Wednesday, April 14, 2021

विषय

बांग्लादेश

‘इस देश को काफिरों से मुक्त कराना होगा…’: दिल्ली पर जिस मौलाना को चाहिए कब्जा, उसके मोबाइल में मिले एडल्ट कंटेंट

हाल ही में बांग्लादेश में गिरफ्तार किए गए कट्टरपंथी इस्लामी उपदेशक रफीकुल इस्लाम मदनी के मोबाइल से RAB को एडल्ट कंटेंट मिले हैं।

कद: 3 फीट 4 इंच, उम्र: 26 साल: 8 भाई-बहनों में सबसे छोटे पर सबसे ‘जहरीले’ रफीकुल इस्लाम मदनी से मिलिए

बांग्लादेश का कट्टरपंथी संगठन हिफाजत-ए-इस्लाम। मोदी विरोधी हिंसा का सूत्रधार। इसी संगठन से जुड़ा है रफीकुल इस्लाम मदनी।

जुमे की नमाज के बाद हिफाजत-ए-इस्लाम के कट्टरपंथियों ने हिंसा के लिए उकसाया: हमले में 12 घायल

मस्जिद के इमाम ने बताया कि उग्र लोगों ने जुमे की नमाज के बाद उनसे माइक छीना और नमाजियों को बाहर जाकर हिंसा का समर्थन करने को कहने लगे। इसी बीच नमाजियों ने उन्हें रोका तो सभी हमलावरों ने हमला बोल दिया।

भारत के 7 पड़ोसी देश: मुस्लिम दिन दूने रात चौगुने, कट्टरपंथ का बोलबाला; हिंदुओं की हालत दिनोंदिन बदतर

CDPHR ने भारत के 7 पड़ोसी देशों में मानवाधिकार की स्थिति पर रिपोर्ट जारी की है। इन देशों में हिंदुओं की स्थिति पर चिंता जताई गई है।

मिलिए येल के प्रोफेसर मुबारक से, बांग्लादेश में मंदिरों पर इस्लामी कट्टरपंथियों के हमले का दोष मोदी के मत्थे डाला

बांग्लादेश में इस्लामी कट्टरपंथियों की हिंसा को जायज ठहराने की कोशिश में येल के प्रोफेसर अहमद मुशफिक मुबारक ने इसके लिए पीएम मोदी को जिम्मेदार बताया है।

माँ सरस्वती की प्रतिमा का सिर धड़ से अलग, भुजाएँ तोड़ी: बांग्लादेश के एक और मंदिर में तोड़फोड़-आगजनी

बांग्लादेश में एक और मंदिर को निशाना बनाए जाने की घटना सामने आई है। बोगुरा जिले के धूनोत उपजिला के एक मंदिर में मॉं सरस्वती की प्रतिमा तोड़ दी गई।

बांग्लादेश: 400 साल पुराने श्मशान और राधागोबिंद आश्रम में लगाई आग, मूर्तियाँ-रथ भी जलकर खाक

इससे पहले PM मोदी की यात्रा के विरोध में कट्टरपथियों ने माँ काली और भगवान कृष्ण की मूर्ति तोड़ दी थी।

PM मोदी के विरोध में हिफाजत-ए-इस्लाम ने माँ काली और भगवान कृष्ण की मूर्ति तोड़ी: 10 की मौत, धू-धू कर जले पुलिस स्टेशन

बांग्लादेश में इस्लामी चरमपंथी संगठन हिफाजत ए इस्लाम ने पीएम मोदी के विरोध में बीते चार दिन से हिंसा कर रहा है। उसने माँ काली और भगवान की कृष्ण की मूर्तियों को तोड़ दिया।

बांग्लादेश में मोदी दौरे के बाद कट्टरपंथियों ने हिंदू मंदिरों को बनाया निशाना, ट्रेनों-बसों को भी किया क्षतिग्रस्त

प्रदर्शनकारियों ने विभिन्न सरकारी कार्यालयों में अंधाधुंध आग लगाई और प्रेस क्लब पर भी हमला किया गया। प्रेस क्लब के अध्यक्ष सहित कई घायल हुए।

मदरसा-मौलवी, सऊदी शेखों की फंडिंग, ISI की कठपुतली: मोदी विरोधी हिफाजत-ए-इस्लाम के बारे में जानें सब कुछ

हिंसा, आगजनी, पथराव... हिफाजत को बांग्लादेश में चाहिए इस्लामी हुकूमत। उसे पाकिस्तान से ऑर्डर मिलते हैं और पैसा सऊदी अरब के कट्टरपंथियों से। इसलिए मोदी और हिंदू उनके निशाने पर हैं।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,176FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe