफ्रेंड भी है, उसने तो बाली भी लगाई हुई है, अंग्रेजी भी बोल रहा है। हमारे चूजे- हेलो ब्वॉय डिड वेरी वेल, सर वेरी गुड, आई एम ओके।”

उल्लेखनीय है कि ये वीडियो कब की है, इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। लेकिन मेजर सुरेंद्र पुनिया द्वारा इसे शेयर किए जाने के बाद लोग इस पर जमकर प्रतिक्रिया दे रहे हैं। पाकिस्तानी युवक की यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब शेयर की जा रही है। लोग युवक की बातें सुनकर कह रहे हैं कि इसका मतलब पाकिस्तान की हार के पीछे खिलाड़ियों का गवार होना है। कोई कह रहा है कि अंग्रेजी कितनी जरूरी है ये बात सुन लो।

दिलचस्प बात ये है कि इस पाकिस्तानी का रिएक्शन सुनने के बाद जहाँ एक तरह कुछ यूजर ये कह रहे हैं कि क्रिकेटर होने के लिए ये सब जरूरी नहीं, तो वहीं कुछ यूजर्स ऐसे भी है जो इस पाकिस्तानी की बातें सुन कह रहे हैं कि इसे तो एक्सपर्ट होना चाहिए था। एक यूजर ने कहा कि यानी कि टैटू, अंग्रेजी बोलना, 4-4 गर्लफ्रेंड बनाना ही एक खिलाड़ी को महान क्रिकेटर बनाता है।

वहीं कुछ यूजर कह रहे हैं कि अगर इसी तरह मजहबी स्कूलों में लड़कों को पढ़ाया जाएगा तो वो अंग्रेजी कहाँ से सीखेंगे। लड़कों के दिमाग में गलत बातें भरकर उन्हें आतंकवाद की राह में ढकेल दिया जाता है। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -