Tuesday, July 23, 2024
Homeविविध विषयअन्यएलन मस्क ने बंद किया ट्विटर का दिल्ली-मुंबई ऑफिस: रिपोर्ट में बताया- भारतीय टीम...

एलन मस्क ने बंद किया ट्विटर का दिल्ली-मुंबई ऑफिस: रिपोर्ट में बताया- भारतीय टीम में बचे अब केवल 3 कर्मचारी, घर से काम करेंगे

CNBC ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि भारत की टीम में अब केवल तीन कर्मचारी बचे हैं। इनमें एक कंट्री हेड हैं। एक के पास उत्तर और पूर्व तथा दूसरे के पास दक्षिण और पश्चिम की जिम्मेदारी है। ये सभी अब वर्क फ्रॉम होम पर रहेंगे।

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर को खरीदने के बाद से एलन मस्क (Elon Musk) ने कई चौंकाने वाले फैसले लिए हैं। इसी कड़ी में अब भारत में ट्विटर के दो ऑफिस बंद कर दिए गए हैं। कर्मचारियों को घर से काम (Work from Home) करने को कहा गया है। भारत में ट्विटर के दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु में तीन ऑफिस हैं। इनमें दिल्ली और मुंबई के ऑफिस बंद किए गए हैं।

बेंगलुरु का ऑफिस पहले की तरह काम करता रहेगा। ध्यान रखने वाली बात यह है कि बेंगलुरु ऑफिस से जुड़े कर्मचारी सीधे अमेरिकी दफ्तर को रिपोर्ट करते हैं और वे कंपनी के इंडियन टीम के हिस्सा नहीं हैं। सीएनबीसी की रिपोर्ट के अनुसार ट्विटर की इंडियन टीम में अब केवल तीन कर्मचारी ही बचे रह गए हैं।

ब्‍लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, एलन मस्क ट्विटर के खर्चों को कम करने के लिए लगातार कंपनी में बदलाव कर रहे हैं। साल 2023 के अंत तक वह ट्विटर को वित्तीय रूप से मजबूत बनाने पर फोकस कर रहे हैं। इसके तहत उन्होंने ना केवल बड़े स्तर पर कर्मचारियों की छंटनी की है, बल्कि ट्विटर के ऑफिस सर्विसेज में भी कटौती की है। इसलिए अब उन्होंने दिल्ली और मुंबई के दफ्तर को बंद करने का फैसला किया है।

CNBC ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि भारत की टीम में अब केवल तीन कर्मचारी बचे हैं। इनमें एक कंट्री हेड हैं। एक के पास उत्तर और पूर्व तथा दूसरे के पास दक्षिण और पश्चिम की जिम्मेदारी है। ये सभी अब वर्क फ्रॉम होम पर रहेंगे। बताया जा रहा है कि भारत में तीन में से दो ऑफिस को बंद करने का फैसला 2022 के अंत में ट्विटर इंडिया में बड़े पैमाने पर की गई छंटनी का ही हिस्सा है। पिछले साल ट्विटर ने भारत में अपने 90 फीसदी यानी करीब 200 कर्मचारियों को निकाल दिया था।

गौरतलब है कि टेस्ला और स्पेसएक्स के मालिक एलन मस्क ने ट्विटर को 27 अक्टूबर 2022 को करीब 44 बिलियन डॉलर में खरीदा था। ट्विटर का माई-बाप बनते ही मस्क ने सीईओ पराग अग्रवाल (Parag Agrawal) सहित कई अधिकारियों की छुट्टी कर दी थी। साथ ही ट्वीट कर कहा था- द बर्ड इज फ्रीड (the bird is freed) यानी आजाद हुई चिड़िया। मस्क ने जिन अधिकारियों की छुट्टी की थी, उनमें अग्रवाल के अलावा CFO नेड सेगल और लीगल अफेयर-पॉलिसी हेड विजया गाड्डे शामिल थीं। इन्हें कंपनी हेडक्वार्टर से भी बाहर निकलवा दिया गया था। इसके बाद से वह बड़े पैमाने पर कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा चुके हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20000 महिलाओं को रेप-मौत से बचाने के लिए जब कॉन्ग्रेसी मंत्री ने RSS से माँगी थी मदद: एक पत्र में दर्ज इतिहास, जिसे छिपा...

पत्र में कहा गया था कि आरएसएस 'फील्ड वर्क' के लिए लोगों को अत्यधिक प्रशिक्षित करेगा और संघ प्रमुख श्री गोलवरकर से परामर्श लिया जा सकता है।

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -