Tuesday, July 23, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेकचाइनीज माँझे से उज्जैन में छात्रा की मौत के बाद MP पुलिस ने चलाया...

चाइनीज माँझे से उज्जैन में छात्रा की मौत के बाद MP पुलिस ने चलाया अब्दुल वहाब के घर पर JCB: फैक्ट चेक

नगर पुलिस अधीक्षक पल्लवी शुक्ला ने बताया कि महाकाल पुलिस ने अब्दुल जब्बार निवासी उपकेश्वर चौक, टोपखाना के चुलबुल पतंग सेंटर से चाइना डोर की 26 चक्रियाँ जब्त की गई हैं।

मध्य प्रदेश के उज्जैन में शनिवार (15 जनवरी 2022) को दोपहिया वाहन से जा रही एक छात्रा के गले में चाइनीज माँझा फँस गया, जिससे उसका गला बुरी तरह कट गया। राहगीर उसे समीप स्थित निजी अस्पताल लेकर पहुँचे। हालाँकि, खून अधिक बहने से छात्रा की मौत हो गई। इस घटना के बाद हुई कार्रवाई को सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक बताया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर किया जाने वाला दावा

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे पोस्ट में अहमद खबीर ने दावा किया कि माँझे से एक छात्रा की मौत के बाद पुलिस और नगर निगम की टीम ने माँझा बेचने वाले दुकानदार “अब्दुल वहाब” के घर पर JCB चलवा दी। इसके साथ ही उसने शिवराज सरकार के इंसाफ पर भी निशाना साधा। 

वहीं रेडियो मिर्ची’ की RJ सायमा ने भी इसे सरकार की सांप्रदायिक कार्रवाई करार दी। उनका कहना था कि इस कार्रवाई को वैध तरीके से अंजाम नहीं दिया गया। हालाँकि बाद में RJ सायमा ने यह कहते हुए अपना ट्वीट डिलीट कर दिया कि यह कार्रवाई तीन अलग-अलग धर्म के दुकानदारों पर हुई। इसलिए इसे सांप्रदायिक नहीं कहा जा सकता। हालाँकि, उनका कहना था कि संपत्ति के नष्ट किए जाने को जस्टिफाय नहीं किया जा सकता।

वहीं स्वतंत्र पत्रकार अशरफ हुसैन ने इस कार्रवाई को साझा करते हुए लिखा, “मध्य प्रदेश के उज्जैन में चाइनीज माँझे से एक छात्रा की मौत के बाद पुलिस और नगर निगम की टीम ने माँझा बेचने वाले दुकानदार “अब्दुल वहाब” के घर को अतिक्रमित बताते हुए उस पर JCB चलवा दी। मेरा सवाल ये है कि आखिर चाइना से ये माँझे आते कैसे हैं? और उन व्यापारियों पर कार्रवाई क्यों नही…”

पत्रकार वसीम अकरम त्यागी ने भी इसे सांप्रदायिक करार देते हुए लिखा, “मध्य प्रदेश के उज्जैन मे मकर सक्रांति के त्यौहार पर होने वाली पतंगबाजी मे चाइनीज माँझे की चपेट में आने से युवती की जान चली गई। इसके बाद मध्य प्रदेश पुलिस ने कार्रवाई के नाम पर पतंग बेचने वाले मुस्लिम दुकानदार के घर को ढहा दिया। लेकिन माँझा बनाने वालो पर कोई एक्शन?”

सच क्या है?

चाइनीज माँझा से छात्रा की मौत के बाद रविवार (16 दिसंबर, 2022) को पुलिस-प्रशासन ने शहर में तीन बड़ी कार्रवाई की। प्रतिबंधित चाइना डोर बेचने वाले तीन दुकानदारों के घर और एक दुकान को भी तोड़ा गया। इस दौरान भारी पुलिस बल मौजूद रहा। नगर पुलिस अधीक्षक पल्लवी शुक्ला ने बताया कि महाकाल पुलिस ने अब्दुल जब्बार निवासी उपकेश्वर चौक, टोपखाना के चुलबुल पतंग सेंटर से चाइना डोर की 26 चक्रियाँ जब्त की गई हैं। रविवार को नगर निगम की टीम ने उनके तीन मंजिला मकान और दुकान के अवैध निर्माण को तोड़ा। कार्रवाई के दौरान अब्दुल के परिजनों और निवासियों ने इसका विरोध किया। फिर भी कार्रवाई नहीं रुकी।

दूसरी कार्रवाई विजय भावसार के घर पर हुई। शास्त्री नगर स्थित गली नंबर दो में रहने वाले विजय भावसार घर के बाहर किराना दुकान चलाते हैं। नीलगंगा पुलिस ने उसकी दुकान से चाइना डोर की नौ चक्रियाँ जब्त की थीं। विजय ने नगर निगम की अनुमति के बिना घर के बाहर अवैध रूप से दुकान बना ली थी। निगम की टीम ने जेसीबी से निर्माण को धराशायी किया।

इसी तरह इंदौर गेट स्थित मजहर अली का बड़ा निवासी ऋतिक जाधव के पास से महाकाल पुलिस ने चाइना डोर की 50 चक्रियाँ जब्त की थीं। रविवार को उनके कच्चे मकान को भी तोड़ दिया गया। कार्रवाई के दौरान परिजन गुहार लगाते रहे, हालाँकि किसी अधिकारी ने उनकी नहीं सुनी।

गला कटने से मौत

बता दें कि शनिवार को 11वीं की छात्रा नेहा अंजना फ्रीगंज के जीरो प्वाइंट ब्रिज से दोपहिया वाहन से गुजरते समय चाइना डोर की चपेट में आ गई। डोर से गला काटने से उसकी मौत हो गई। इसके बाद प्रशासन और पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गया में विष्णुपद मंदिर, बोधगया महाबोधि मंदिर कॉरिडोर: काशी विश्वनाथ के जैसा बजट, बिहार से लेकर उड़ीसा तक टूरिज्म पर बड़े ऐलान

केंद्रीय वित्त मंत्री ने कहा, "मैं प्रस्ताव करती हूँ कि बिहार में राजगीर और नालंदा के लिए एक व्यापक विकास पहल की जाएगी। हम ओडिशा में पर्यटन को बढ़ावा देंगे।"

₹3 लाख तक की आय पर 0% टैक्स, स्टैंडर्ड डिडक्शन ₹50000 से ₹75000 हुआ: जानिए करदाताओं के लिए बजट 2024 में क्या-क्या, TDS भरने...

3 लाख रुपए तक की आय पर 0%, 7 लाख तय की आय पर 5%, 10 लाख तक की आय पर 10%, 12 लाख तक की आय पर 15%, 15 लाख तक की आय पर 20% और इससे ऊपर की आय पर 30% टैक्स लगेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -