Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयधर्म और संस्कृतिहर साल राम मंदिर में 5 करोड़ श्रद्धालुओं के आने का अनुमान, चल रहे...

हर साल राम मंदिर में 5 करोड़ श्रद्धालुओं के आने का अनुमान, चल रहे ₹85000 करोड़ के विकास कार्य: अमेरिका से आई रिपोर्ट, बताया – अयोध्या में खड़ी हो रही पूरी की पूरी इंडस्ट्री

रिपोर्ट का कहना है कि अयोध्या में लगभग ₹85,000 करोड़ के विकास प्रोजेक्ट वर्तमान में चल रहे हैं। इसके अंतर्गत अयोध्या को बाकी शहरों से जोड़ने वाली सड़कें, नए एयरपोर्ट और घाटों का विकास लेकर शहर के अंदर का सौंदर्यीकरण शामिल है।

अयोध्या में राम जन्मभूमि पर रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के साथ ही यहाँ का विकास कार्य भी तेज़ी से हो रहे हैं। भक्तों की भारी भीड़ अभी से अयोध्या में दर्शन के लिए पहुँच रही है। अयोध्या भारत के हवाई नक़्शे पर भी आ चुका है। अब एक रिपोर्ट में बताया गया है कि इन बदलावों के बाद अब अयोध्या में हर साल लगभग 5 करोड़ श्रद्धालु आएँगे।

अयोध्या के विकास और आने वाले सुनहरे भविष्य के विषय में अमेरिकी फर्म जेफरीस ने यह रिपोर्ट जारी की है। जेफरीस ने कहा है कि प्राण प्रतिष्ठा के बाद 5 करोड़ श्रद्धालुओं के हर साल यहाँ आने की सम्भावना है। इन श्रद्धालुओं के यहाँ आने के पीछे अयोध्या में किए जा रहे समावेशी विकास कार्य हैं।

रिपोर्ट का कहना है कि अयोध्या में लगभग ₹85,000 करोड़ के विकास प्रोजेक्ट वर्तमान में चल रहे हैं। इसके अंतर्गत अयोध्या को बाकी शहरों से जोड़ने वाली सड़कें, नए एयरपोर्ट और घाटों का विकास लेकर शहर के अंदर का सौंदर्यीकरण शामिल है। रिपोर्ट का कहना है कि इसके प्रभाव से अयोध्या में नए होटलों समेत पूरी एक इंडस्ट्री खड़ी हो रही है।

रिपोर्ट का कहना है कि अयोध्या में इन सब निर्माण गतिविधियों की वजह से वहाँ सीमेंट फैक्ट्रियों की संख्या भी बढ़ेगी। इसके अनुसार धार्मिक पर्यटन अभी भी भारत में पर्यटन का सबसे बड़ा स्रोत है। अयोध्या के ही विकास से भारत की जीडीपी भी में बड़ा फर्क पड़ेगा।

बताया गया है कि अगले 10 वर्षों (2033) तक भारत की GDP में टूरिज्म क्षेत्र का योगदान 443 बिलियन डॉलर (लगभग ₹37 लाख करोड़) होगा। यह कोरोना काल से पहले 193 बिलियन डॉलर (लगभग ₹16 लाख करोड़) था। ऐसे में दस वर्षों में काफी बढ़त की सम्भावना नजर आ रही है।

अयोध्या में आने वाले श्रद्धालु यहाँ आकर रुके और बाकी जगह भी घूमें इसके लिए भी प्रयास जारी हैं। यहाँ अभी 17 होटल हैं और 73 और बनने हैं। इनमें से लगभग 40 का निर्माण कार्य जारी है। भारत की बड़ी होटल चेन पहले ही अयोध्या में आकर अपने होटल स्थापित करने के प्लान बना चुकी हैं।

भारतीय स्टेट बैंक’ (SBI) ने भी इस सम्बन्ध में एक रिपोर्ट दी है। उसने बताया है कि मंदिर के कारण बढ़ी हुई गतिविधियों से उत्तर प्रदेश सरकार को इस वित्त वर्ष में लगभग ₹25,000 करोड़ का अतिरिक्त राजस्व मिलेगा। इससे उत्तर प्रदेश सरकार को एक साल के भीतर ₹4 लाख करोड़ का कर संग्रह के ऊपर का आँकड़ा छूने में सहायता मिलेगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -