Wednesday, July 24, 2024
Homeविविध विषयअन्य'मुस्लिम लड़कियों को मिलेगी UPSC समेत विभिन्न परीक्षाओं की फ्री कोचिंग, इसी साल से...

‘मुस्लिम लड़कियों को मिलेगी UPSC समेत विभिन्न परीक्षाओं की फ्री कोचिंग, इसी साल से मिलेगी यह सुविधा’

“मुस्लिम लड़कियों को UPSC, राज्य सेवाओं और बैंकिंग सेवाओं के लिए मुफ़्त कोचिंग दी जाएगी। हमने कई संस्थानों से बात की है। पूरा खाका तैयार होने के बाद इस योजना को इसी वर्ष लागू कर दिया जाएगा।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मंत्र है- ‘सबका साथ-सबका विकास’। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार इस मूल मंत्र को साकार करने में लगी है। हाल ही में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नक़वी ने कहा था कि अगले पाँच वर्षों में पाँच करोड़ छात्रों को आर्थिक सहायता (प्रधानमंत्री छात्रवृति) प्रदान की जाएगी। इसमें अहम बात यह थी कि आर्थिक सहायता पाने वालों में 50 फ़ीसदी बालिकाएँ होंगी।

बुधवार (12 जून) को वक़्फ़ परिषद की बैठक में मुस्लिम लड़कियों की बेहतरी के लिए केंद्रीय मंत्री नक़वी ने कई महत्वपूर्ण ऐलान किए। इन्हीं ऐलानों में से एक ऐलान मुस्लिम लड़कियों को लेकर किया गया था। ANI के हवाले से मिली सूचना के मुताबिक नक़वी ने कहा, “मुस्लिम लड़कियों को UPSC, राज्य सेवाओं और बैंकिंग सेवाओं के लिए मुफ़्त कोचिंग दी जाएगी। हमने कई संस्थानों से बात की है। पूरा खाका तैयार होने के बाद इस योजना को इसी वर्ष लागू कर दिया जाएगा।”

केंद्रीय मंत्री ने देश भर में मौजूद वक़्फ़ सम्पतियाँ मुस्लिम समाज की बेहतरी के काम आ सकें इसके लिए 100 फ़ीसदी जियो टैगिंग और डिजिटलाइजेशन की बात भी की। वक़्फ़ परिषद की इस बैठक में केंद्रीय मंत्री नक़वी ने इस बात का भी ज़िक्र किया कि प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के तहत वक़्फ़ की प्रॉपर्टी पर कॉलेज, अस्पताल आदि बनवाने के लिए 100 फ़ीसदी फंडिंग की जाएगी। ख़बर के अनुसार, देश में क़रीब 5.77 लाख वक़्फ़ सम्पत्तियाँ रजिस्टर्ड हैं। इन्हें डिजिटल किया जा रहा है ताकि पारदर्शिता बनी रहे।

हाल ही में, मुख्तार अब्बास नक़वी ने एक और बड़ा ऐलान किया था कि देश भर के मदरसों में मुख्यधारा की शिक्षा को प्रोत्साहित करने के लिए मदरसा शिक्षकों को विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों से प्रशिक्षण दिलाया जाएगा ताकि वे मदरसों में मुख्यधारा की शिक्षा- हिंदी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान, कंप्यूटर आदि- दे सकें. यह काम अगले महीने से शुरू कर दिया जाएगा।


Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -