Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयअन्यवर्ल्ड कप में 7-0 से पटखनी खा चुके हैं पड़ोसी... स्विंग के लिए तरस...

वर्ल्ड कप में 7-0 से पटखनी खा चुके हैं पड़ोसी… स्विंग के लिए तरस सकते हैं शाहीन अफरीदी, भारतीय स्पिनरों का होगा जलवा, जडेजा-पंड्या का घरेलू मैदान

बाबर आजम जिस रिकॉर्ड को तोड़ने की उम्मीद लगाकर बैठे हैं, वो फिलहाल धराशायी ही होती नजर आ रही है। अब तक के सातों मैच, जिसमें आखिरी मैच 2019 के विश्वकप में हुआ था, उसमें भी भारतीय टीम ने पाकिस्तानी टीम को 47 रनों से करारी मात दी थी।

ICC क्रिकेट विश्व कप 2023 में भारत-पाकिस्तान के बीच अहमदाबाद में मैच है। इस मैच को देखने के लिए 1 लाख 32 हजार से अधिक फैंस पहुँचे हैं, जिसमें हर तरफ नीली जर्सी का ही शोर सुनाई दे रहा है। क्रिकेट विश्व कप के इतिहास में ये आठवाँ मौका है, जब दोनों टीमों की भिड़ंत हो रही है।

ये अलग बात है कि अब तक दोनों टीमों के बीच हुए सात के सातों मैचों में भारतीय टीम ने पाकिस्तान को धूल चलाई है और हेड-टू-हेड आँकड़ों में भारत 7-0 से आगे है। इस मैच के बारे में जब पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि रिकॉर्ड टूटने के लिए ही बनते हैं। बाबर ने उम्मीद जताई है कि पाकिस्तानी टीम भारत को कड़ा टक्कर देगी।

भारत ने पाकिस्तान को 7 बार हराया, अगले का खाता नहीं खुला

बाबर आजम जिस रिकॉर्ड को तोड़ने की उम्मीद लगाकर बैठे हैं, वो फिलहाल धराशायी ही होती नजर आ रही है। अब तक के सातों मैच, जिसमें आखिरी मैच 2019 के विश्वकप में हुआ था, उसमें भी भारतीय टीम ने पाकिस्तानी टीम को 47 रनों से करारी मात दी थी।

साल 1992 के बाद से हुए हर मुकाबले में भारतीय टीम ने पाकिस्तान को पटखनी दी है। हालाँकि, ओवरऑल दोनों टीमों के बीच मैचों की बात करें तो पाकिस्तान ने भारत को 73 बार हराया है, जबकि भारत महज 56 बार ही जीत पाया है, लेकिन वर्ल्ड कप जैसे बड़े मंच पर पाकिस्तानी टीम को हमेशा हार का ही मुँह देखना पड़ा।

बाबर आजम का भारत के खिलाफ शर्मनाक प्रदर्शन

बाबर आजम बेशक इस समय एकदिवसीय फॉर्मेट में बड़े खिलाड़ी हैं। पाकिस्तान की कप्तानी कर रहे बाबर आजम ने अभी तक 5000 से ज्यादा रन बनाए हैं, जिसमें 19 शतक और 28 अर्धशतक शामिल हैं, लेकिन वो भारतीय टीम के सामने सुपर फ्लॉप रहे हैं। भारतीय टीम के खिलाफ 7 बार खेल चुके बाबर आजम महज 168 रन ही बना पाए हैं, जिसमें शतक तो छोड़िए, एक भी अर्धशतक तक शामिल नहीं है।

यही नहीं, पिछली 5 पारियों में एशिया कप में नेपाल के खिलाफ 150 रनों को छोड़ दें तो बाबर आजम महज 71 रन ही बना पाए हैं। यही नहीं, वो एक बार भी 30 तक का आँकड़ा नहीं छू सके हैं। अब देखना ये है कि जसप्रीम बुमराह की यॉर्कर और सिराज की स्विंग को वो कैसे झेल पाते हैं।

पाकिस्तान की गेंदबाजी

पाकिस्तान को तेज गेंदबाजों की नर्सरी कहा जाता रहा है। उसके पास शाहीन शाह अफरीदी जैसा तुरुप का इक्का भी है, लेकिन बाबर आजम को इस बात से शायद ही कोई मदद मिले, क्योंकि नसीम शाह के न रहने से पहले ही पाकिस्तानी बॉलिंग अटैक कमजोर है। चूँकि ये मैच अहमदाबाद में है, जहाँ तेज गेदबाजों के मुकाबले स्पिनर्स को फायदा मिलता है। ऐसे में शाहीन शाह अफरीदी के लिए भी मुश्किल होगी, क्योंकि जो स्विंग वो ढूँढते हैं, वो स्विंग मोहाली-धर्मशाला में मिल सकता है, अहमदाबाद में तो कतई नहीं।

रही बात पाकिस्तान के दूसरे फास्ट बॉलर्स की तो हसन अली एक बार भारतीय टीम के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन कर चुके हैं, लेकिन वो अभी-अभी टीम में आए हैं। ऊपर से अहमदाबाद की पिच पर उनके जैसे थोड़े धीमे बॉलर के लिए सिवाय पिटाई के कुछ खास नहीं मिलने वाला है।

फॉर्म में लौट आए हैं भारतीय खिलाड़ी

पाकिस्तान की टीम के लिए सकारात्मक कुछ हो भी तो नहीं रहा है। इस तरफ उनका कप्तान फ्लॉप चल रहा है, तो दूसरी तरफ भारतीय टीम के खिलाफ प्रचंड फॉर्म में हैं। विराट कोहली लगातार मैचों में अर्धशतक बना चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शून्य पर आउट होने वाले कप्तान रोहित शर्मा ने दूसरे मैच में शानदार शतकीय पारी खेली और वो फॉर्म में लौट आए हैं। रिजर्व ओपनर ईशान किशन अच्छे टच में दिख रहे हैं, तो शुभमन गिल भी वापस लौटने के लिए तैयार हैं।

ऐसी बातें टीम मैनेजमेंट के लिए बेहद मुश्किल भरी होती हैं, क्योंकि किसी को टीम में शामिल कैसे करें, जब सभी खिलाड़ी बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हों।

अहमदाबाद की पिच और भारत के बॉलर

अहमदाबाद का मैदान आम मैदानों की तुलना में काफी बड़ा है। यहाँ स्पिनर्स बेहद खतरनाक साबित हो सकते हैं, क्योंकि पिच काली मिट्टी से बनी हुई है। यहाँ स्पिनर्स की पिटाई बिल्कुल भी आसान नहीं रहने वाली है, क्योंकि बड़े मैदानों को पार करने के लिए ताकतवर शॉट्स के साथ ही टाइमिंग और पॉवर भी होनी चाहिए। वहीं, काली मिट्टी की स्पिनिंग ट्रैक पर जडेजा-कुलदीप यादव को खेलना पाकिस्तान के लिए आसान बिल्कुल भी नहीं रहने वाला है।

जसप्रीत बुमराह रंग में लौटे

भारतीय तेज गेदबाज जसप्रीत बुमराह रंग में लौट आए हैं। आखिरी मैच में उन्होंने 4 विकेट भी लिए थे, ऊपर से ये मैदान जसप्रीत बुमराह का घरेलू मैदान भी है। वो अपने घरेलू मैदान पर गरजने को बेताब होंगे। वैसे भी बुमराह जिस तरह के बॉलर हैं, उन्हें पिच से मदद मिली तो ठीक, नहीं मिली तब भी ठीक, क्योंकि उनके पास सटीकता और विविधता दोनो हैं। वहीं, पाकिस्तान के नौसिखिए स्पिनर्स की तुलना में भारतीय स्पिनर्स बेहद अनुभवी हैं और वो लगातार बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं।

कुलदीप यादव ब्रेक के बाद बेहद आक्रामक और खतरनाक बॉलर बन चुके हैं। रविंद्र जडेजा के लिए भी एक तरह से ये घरेलू मैदान होगा, तो हार्दिक पांड्या के लिए भी। हालाँकि, मैच में तीसरे स्पिनर के तौर पर रविचंद्रन अश्विन को खिलाया जाता है, या फिर तेज गेंदबाज के तौर पर शमी को मौका मिलेगा, या फिर आठवें नंबर पर बल्लेबाजी को मजबूत करने के लिए शार्दूल ठाकुर को ऑलराउंडर के तौर पर उतारा जाएगा, ये भी देखने वाली बात होगी।

दोनों टीमें इस प्रकार हो सकती हैं:

भारतीय टीम (संभावित): रोहित शर्मा, शुभमन गिल/ईशान किशन, विराट कोहली, के एल राहुल (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, हार्दिक पांड्या, रविंद्र जडेजा, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद सिराज और रविचंद्रन अश्विन/मोहम्मद शमी/शार्दूल ठाकुल

पाकिस्तानी टीम (संभावित): अब्दुल्ला शफीक, बाबर आजम, इमाम उल हक, मोहम्मद रिजवान (विकेट कीपर), सउद शकील, इफ्तिखार अहमद, शादाब खान, मोहम्मद नवाज, शाहीन अफरीदी, हसन अली/मोहम्मद वसीम और हारिस रउफ।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

श्रवण शुक्ल
श्रवण शुक्ल
Shravan Kumar Shukla (ePatrakaar) is a multimedia journalist with a strong affinity for digital media. With active involvement in journalism since 2010, Shravan Kumar Shukla has worked across various mediums including agencies, news channels, and print publications. Additionally, he also possesses knowledge of social media, which further enhances his ability to navigate the digital landscape. Ground reporting holds a special place in his heart, making it a preferred mode of work.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काँवड़ यात्रा पर किसी भी हमले के लिए मोहम्मद जुबैर होगा जिम्मेदार: यशवीर महाराज ने ‘सेकुलर’-इस्लामी रुदालियों पर बोला हमला, ढाबों मालिकों की सूची...

स्वामी यशवीर महाराज ने 18 जुलाई 2024 को एक वीडियो बयान जारी कर इस्लामिक कट्टरपंथियों और तथाकथित 'सेकुलरों' को आड़े हाथों लिया है।

3 आतंकियों को घर में रखा, खाना-पानी दिया, Wi-Fi से पाकिस्तान करवाई बात: शौकत अली हुआ गिरफ्तार, हमलों के बाद OGW नेटवर्क पर डोडा...

शौकत अली पर आरोप है कि उसने सेना के जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों को कुछ दिन अपने घर में रखा था और वाई-फाई भी दिया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -