Thursday, July 18, 2024
Homeविविध विषयअन्य'गौतम गंभीर के जाने के बाद मेरे साथ...': शाहरुख़ खान की KKR को लेकर...

‘गौतम गंभीर के जाने के बाद मेरे साथ…’: शाहरुख़ खान की KKR को लेकर रॉबिन उथप्पा का बड़ा खुलासा, CSK की जर्सी पहनने पर फैंस कर रहे थे ट्रॉल

रॉबिन उथप्पा के इस बयान के बाद KKR के फैन्स उन्हें जमकर ट्रोल करने लगे। फैन्स को नाखुश देखकर उथप्पा ने सफाई देते हुए दो ट्वीट और किए थे।

मंगलवार (23 मई, 2023) को IPL 2023 के पहले क्वालिफायर में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने गुजरात टाइटन्स (GT) को 15 रनों से मात दे दी। इस तरह CSK की टीम 10 वीं बार आईपीएल के फाइनल में पहुँच गई। इस मैच को देखने के लिए विस्फोटक बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा भी पहुँचे हुए थे। रॉबिन इस सीज़न में शाहरुख़ खान की टीम कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के लिए खेल रहे थे। उनकी टीम पहले ही टूर्नामेंट से बाहर हो गई।

बतौर दर्शक रॉबिन CSK को सपोर्ट कर रहे थे। उन्होंने ट्विटर पर एक पोस्ट भी शेयर की थी जिसमें वह सीएसके की जर्सी में टीम को चीयर करते हुए नजर आ रहे थे। शेयर की गई तस्वीर में उथप्पा के साथ उनके बेटे भी नजर आ रहे थे। हालाँकि केकेआर के फैन्स को उथप्पा का सीएसके को सपोर्ट करना रास नहीं आया। ट्विटर पर उन्हें ट्रोल किया जाने लगा। एक यूजर ने लिखा कि रॉबिन ने चेन्नई के लिए सिर्फ एक या दो सीजन खेले होंगे इतने में ही उन्होंने अपनी आत्मा बेच दी। उन्हें कभी केकेआर का इस तरह समर्थन करते नहीं देखा गया।

इस पर रॉबिन ने जवाब दिया, “वफादारी और सम्मान आपसी समझबूझ का मामला है मेरे दोस्त।” ट्रोल्स को जवाब देते हुए रॉबिन उथप्पा ने दूसरा ट्वीट भी किया। उन्होंने लिखा, “खुद को मिल रहे नफरत से हैरान नहीं हूँ। आप सभी को शांति और प्यार।”

रॉबिन उथप्पा के ट्वीट पर क्रिकेटर इरफान पठान ने लिखा, “हेट को हटा मेरे भाई बस प्यार को देख।” इस पर रॉबिन ने प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, “जिंदगी तो प्यार से भरी हुई है मेरे दोस्त और प्यार ही नफरत को हरा सकता है।”

नननननननननननननननननन

उथप्पा ने चेन्नई की जीत के बाद एक और ट्वीट किया और सीएसके के फाइनल में जगह बनाने पर खुशी जताई। उन्होंने जीटी को भी अगले मुकाबले में मजबूती से वापसी की उम्मीद जाहिर की। लेकिन बात यहीं तक सीमित नहीं है। 23 मई 2023 को ही जियो सिनेमा के शो के दौरान रॉबिन उथप्पा ने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा था कि अब वे आईपीएल नहीं खेलेंगे क्योंकि वे पहले ही संन्यास ले चुके हैं। लेकिन यदि उन्हें खेलने का मौका मिला तो वे सीएसके के लिए खेलना पसंद करेंगे।

रॉबिन उथप्पा के इस बयान के बाद KKR के फैन्स उन्हें जमकर ट्रोल करने लगे। फैन्स को नाखुश देखकर उथप्पा ने सफाई देते हुए दो ट्वीट और किए थे। उथप्पा ने ट्विटर पर लिखा कि केकेआर में गौतम गंभीर के साथ पहले चार साल बाद के 2 सालों की तुलना में पूरी तरह अलग थे। इससे मेरे प्रदर्शन पर भी काफी बड़ा प्रभाव पड़ा था। साथ ही मैं कहना चाहता हूँ कि इसका कप्तानी से कोई लेना-देना नहीं है।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, “गौतम गंभीर के टीम से अलग होने के बाद सब कुछ बदल गया और मुझे अलग-थलग महसूस हुआ। केकेआर के फैन्स के लिए मेरा प्यार पहले भी था और हमेशा रहेगा। मैं उनके समर्थन के लिए हमेशा आभारी हूँ और मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूँ कि ये बातें केकेआर के प्रशंसकों के लिए नहीं हैं। मैं उन्हें हमेशा प्यार और सम्मान दूँगा।”

बता दें 2018 में गंभीर ने कोलकाता का साथ छोड़ दिया था। तब ऐसा माना जा रहा था कि 2018 आईपीएल के लिए उथप्पा को केकेआर का कप्तान बनाया जाएगा। लेकिन टीम मैनेजमेंट ने दिनेश कार्तिक को कप्तान चुना और उथप्पा को उप-कप्तान की जिम्मेदारी दी गई। इसके बाद उथप्पा 2020 में राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा बने और 2021 में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेले। 2021 में चेन्नई को चैंपियन बनाने में उनका योगदान अहम रहा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -