Saturday, July 20, 2024
Homeविविध विषयअन्यIPL मालिकों की हुई दक्षिण अफ्रीका की T20 लीग भी, सभी 6 टीमों को...

IPL मालिकों की हुई दक्षिण अफ्रीका की T20 लीग भी, सभी 6 टीमों को खरीदा: जानिए CSK-मुंबई ने किन टीमों पर लगाया दाँव, ग्रीम स्मिथ बने हेड

उम्मीद है कि जैसे ही कागजी कार्रवाई पूरी होती है उसके बाद नए मालिकों और उन शहरों की ऑफिशियल अनाउंसमेंट करेगा।

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) फ्रेंचाइजी ने क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका की आगामी नई टी-20 लीग में सभी छह टीमों को खरीदा है। इसका पहला सीजन जनवरी 2023 में खेला जाएगा। मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपर किंग्स, लखनऊ सुपर जायंट्स, सनराइजर्स हैदराबाद, राजस्थान रॉयल्स और दिल्ली कैपिटल्स के मालिकों में से एक ने टीम की नीलामी के दौरान फ्रेंचाइजी के लिए सफलतापूर्वक बोली लगाई है।

ईएसपीएन क्रिकइंफो (ESPN cricinfo) की रिपोर्ट के मुताबिक, सीएसके ने जोहान्सबर्ग फ्रेंचाइजी को खरीदने के लिए पैरेंट कंपनी चेन्नई सुपर किंग्स स्पोर्ट्स लिमिटेड के जरिए सबसे ऊँची बोली लगाई थी। रिलायंस इंडस्ट्रीज की मुंबई इंडियंस ने केप टाउन फ्रेंचाइजी खरीदी, जबकि सन टीवी ग्रुप सनराइजर्स के मालिक ने पोर्ट एलिजाबेथ फ्रेंचाइजी को अपने नाम किया है।

2021 के अंत में लखनऊ आईपीएल फ्रेंचाइजी खरीदने के लिए 7090 करोड़ रुपए की रिकॉर्ड राशि का भुगतान करने वाले आरपी संजीव गोयनका ग्रुप ने डरबन टीम को चुना। वहीं राजस्थान रॉयल्स ने पार्ल टीम को खरीदा। प्रिटोरिया को जिंदल साउथ वेस्ट स्पोर्ट्स ने लिया है, जिसके चीफ पार्थ जिंदल हैं। ये आईपीएल में दिल्ली कैपिटल के सह-मालिक भी हैं।

लीग का संचालन क्रिकेट साउथ अफ्रीका द्वारा टेलीविजन प्रसारक सुपरस्पोर्ट के साथ साझेदारी में किया जाएगा। बोर्ड से उम्मीद है कि जैसे ही कागजी कार्रवाई पूरी होती है, उसके बाद नए मालिकों और उन शहरों की ऑफिशियल अनाउंसमेंट करेगा। क्रिकेट साउथ अफ्रीका बोर्ड ने पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ को टी-20 लीग के ऑवर आल हेड के रूप में घोषित किया है। स्मिथ के फ्रैंचाइजी मालिकों के साथ सौदे निर्विवाद हैं।

स्मिथ ने कहा, “मैं इस रोमांचक नए काम को लीड करने के लिए बेहद सम्मानित महसूस कर रहा हूँ। मैं दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट के लिए दिल से प्रतिबद्ध हूँ और जितना हो सके खेल की सेवा करता रहूँगा।” ग्रीम स्मिथ ने कहा कि मुझे विश्वास है कि यह एक बेहतर प्रतिस्पर्धा होगी, जो कि खेल में बहुत जरूरी निवेश ला सकती है और दुनिया भर के खिलाड़ियों के लिए नए अवसर प्रदान कर सकता है। हमारे लिए भी यह अधिक महत्वपूर्ण है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली हाईकोर्ट ने शिव मंदिर के ध्वस्तीकरण को ठहराया जायज, बॉम्बे HC ने विशालगढ़ में बुलडोजर पर लगाया ब्रेक: मंदिर की याचिका रद्द, मुस्लिमों...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मकबूल अहमद मुजवर व अन्य की याचिका पर इंस्पेक्टर तक को तलब कर लिया। कहा - एक भी संरचना नहीं गिराई जाए। याचिका में 'शिवभक्तों' पर आरोप।

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -