Sunday, June 13, 2021
Home विविध विषय विज्ञान और प्रौद्योगिकी 'स्वास्थ्य और पर्यावरण को होगा नुकसान': 5G के खिलाफ HC में जूही चावला, 2...

‘स्वास्थ्य और पर्यावरण को होगा नुकसान’: 5G के खिलाफ HC में जूही चावला, 2 जून को सुनवाई

"भारत में 5G टेक्नोलॉजी को लागू किए जाने से पहले RF रेडिएशन से मानव जाति, महिला, पुरुषों, व्यस्कों, बच्चों, शिशुओं, जानवरों, जीव-जंतुओं, वनस्पतियों और पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभावों को लेकर अच्छे से अध्ययन किया जाए और इससे संबंधित किए गए अथवा किए जाने वाले तमाम रिपोर्ट्स को सार्वजनिक किया जाए।"

मोबाइल नेटवर्क सेवा 5G को लेकर भारत में लंबे समय से चर्चा हो रही है। इस सेवा से निकले वाली रेडिएशन को लेकर भी कई तरह की खबरें आ रही हैं। बहुत से लोगों का मानना है कि 5G सेवा से निकलने वाली रेडिएशन काफी खतरनाक है। ऐसे में बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री जूही चावला ने भारत में 5G सेवा के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाया है।

जूही चावला काफी समय से 5G टावरों से निकलने वाले हानिकारक रेडिएशन के खिलाफ लोगों में जागरूक कर रही हैं। उन्होंने भारत में 5G टेक्नोलॉजी को लागू करने के खिलाफ मुंबई हाई कोर्ट में एक याचिका दायर की है। अभिनेत्री ने अपनी इस याचिका में माँग की है कि 5G टेक्नोलॉजी को लागू करने से पहले इससे जुड़े तमाम तरह के अध्ययनों पर गौर किया जाए और फिर उसके बाद ही इस टेक्नोलॉजी को भारत में लागू करने पर विचार किया जाए। मामले की सुनवाई 2 जून को होगी।

जूही चावला के प्रवक्ता ने एक आधिकारिक बयान में कहा कि भारत में 5G टेक्नोलॉजी को लागू किए जाने से पहले RF रेडिएशन से मानव जाति, महिला, पुरुषों, व्यस्कों, बच्चों, शिशुओं, जानवरों, जीव-जंतुओं, वनस्पतियों और पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभावों को लेकर अच्छे से अध्ययन किया जाए और इससे संबंधित किए गए अथवा किए जाने वाले तमाम रिपोर्ट्स को सार्वजनिक किया जाए। प्रवक्ता का कहना है कि इस तरह के अध्ययन से स्पष्ट किया जाना जरूरी है कि क्या 5G टेक्नोलॉजी भारत की मौजूदा और आने वाली पीढ़ी के लिए सुरक्षित या नहीं और इसके बाद ही इसे लागू करने को लेकर विचार किया जाए।

इस पूरे मामले पर बात करते हुए जूही चावला ने कहा, “हम तकनीक को लागू किए जाने के खिलाफ नहीं हैं। इसके उलट हम टेक्नोलॉजी की दुनिया से निकलने वाले नए उत्पादों का भरपूर लुत्फ उठाते हैं जिनमें वायरलेस कम्युनिकेशन भी शामिल है। हालाँकि इस तरह के डिवाइस को इस्तेमाल करने को लेकर हम हमेशा ही असमंजस की स्थिति में रहते हैं, क्योंकि वायरफ्री गैजेट्स और नेटवर्क सेल टावर्स से संबंधित हमारी खुद की रिसर्च और अध्ययन से यह पता चलता है कि इस तरह की रेडिएशन लोगों के स्वास्थ्य और उनकी सुरक्षा के लिए बेहद हानिकारक है।”

उल्लेखनीय है कि इन दिनों, खास कर महामारी के दौरान 5G तकनीक को लेकर काफी षड्यंत्रकारी सिद्धांत फैलाए जा रहे हैं। कई षड्यंत्र सिद्धांतकारों ने विशेषज्ञों द्वारा बार-बार स्पष्टीकरण के बाद भी बीमारी के लिए 5G नेटवर्क को दोषी ठहराया है, जबकि इसका बीमारी से कोई लेना-देना नहीं है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माता वैष्णो देवी की भूमि पर तिरुपति बालाजी के दर्शन: LG मनोज सिन्हा ने किया 62 एकड़ में बनने वाले मंदिर का भूमिपूजन

जम्मू में टीटीडी तिरुपति बालाजी के मंदिर के अलावा वेद पाठशाला, आध्यात्म केंद्र और आवास जैसी अन्य सुविधाओं का निर्माण करेगा। निकट भविष्य में स्वास्थ्य एवं शिक्षा सुविधाओं के निर्माण का लक्ष्य रखा गया है।

चीन और अमेरिका ने ठुकराई इमरान खान की ‘मैंगो डिप्लोमेसी’, वापस लौटाए तोहफे में मिले पाकिस्तानी आम

कभी गधे बेचने वाला हमारा पड़ोसी मुल्क आज ‘आम’ तोहफे में दे रहा है, हालाँकि ये अलग बात है कि अमेरिका और चीन समेत कई देशों ने पाकिस्तान के इन तोहफों को ठुकरा दिया।

राजस्थान में कौन बनेगा मंत्री: 9 कुर्सी पर 35 दावेदार, पायलट खेमा को अकेले चाहिए 6-7, विधायकों की फोन टैपिंग इसी कारण?

राजस्थान की गहलोत सरकार एक बार फिर से फोन टैपिंग मामले में घिरती नजर आ रही है। सरकार पर आरोप लग रहे हैं कि वह अपने ही MLA की....

अयोध्या को बनाएँगे धार्मिक, वैदिक और सोलर शहर- प्राचीन विरासत के साथ आधुनिकता का संगम: CM योगी

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह घोषणा की है कि राज्य सरकार अयोध्या को एक धार्मिक, वैदिक और सोलर सिटी के रूप में विकसित करेगी।

मात्र 84 टिकट और ₹6,000 का कलेक्शन: महाराष्ट्र के सिनेमाघरों में सलमान की फिल्म ‘राधे’ को नहीं मिल रहे दर्शक

महाराष्ट्र में दो सिनेमाघरों ने खुलने के तुरंत बाद ही सलमान खान की फिल्म ‘राधे’ से अपनी शुरुआत करने का फैसला किया लेकिन उन्हें निराशा ही हाथ लगी।

यति नरसिंहानंद की हत्या की साजिश: विपुल नहीं रमजान घुसा था मंदिर में, हिंदू धर्म छोड़ कासिफ की बहन से किया था निकाह

पुलिस व खुफिया एजेंसियों को पूछताछ में पता चला कि विपुल और कासिफ जीजा-साला हैं। विपुल ने डेढ़ साल पहले ही कासिफ की बहन आयशा से...

प्रचलित ख़बरें

सस्पेंड हुआ था सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट, लिबरलों ने फिर से करवाया रिस्टोर: दूसरों के अकाउंट करवाते थे सस्पेंड

जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदता है, वो उस गड्ढे में खुद गिरता है। सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट @TeamSaath के साथ यही हुआ।

आईएस में शामिल केरल की 4 महिलाओं को वापस नहीं लाएगी मोदी सरकार, अफगानिस्तान की जेलों में है कैद

केरल की ये महिलाएँ 2016-18 में अफगानिस्तान के नंगरहार पहुँची थीं। इस दौरान उनके पति अफगानिस्तान में अलग-अलग हमलों में मारे गए थे।

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?

‘तैमूर की अम्मी नहीं हैं माँ सीता के रोल के लायक… शूर्पणखा बन सकती हैं’: ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #BoycottKareenaKhan

यूजर्स का कहना है कि वह तैमूर की अम्मी को माँ सीता के रोल में नहीं देखना चाहते और इसलिए फिल्म मेकर्स को करीना के अलावा दूसरी अभिनेत्रियों को ये रोल असाइन करना चाहिए।

सुशांत ड्रग एडिक्ट था, सुसाइड से मोदी सरकार ने बॉलीवुड को ठिकाने लगाया: आतिश तासीर की नई स्क्रिप्ट, ‘खान’ के घटते स्टारडम पर भी...

बॉलीवुड के तीनों खान-सलमान, शाहरुख और आमिर के पतन के पीछे कौन? मोदी सरकार। लेख लिखकर बताया गया है।

‘नुसरत जहां कलमा पढ़े और ईमान में दाखिल हो, नाजायज संबंध थी उसकी शादी’ – मौलाना कारी मुस्तफा

नुसरत ने जिससे शादी की, उसके धर्म के मुताबिक करनी थी या फिर उसे इस्लाम में दाखिल कराके विवाह करना चाहिए था। मौलाना कारी ने...
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
103,589FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe