Saturday, July 20, 2024
Homeविविध विषयअन्यMS धोनी और रवि शास्त्री का नाम लेकर विराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट की...

MS धोनी और रवि शास्त्री का नाम लेकर विराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट की कप्तानी, कहा – हमेशा 120% दिया, अब सही समय आ गया है

इस्तीफे की घोषणा करते हुए विराट कोहली ने कहा, "ये सात वर्षों की मेहनत, रोज -रोक कड़े परिश्रम और सतत दृढ़ता का परिणाम है कि टीम सही दिशा में जा रही है। मैंने पूरी ईमानदारी के साथ ये कार्य किया है।"

विराट कोहली ने भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान के पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कहा है कि वो दिल से सही समय पर सही निर्णय ले रहे हैं। इस दौरान दिग्गज बल्लेबाज ने BCCI (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) को इतने लंबे समय तक कप्तानी का मौका देने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने उन खिलाड़ियों को भी धन्यवाद दिया, जिन्होंने उनके ही शब्दों में उनकी हर सोच को मैदान पर धरातल पर उतारा और कभी घुटने नहीं टेके। उन्होंने कहा कि इन साथियों ने इस यात्रा को और सुंदर और यादगार बना दिया।

विराट कोहली ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच रवि शास्त्री और सपोर्ट स्टाफ को धन्यवाद देते हुए कहा कि इस गाड़ी के इंजन वही लोग थे और उन्हीं के कारण टेस्ट क्रिकेट में भारत और आगे बढ़ा। उन्होंने कहा कि इस सपने को धरातल पर उतारने के लिए इन लोगों ने बड़ा किरदार अदा किया है। विराट कोहली ने अंत में अपने पूर्ववर्ती महेंद्र सिंह धोनी को भी धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्होंने उनमें विश्वास जताया और उन्हें इस लायक समझा, कि वो भारतीय क्रिकेट को आगे लेकर जा सकें।

इस्तीफे की घोषणा करते हुए विराट कोहली ने कहा, “ये सात वर्षों की मेहनत, रोज -रोक कड़े परिश्रम और सतत दृढ़ता का परिणाम है कि टीम सही दिशा में जा रही है। मैंने पूरी ईमानदारी के साथ ये कार्य किया है। मैंने कुछ भी छोड़ा नहीं। एक जगह पर आकर सभी चीजों को रुकना पड़ता है और भारतीय क्रिकेट टीम के टेस्ट कप्तान के रूप में मेरे लिए रुकने का यही समय है। इस यात्रा में कई उतार-चढ़ाव आए, लेकिन कभी हमने अपने मेहनत में कमी नहीं की और सोच को पीछे नहीं जाने दिया।”

विराट कोहली ने कहा कि वो हमेशा चीजों में 120% ताकत झोंकने में विश्वास रखते हैं। उन्होंने कहा कि जब उन्हें ऐसा नहीं होता, तब उन्हें लगता है कि ये नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनके दिल में पूरी स्पष्टता है और वो अपनी टीम के प्रति कभी बेईमान नहीं हो सकता। बता दें कि हाल ही में विराट कोहली दीवाली के दौरान ‘ज्ञान देने’ पर आलोचना के शिकार हुए थे। T20 विश्व कप के बाद उन्होंने सबसे छोटे फॉर्मेट में भी कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था। वहीं वनडे की कप्तानी से उन्हें बोर्ड ने हटा दिया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -