Wednesday, March 3, 2021
Home फ़ैक्ट चेक मीडिया फ़ैक्ट चेक बिस्किट लाने गए रिजवान को UP पुलिस ने मारा, हुई मौत: वामपंथी मीडिया ने...

बिस्किट लाने गए रिजवान को UP पुलिस ने मारा, हुई मौत: वामपंथी मीडिया ने फैलाई खबर, डॉक्टर ने बताई सच्चाई

"मैंने उनसे जब पूछा कि मोटरसाइकिल पर ऐसे क्यों बैठते हो कि ऐसी चोट लगी तो घर पर किसी ने भी पुलिस के मारने की बात नहीं कही, ना ही पुलिस के मारने जैसी बात के बारे में बाहर मोहल्ले में किसी को पता है। घर पर भी बस मोटरसाइकल से गिरने की ही बात थी।"

अम्बेडकरनगर में बिस्किट लेने दुकान पर गए रिजवान (Rizwan) की पुलिस की पिटाई से मौत की खबर का अम्बेडकरनगर पुलिस ने खंडन किया है। पुलिस ने रिजवान का इलाज करने वाले डॉक्टर का वीडियो जारी किया है। इसमें डॉक्टर ने स्पष्ट किया है कि रिजवान की मौत पुलिस के मारने से नहीं बल्कि मोटरसाइकल से गिरने से हुई थी।

दावा: बिस्कुट लेने गए थे रिजवान जब पुलिस की पिटाई से हुई मौत

हाल ही में कुछ प्रमुख मीडिया संस्थानों ने एक खबर प्रकाशित की, जिसमें बताया गया था कि उत्तर प्रदेश के अम्बेडकरनगर जिले में 19 साल के रिजवान नाम के एक युवक की मौत हुई। उनके परिवार के लोगों का आरोप था कि रिजवान अपने घर से जरूरी सामान लेने के लिए निकले थे, जिसके बाद पुलिस ने उनकी पिटाई की थी।

यहाँ तक कि रिजवान की मौत के मामले में मृतक के पिता इसराइल (Israil) ने टांडा कोतवाली में अज्ञात पुलिसकर्मियों के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई तक की माँग की थी।

मृतक रिजवान के पिता ने कहा कि अम्बेडकरनगर के छज्जापुर इलाके का निवासी रिजवान वहाँ के ताज टॉकीज के पास बिस्किट लेने गए था। इसी दौरान वहाँ पुलिसकर्मियों ने उनकी पिटाई कर दी, जिसके कारण उन्हें गंभीर चोट आई। उनके पिता का कहना था कि घायल अवस्था में ही युवक को हालत बिगड़ने पर तत्काल जिला अस्पताल शिफ्ट कर दिया गया था। जहाँ इलाज के दौरान ही शुक्रवार रात रिजवान की मौत हो गई।

क्या है सच्चाई

अम्बेडकरनगर पुलिस रिजवान के साथ ही उनके पिता इसराइल द्वारा पुलिस पर लगाए गए आरोपों की सच्चाई उनके परिवार के डॉक्टर के माध्यम से सामने लेकर आई है। अम्बेडकरनगर पुलिस ने ट्विटर पर एक वीडियो को तीन भागों में ट्वीट किया है, जिसमें रिजवान के घर के डॉक्टर ने खुद बताया है कि रिजवान चरस-भाँग का नशा करता था और उनकी मौत पुलिस की पिटाई से नहीं हुई।

अब्दुल हक़ीम ने बताया कि उनकी क्लीनिक छज्जापुर में है। रिजवान की फूफी उनके पास गई थीं, जिसने बताया कि रिजवान की मोटर साइकल से गिरने के बाद चोट आई है। जब डॉक्टर अगली सुबह रिजवान के घर उसे देखने गए तो उनके दाहिने पैर में जाँघ के हिस्से में चोट लगी थी, जबकि बाएँ पैर में सूजन थी।

डॉक्टर ने कहा कि उन्होंने चोट की गंभीरता को देखते हुए रिजवान और उनके परिवार को एक्स-रे लेने और पूरा इलाज कराने के लिए अस्पताल जाने की सलाह दी। लेकिन पुलिस के मारने की बात उन्होंने नहीं की। डॉक्टर ने कहा:

मैंने उनसे जब पूछा कि मोटरसाइकिल पर ऐसे क्यों बैठते हो कि ऐसी चोट लगी तो घर पर किसी ने भी पुलिस के मारने की बात नहीं कही, ना ही पुलिस के मारने जैसी बात के बारे में बाहर मोहल्ले में किसी को पता है। घर पर भी बस मोटरसाइकल से गिरने की ही बात थी।

इसके आगे इस वीडियो को बना रहे व्यक्ति ने डॉक्टर से मृतक रिजवान के आचरण के बारे में पुछा तो उन्होंने कहा- “लड़के को उसके बाप ने घर से निकाला हुआ था। वो ठेला चलाता था और मोहल्ले में रहता था, घर नहीं जाता था। उसके बारे में ये खबरें भी हैं कि चरस वगैरह भी पीता है, या जो इंजेक्शन होते हैं नशे के उन्हें भी लेता है। बहुत दुबला-पतला था। एक झापड़ मारो तो मर जाएगा।”

‘रिजवान को मोटरसाइकल से गिरने से जो चोट लगी थी, उससे वो मर सकता था’

पुलिस ने बाईट देते हुए कहा है- “स्थानीय डॉक्टर का बयान लिया गया है, CCTV भी जाँच की गई, लेकिन पुलिस द्वारा पिटाई की बात कहीं भी सामने नहीं आई है। मृतक की पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट भी आ चुकी है, जिसमें उनके शरीर पर कहीं भी चोट या लाठी का निशान नहीं था। उनके फेफड़े और दिल में इन्फेक्शन था और जो मोटरसाइकल से गिरने की बात आई थी, वह एकदम सही थी।”

The Hindu, The Telegraph और कश्मीर वाला ने लगाए पुलिस पर आरोप

रिजवान नाम के इस युवक की बात पर तत्परता से ‘संज्ञान’ लेने वाले द टेलीग्राफ और द हिन्दू ने इस खबर में पुलिस पर आरोप लगाए थे। उल्लेखनीय है कि ये वही टेलीग्राफ है, जिसे कल ही एक ऐसी खबर में आरएसएस को बदनाम करने की साजिश करते हुए देखा गया, जिसमें आरोपित एक मुस्लिम युवक था।

अक्सर देखा जाता है कि इस प्रकार की घटनाओं में महज मुस्लिम समुदाय का जिक्र होने के कारण टेलीग्राफ जैसे वामपंथी समाचार पत्र पुलिस से लेकर समाज के एक वर्ग को भी कटघरे में खड़े कर देते हैं। हालाँकि, हर बार इसी तरह से और इतनी जल्दी सच्चाई सामने नहीं आ पाती है।

रिजवान के पिता इजराइल ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए विक्टिम कार्ड खेलने की कोशिश की, जिसमें उनका साथ देने के लिए वामपंथी मीडिया हमेशा तैयार बैठा रहता है। खासतौर पर देशव्यापी बंद के दौरान मीडिया ने पुलिस के आचरण को गलत साबित करने के अथक प्रयास किए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अनुराग कश्यप और तापसी पन्नू समेत कई दिग्गजों के 22 ठिकानों पर इनकम टैक्स की रेड, फैंटम फिल्म्स से जुड़ा है मामला

मुंबई में बॉलीवुड की कुछ बड़ी हस्तियों के घर बुधवार को इनकम टैक्स (IT) डिपार्टमेंट का छापा पड़ा है। इनमें एक्ट्रेस तापसी पन्नू, निर्माता अनुराग कश्यप, विकास बहल और मधु मंटेना शामिल हैं।

तिरंगा यात्रा निकालने और हिन्दुओं के घर के सामने बीफ फेंकने के विरोध पर मारी गोली: RSS कार्यकर्ता ने याद किया वो मंजर

दिसंबर 2019 की वो घटना याद होगी, जब बीर बहादुर सिंह नामक RSS कार्यकर्ता को कोलकाता के मेटियाब्रुज में गोली मारी गई थी। सुनिए क्या कहते हैं वो।

जिस दरगाह को CM ममता ने दिए ₹2.60 करोड़, उस मौलाना के कार्यकर्ता के घर से मिले बम-बंदूक: ISF का जियारुल फरार

पश्चिम बंगाल के विवादित मौलाना अब्बास सिद्दीकी की पार्टी 'इंडियन सेक्युलर फ्रंट (ISF)' के एक कार्यकर्ता के यहाँ से बम मिले हैं।

‘तुम पंजाब के खिलाफ हो, रोटी कैसे पचती है?’: राजदीप ने अजय देवगन की कार रोक बकी गालियाँ, गिरफ्तारी के बाद मुंबई में बेल

मुंबई में एक व्यक्ति ने अजय देवगन की कार रोकी और उनके खिलाफ टिप्पणी करने लगा, जिसके बाद मुंबई पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। मिली जमानत।

‘चार्टर्ड प्लेन में घूमने वाले, चुनाव के समय साइकल से आते हैं’ – प्रियंका के भाषण पर लोग शेयर कर रहे राहुल का वीडियो

एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि प्रियंका गाँधी उनके बारे में ही बात कर रही हैं, जो पोगो कार्टून चैनल देखते हैं और फिर ट्वीट करते हैं।

BBC के शो में PM नरेंद्र मोदी को माँ की गंदी गाली, अश्लील भाषा का प्रयोग: किसान आंदोलन पर हो रहा था ‘Big Debate’

दिल्ली में चल रहे 'किसान आंदोलन' को लेकर 'BBC एशियन नेटवर्क' के शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी (माँ की गाली) की गई।

प्रचलित ख़बरें

‘प्राइवेट पार्ट में हाथ घुसाया, कहा पेड़ रोप रही हूँ… 6 घंटे तक बंधक बना कर रेप’: LGBTQ एक्टिविस्ट महिला पर आरोप

LGBTQ+ एक्टिविस्ट और TEDx स्पीकर दिव्या दुरेजा पर पर होटल में यौन शोषण के आरोप लगे हैं। एक योग शिक्षिका Elodie ने उनके ऊपर ये आरोप लगाए।

‘बिके हुए आदमी हो तुम’ – हाथरस मामले में पत्रकार ने पूछे सवाल तो भड़के अखिलेश यादव

हाथरस मामले में सवाल पूछने पर पत्रकार पर अखिलेश यादव ने आपत्तिजनक टिप्पणी की। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद उनकी किरकिरी हुई।

आगरा से बुर्के में अगवा हुई लड़की दिल्ली के पीजी में मिली: खुद ही रचा ड्रामा, जानिए कौन थे साझेदार

आगरा के एक अस्पताल से हुई अपहरण की यह घटना सीसीटीवी फुटेज वायरल होने के बाद सामने आई थी।

‘बीवी के सामने गर्लफ्रेंड को वीडियो कॉल करता था शौहर, गर्भ में ही मर गया था बच्चा’: आयशा की आत्महत्या के पीछे की कहानी

राजस्थान की ही एक लड़की से आयशा के शौहर आरिफ का अफेयर था और आयशा के सामने ही वो वीडियो कॉल पर उससे बातें करता था। आयशा ने कर ली आत्महत्या।

सपा नेता छेड़खानी भी करता है, हत्या भी… और अखिलेश घेर रहे योगी सरकार को! आरोपित के खिलाफ लगेगा NSA

मृतक ने गौरव शर्मा नाम के आरोपित (जो सपा नेता भी है) के खिलाफ अपनी बेटी के साथ छेड़छाड़ की शिकायत पुलिस थाने में दर्ज कराई थी।

BBC के शो में PM नरेंद्र मोदी को माँ की गंदी गाली, अश्लील भाषा का प्रयोग: किसान आंदोलन पर हो रहा था ‘Big Debate’

दिल्ली में चल रहे 'किसान आंदोलन' को लेकर 'BBC एशियन नेटवर्क' के शो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी (माँ की गाली) की गई।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,216FansLike
81,880FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe