Tuesday, July 16, 2024
Homeविविध विषयअन्यवो बल्लेबाज जिसने पाकिस्तान को दिया दोहरा दर्द: पहले गेंदबाजों को धोया, फिर 'इस्लाम/मुस्लिम...

वो बल्लेबाज जिसने पाकिस्तान को दिया दोहरा दर्द: पहले गेंदबाजों को धोया, फिर ‘इस्लाम/मुस्लिम ब्रदरहुड’ करने वालों पर रगड़ा नमक

'मुस्लिम ब्रदरहुड' और इस्लाम की बात करने वाला पाकिस्तान अब तक लगभग 13 लाख अफगानियों को वापस लौटा चुका है। प्लेयर ऑफ द मैच बने अफगानी ओपनर इब्राहिम जादरान ने जीत के बाद इन शरणार्थियों को अपना अवॉर्ड समर्पित किया।

वर्ल्ड कप 2023 में अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को हरा कर बड़ा उलटफेर कर दिया। इस जीत में अफगानिस्तान की पूरी टीम बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों में एक यूनिट की तरह खेली। इसके उलट पाकिस्तान की टीम बैटिंग और बोलिंग दोनों ही मामले में फिसड्डी साबित हुई।

अफगान टीम के बल्लेबाज इब्राहिम जादरान ने सोमवार (23 अक्टूबर 2023) को अपने देश को जीत दिलाने में 87 रन बना कर महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस जीत के बाद प्लेयर ऑफ़ द मैच बने अफगानी ओपनर इब्राहिम जादरान ने अपना इनाम उन अफगानी शरणर्थियों को समर्पित किया है, जिन लोगों को पाकिस्तान ने वापस लौटा दिया था।

पाकिस्तान पर जीत के बाद मैच अफगानिस्तान के बल्लेबाज इब्राहिम जादरान ने ये बातें कहीं। जारदान ने पाकिस्तान पर मिली जीत और खुद को मिले इनाम को अपने व अपने देश के लिए बेहद ख़ुशी का पल बताया। इब्राहिम ने कहा:

“मैं इस मैन ऑफ द मैच पुरस्कार को उन लोगों को समर्पित करना चाहता हूँ, जिन्हें पाकिस्तान से अफगानिस्तान वापस भेजा गया है।”

मैदान में मौजूद दर्शकों ने तालियाँ बजा कर इस बयान का समर्थन किया। जादरान के इस बयान का 10 सेकेंड का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इसी के साथ इब्राहिम ने गुरबाज के साथ हुई 130 रनों की साझेदारी को सकारात्मकता के साथ रनों का पीछा करने की सोच बताया। इब्राहिम ने बताया कि वो गुरबाज के साथ पहले भी काफी क्रिकेट खेल चुके हैं।

बताते चलें कि चेन्नई में हुए इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान ने अफगानिस्तान को 283 रनों का लक्ष्य दिया था। अफगानिस्तान ने यह लक्ष्य महज 2 विकेट गँवा कर 49 ओवरों में ही हासिल कर लिया। इससे पहले अफगान टीम इंग्लैंड को भी शिकस्त दे चुकी है।

गौरतलब है कि हाल के दिनों में पाकिस्तान ने अफगानिस्तान के शरणार्थियों को देश से बाहर करने का फैसला किया था। इस दौरान पाकिस्तान सरकार ने आदेश दिया था कि वो अपने देश में मौजूद बिना वीजा व वैध कागजात वाले अफगान नागरिकों को उनके देश वापस लौटाएगा। पाकिस्तान अब तक लगभग 13 लाख अफगानियों को वापस लौटा चुका है। मानवाधिकार आयोग के लोगों की अपील भी पाकिस्तान सरकार अनसुना कर रही है। पाकिस्तान एक इस्लामी मुल्क है, अफगानिस्तान से आए शरणार्थी भी इस्लाम को मानने वाले, ऐसे में ‘मुस्लिम ब्रदरहुड’ वाली बातें एक ढकोसले के अलावे शायद कुछ नहीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -