Tuesday, September 21, 2021
Homeविविध विषयमनोरंजन'आलिया ने किया बुर्के वाली का रोल, तभी लिबरांडुओं ने दिया अवॉर्ड... अगले साल...

‘आलिया ने किया बुर्के वाली का रोल, तभी लिबरांडुओं ने दिया अवॉर्ड… अगले साल वेश्याओं की दलाली के लिए मिलेगा’

"माँ-बाप ने एक्टिंग भले ही न सिखाया हो मगर जिहादी राजनीति में उन्हें पूरी ट्रेनिंग दी गई है। भले ही इसके लिए नेशनलिज्म और देशभक्ति की माँ-बहन एक हो जाए।"

हाल ही में हुए फिल्मफेयर अवॉर्ड समारोह की ख़ासी आलोचना हो रही है। जावेद अख्तर की बेटी ज़ोया अख्तर की फिल्म ‘गली बॉय’ को फिल्मफेयर में 13 अवॉर्ड्स दिया गया, जिसके लिए लोग ख़ासे नाराज़ दिखे। रणवीर सिंह और आलिया भट्ट ने इस फ़िल्म में लीड रोल प्ले किया था और दोनों को ही बेस्ट अभिनेता और अभिनेत्री का अवॉर्ड मिला। आलिया भट्ट ने इस फ़िल्म में बुर्का पहनने वाले एक मुस्लिम युवती का किरदार अदा किया था। फ़िल्म के गाने ‘अपना टाइम आएगा’ को ‘केसरी’ के गाने ‘तेरी मिट्टी’ पर तरजीह दी गई, जिससे गीतकार मनोज मुन्तशिर ने अवॉर्ड शोज को भी अलविदा कह दिया।

अब कंगना रनौत की बहन रंगोली चंदेल ने भी फिल्मफेयर अवॉर्ड्स की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े किए हैं। इस बार कंगना रनौत को भी ‘मणिकर्णिका’ में रानी लक्ष्मीबाई के उनके किरदार के लिए ‘सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री’ के खिताब के लिए नॉमिनेट किया गया था लेकिन उन्हें ये अवॉर्ड मिल नहीं सका। उनकी बहन रंगोली ने कहा कि आलिया ने ‘गली बॉय’ में एक बुर्के वाली का किरदार निभाया था, ‘लिबरांडुओं’ के लिए इतना ही काफ़ी था और उन्हें लगातार दूसरे साल ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ के अवॉर्ड से नवाजा गया।

बकौल रंगोली, आलिया भट्ट अपनी अगली फ़िल्म में एक दलाल (कोठे वाली, वेश्याओं की दलाली करने वाली) का रोल प्ले कर रही हैं, जो गंगू बाई के जीवन पर आधारित है। रंगोली ने हुसैन ज़ैदी की किताब का हवाला देते हुए बताया कि गंगू बड़े गैगस्टर्स को लड़कियाँ सप्लाई करती थी और कहा जाता है कि वो देश के प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की भी दोस्त थी।

रंगोली ने दावा किया कि इस किरदार को प्ले करने के कारण आलिया को अगले वर्ष भी फिल्मफेयर ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ का अवॉर्ड दे ही डालेगा। रंगोली ने ट्विटर पर लिखा:

“आलिया भट्ट ‘माँ आनंद शीला’ का रोल भी प्ले करने वाली हैं। वो एक सजायाफ्ता अपराधी रही हैं। उन्होंने हर धर्म की न सिर्फ़ धज्जियाँ उड़ाईं थीं बल्कि अश्लील व्यभिचार को भी फैलाया था। आलिया उनका रोल अदा करती हैं तब तो ये बॉलीवुड के लिबरलों का ‘वेट ड्रीम’ होगा। इस फ़िल्म के लिए भी आलिया भट्ट को अवॉर्ड मिल ही जाएगा। माँ-बाप ने एक्टिंग भले ही न सिखाया हो मगर जिहादी राजनीति में उन्हें पूरी ट्रेनिंग दी गई है। अब तो अनन्या पांडेय भी आ गई हैं, जो इस मामले में आलिया को कड़ी प्रतिस्पर्द्धा दे रही हैं।”

रंगोली चंदेल इससे पहले भी आलिया भट्ट पर निशाना साध चुकी हैं। उन्होंने कहा था कि आलिया ने ‘राजी’ फिल्म में एक मुस्लिम जासूस का किरदार अदा किया था, जो पाकिस्तान जाकर गर्भवती हो जाती है और फिर ‘घर वापस जाने की बातें करने लगी हैं, भले ही इसके लिए नेशनलिज्म और देशभक्ति की माँ-बहन एक हो जाए।‘ रंगोली के आरोपों का अब तक आलिया भट्ट ने कोई जवाब नहीं दिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

आज पाकिस्तान के लिए बैटिंग, कभी क्रिकेट कैंप में मौलवी से नमाज: वसीम जाफर पर ‘हनुमान की जय’ हटाने का भी आरोप

पाकिस्तान के साथ सहानुभूति रखने के कारण नेटिजन्स के निशाने पर आए वसीम जाफर पर मुस्लिम क्रिकेटरों को तरजीह देने के भी आरोप लग चुके हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,586FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe