Tuesday, July 23, 2024
Homeसोशल ट्रेंडक्या सच में मर गया आतंकी मसूद अजहर? सोशल मीडिया पर हो रहे दावे-...

क्या सच में मर गया आतंकी मसूद अजहर? सोशल मीडिया पर हो रहे दावे- अज्ञात लोगों ने बम ब्लास्ट में निपटाया, तस्वीरें और वीडियो भी कर रहे हैं शेयर

एक अन्य हैंडल ने तो वीडियो तक शेयर कर दिया, जिसमें एक व्यस्त ट्रैफिक वाले इलाके में बम ब्लास्ट होता है। साथ ही ऑक्सीजन मास्क पहले एक मरीज की तस्वीर डाली गई, जिसे मसूद अजहर बताया जा रहा है।

भारत में सोशल मीडिया पर एक बार फिर से ‘अज्ञात लोग (Unknown Men)’ ट्रेंड हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि आतंकवादी मसूद अजहर मारा गया है। दावा है कि ‘अज्ञात’ ने उसी तरह मसूद अजहर को भी निपटाया है जैसे हाल में पाकिस्तान में कई आतंकी मारे गए हैं।

इस खबर की पुष्टि नहीं हुई है। आपको बता दें कि दिसंबर 1999 में भारत के विमान को हाईजैक कर कंधार ले जाया गया है, उस दौरान यात्रियों के बदले जिन 3 आतंकियों को छोड़ा गया था – उनमें मसूद अजहर भी शामिल था।

मसूद अजहर के मरने की खबरें सोशल मीडिया पर तैरने के बाद भले इसको लेकर टिप्पणियों की बाढ़ आ गई है। भले यूजर्स ‘अज्ञात’ को धन्यवाद दे रहे हैं। लेकिन उसकी मौत पर अभी तक पाकिस्तान की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। पाकिस्तान की मीडिया की ओर से भी इस संबंध में कुछ नहीं कहा गया है। सोशल मीडिया पर सक्रिय पाकिस्तान के पत्रकारों ने भी इस संबंध में कोई टिप्पणी नहीं की है।

सोशल मीडिया के दावों पर कुछ भारतीय मीडिया संस्थानों ने रिपोर्ट की है, लेकिन इनमें भी उसकी मौत की पुष्टि नहीं हुई है। दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तान में ‘अज्ञातों’ ने एक बम ब्लास्ट को अंजाम दिया है, जिसमें मसूद अजहर की मौत हो गई। सोशल मीडिया में कई वीडियो और तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जिस पर लोग मजेदार कमेंट्स भी कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि सोमवार (1 जनवरी, 2024) को तड़के सुबह 5 बजे हुए बम ब्लास्ट में वो मारा गया। बताया गया कि वो उस समय बहावलपुर मस्जिद में जा रहा था। मसूद अज़हर जैश-ए-मुहम्मद का मुखिया था।

‘टाइम्स अलजेब्रा’ नामक ‘X’ (पूर्व में ट्विटर) हैंडल ने कुछ तस्वीरें भी शेयर की। इनमें से एक तस्वीर में एक कार के परखच्चे उड़े हुए दिखाई दे रहे हैं। वहीं दूसरी तस्वीर में बम ब्लास्ट के बीच लोगों को भागते हुए देखा जा सकता है, साथ ही वहाँ पुलिस भी दिख रही है। एक अन्य हैंडल ने तो वीडियो तक शेयर कर दिया, जिसमें एक व्यस्त ट्रैफिक वाले इलाके में बम ब्लास्ट होता है। साथ ही ऑक्सीजन मास्क पहले एक मरीज की तस्वीर डाली गई, जिसे मसूद अजहर बताया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर तो यूजरों ने ‘अज्ञात लोगों’ को धन्यवाद देना भी शुरू कर दिया और कहने लगे कि नए साल पर भी ये ‘Unknown Men’ छुट्टी नहीं ले रहे हैं और अपना काम कर के खुशखबरी दे रहे हैं। वहीं कुछ बॉलीवुड के मीम्स भी शेयर हो रहे हैं। लोग कह रहे हैं कि मोहम्मद ज़ुबैर, राना अय्यूब और अरफ़ा खानम शेरवानी जैसे भारत के कथित ‘पत्रकारों’ को बहुत दुःख हुआ होगा। वहीं कई लोगों ने भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल की तस्वीर भी शेयर की।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

‘कागज़ पर नहीं, UCC को जमीन पर उतारिए’: हाईकोर्ट ने ‘तीन तलाक’ को बताया अंधविश्वास, कहा – ऐसी रूढ़िवादी प्रथाओं पर लगे लगाम

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने कहा है कि समान नागरिक संहिता (UCC) को कागजों की जगह अब जमीन पर उतारने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -