दीमक, दोगली, बिकाऊ, 10वीं फेल, सूडो लिबरल, नालायकों, देशद्रोहियों… मीडिया के एक सेक्शन पर कंगना

अरे नालायकों, देशद्रोहियों, बिकाऊ लोगों... तुम लोगों को ख़रीदने के लिए लाखों भी नहीं चाहिए। तुम लोग तो इतने सस्ते हो कि 50-60 रुपए में बिछ जाते हो, जो अपने देश के साथ गद्दारी करते हैं, जिसमें खाते हैं उसी में छेद करते हैं।

मीडिया के साथ बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। फ़िल्म ‘जजमेंटल है क्या’ के सॉन्ग लॉन्च इवेंट के दौरान हुई घटना पर इस फ़िल्म के निर्माताओं की सफ़ाई और माफ़ीनामे के बाद अब कंगना का एक वीडियो सामने आया है। इसमें कंगना ने भारतीय मीडिया के प्रति आभार जताते हुए कुछ लोगों का विरोध किया है और उन्हें देशद्रोही करार दिया है। उन्होंने कहा:

“मीडिया का एक सेक्शन है जो दीमक की तरह हमारे देश में लगा है और धीरे-धीरे देश की गरिमा को, अस्मिता को, एकता को आए दिन अटैक करता रहता है..झूठी अफ़वाहें फैलाता रहता है। गंदे, भद्दे, देशद्रोह के विचार खुले तौर पर सबके सामने रखता है। इनके ख़िलाफ़ हमारे संविधान में किसी भी तरह की न तो कोई पेनल्टी है और न ही कोई सज़ा है। इस चीज से मुझे बहुत ज़्यादा ठेस लगी और मैंने ख़ुद से निर्धारित कर लिया कि ये जो दोगली मीडिया है बिकाऊ मीडिया है जो ख़ुद को लिबरल कहती है सेकुलर कहती है और कुछ भी नहीं है जो दसवीं फेल है… ये लोग सूडो लिबरल हैं और ये लोग बिल्कुल भी सेकुलर नहीं हैं। अगर ये लोग सेकुलर होते तो हमेशा धार्मिक चीजों को लेकर देश की एकता पर प्रहार नहीं करते।”

View this post on Instagram

would like your attention. This is important. Listen up!

A post shared by Kangana Ranaut (@team_kangana_ranaut) on

वीडियो में कंगना ने उस पत्रकार के बारे में कहा:

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

“ऐसे ही एक चिंदी से जर्नलिस्ट को मैं एक-दो दिन पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में मिली। विश्व पर्यावरण दिवस के दिन मैंने प्लास्टिक बैन को लेकर कैंपेन किया था, जिसमें मैंने प्लास्टिक बैन को लेकर कुछ एक्टिविटीज की थी, इस जर्नलिस्ट को मैंने खिल्ली उड़ाते हुए देखा था। इसके बाद मैंने काऊ स्लाटर के अगेंस्ट, एनिमल क्रूलिटी के अगेंस्ट कैंपेन किया उसका भी यह मजाक उड़ा रहा था।”

इसके आगे फ़िल्म एक्ट्रेस ने कहा, “मेरे पास किसी भी तरह के देशद्रोही के लिए जीरो परसेंट टॉलरेंस है, तीन -चार लोगों ने मिलकर मेरे ख़िलाफ़ एक कोई गिल्ड बनाई जो अभी शायद कल ही बनी है। उसकी कोई मान्यता ही नहीं है। तो उस गिल्ड के चलते लोगों ने मुझे धमकी देना शुरू किया है कि मुझे बैन कर देंगे या मुझे कवर नहीं करेंगे, या मेरा करियर बर्बाद कर देंगे। अरे नालायकों, देशद्रोहियों, बिकाऊ लोगों तुम लोगों को ख़रीदने के लिए लाखों भी नहीं चाहिए। तुम लोग तो इतने सस्ते हो कि पचास-साठ रुपए में बिछ जाते हो, जो अपने देश के साथ गद्दारी करते हैं, जिसमें खाते हैं उसी में छेद करते हैं। तुम जैसे नालायक मुझे बर्बाद करेंगे , तुम लोगों के बाप-दादाओं को भी मैंने लोहे के चने चबवाएँ हैं।”

दरअसल, कुछ दिनों पहले फ़िल्म ‘जजमेंटल है क्या’ के सॉन्ग लॉन्च इवेंट में कंगना रनौत और एक पत्रकार के बीच तीखी बहस हो गई थी। इस दौरान कंगना ने उस पत्रकार पर ख़ुद के ख़िलाफ़ कैंपेन चलाने और जान-बूझकर उनकी फ़िल्मों की बुराई करने का आरोप लगाया था। इसके बाद एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट गिल्ड ऑफ़ इंडिया ने एक बयान जारी कर कंगना रनौत के बायकॉट करने की बात कही। फ़िल्म की प्रोड्यूसर एकता कपूर ने इस मामले पर लिखित तौर पर माफ़ी माँगी है।

एकता के क़दम की तारीफ़ करते हुए गिल्ड ने कंगना का बायकॉट जारी रखने की बात कही है। अपने ऑफिशियल रिस्पॉन्स में लिखा, “एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट गिल्ड एकता कपूर के सहयोग की तारीफ करता है और अपने ऑफिशियल स्टेटमेंट के जरिए सही के साथ खड़े होने की सराहना करते हैं। हालाँकि, हम सभी मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर कंगना रनौत पर बैन जारी रखेंगे।”

एंटरटेनमेंट जर्नलिस्ट गिल्ड का स्टेटमेंट
शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

उन्नाव गैंगरेप, यूपी पुलिस, कांग्रेस
यूपी में कॉन्ग्रेसी भी योगी सरकार के ख़िलाफ़ प्रदर्शन करते हुए सड़कों पर निकल गए। लेकिन उत्तर प्रदेश विधानसभा के बाहर कॉन्ग्रेस के झंडे लेकर पहुँचे कार्यकर्ताओं ने तब भागना शुरू कर दिया, जब यूपी पुलिस ने लाठियों से उन्हें जम कर पीटा। सोशल मीडिया पर इसका वीडियो भी वायरल हो गया।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

117,585फैंसलाइक करें
25,871फॉलोवर्सफॉलो करें
126,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: