Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाज2 दिन, 14 राज्य, 647 नए कोरोना मामले, वजह- निजामुद्दीन मरकज तबलीगी जमात: स्वास्थ्य...

2 दिन, 14 राज्य, 647 नए कोरोना मामले, वजह- निजामुद्दीन मरकज तबलीगी जमात: स्वास्थ्य मंत्रालय

संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में पिछले 24 घंटों में 336 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। उनके अनुसार मरकज के एक कार्यक्रम से इतने सारे मामले बढ़ गए हैं जिसने हमारे अब तक के सारे प्रयास फेल कर दिए हैं। दिल्ली में कोरोना के 141 नए मामलों में से 129 तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं।

कोरोना महामारी से लड़ने के लिए लागू किए गए देशव्यापी लॉकडाउन के बावजूद देश में कोरोना वायरस संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है। जिसके पीछे मुख्य वजह तबलीगी जमात नजर आती है। आज शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने प्रेस से बातचीत में कोरोना मामलों के संदर्भ में सरकार की तरफ से जानकारी मुहैय्या करवाई। जिसके अनुसार अभी तक पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 2301 पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 56 लोगों की इस महामारी के चलते मौत हो चुकी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने यह भी बताया कि बीते दो दिनों में ही अब तक तबलीगी जमात के सदस्यों की वजह से 647 कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं जो देश के 14 राज्यों में फैले हुए हैं। इसके अलावा पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के कारण हुई 12 मौतों में से भी कई तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं।

संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि देश में पिछले 24 घंटों में 336 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं। उनके अनुसार मरकज के एक कार्यक्रम से इतने सारे मामले बढ़ गए हैं जिसने हमारे अब तक के सारे प्रयास फेल कर दिए हैं। दिल्ली में कोरोना के 141 नए मामलों में से 129 तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने प्रेस से यह भी कहा कि हमें समझना होगा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई चल रही है। ऐसे में हमारी एक गलती की वजह से हम और पीछे चले जाएँगे।

प्रेसवार्ता में मौजूद गृह मंत्रालय की अधिकारी पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने तबलीगी जमात के विदेशी सदस्यों पर वीजा नियमों की अवहेलना करने पर, की गई कार्यवाही के संबंध में भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि तब्लीगी जमात के 960 विदेशियों के वीजा कैंसिल कर दिए गए हैं, तथा उन्हें ब्लैकलिस्ट कर दिया गया है। साथ ही उन्होंने डॉक्टरों और मेडिकल स्टॉफ पर हो रहे हमलों के संदर्भ में जानकारी दी कि गृह मंत्रालय ने सभी राज्य सरकारों को पत्र लिखकर मेडिकल स्टॉफ तथा स्वास्थ्यकर्मियों आदि पर हो रहे हमलों के विषय में कठोर एक्शन लेने और कोरोना महामारी के विरुद्ध जारी इस लड़ाई में शामिल डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों आदि की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -