Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजश्रद्धा की हत्या के बाद महिला साइकोलॉजिस्ट को डेट किया, कमरे पर बुलाया: पॉलीग्राफी...

श्रद्धा की हत्या के बाद महिला साइकोलॉजिस्ट को डेट किया, कमरे पर बुलाया: पॉलीग्राफी टेस्ट में मुस्कुराता रहा आफताब, 13 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

दूसरी तरफ श्रद्धा की हत्या के बाद आरोपित आफताब ने जिस मनोचिकित्सक को डेट किया था, उसकी पहचान हो गई है। वह डेटिंग ऐप बम्बल के जरिए इस लड़की से मिला और उसे तब अपने कमरे पर बुलाया था, जब श्रद्धा के शव के टुकड़े फ्रिज में ही रखे थे।

श्रद्धा मर्डर मामले में आरोपित आफताब अमीन पूनावाला को दिल्ली पुलिस ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए साकेत कोर्ट में पेश किया। जज ने आफताब को 13 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। बताया जा रहा है कि आफताब को तिहाड़ जेल में रखा जा रहा है।

आफताब अमीन की बेहद गोपनीय तरीके से पेशी हो रही है। दिल्ली पुलिस मीडिया और आम लोगों से आफताब को दूर रख रही है। दरअसल, शनिवार (26 नवंबर, 2022) को उसे अंबेडकर अस्पताल ले जाया गया, जहाँ मेडिकल जाँच के बाद दोपहर करीब 2:30 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट के सामने उसकी पेशी हुई। वहाँ से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

हड्डियों का DNA श्रद्धा के पिता के DNA के साथ मैच हुआ

इधर, श्रद्धा मर्डर केस की जाँच कर रही दिल्ली पुलिस की टीम को 2 बड़ी सफलता मिली है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फॉरेंसिक जाँच में इस बात की पुष्टि हो गई है कि जंगल में मिली हड्डियाँ श्रद्धा की ही हैं। उनका DNA श्रद्धा के पिता के DNA से मैच हो गया है। अब पुलिस को विस्तृत रिपोर्ट्स का इंतजार है। फोरेंसिक टीम ने फिलहाल दिल्ली पुलिस को इस संबंध में मौखिक जानकारी दे दी है। पूरी रिपोर्ट देने में कुछ दिन का वक्त लग सकता है।

दूसरी तरफ श्रद्धा की हत्या के बाद आरोपित आफताब ने जिस मनोचिकित्सक को डेट किया था, उसकी पहचान हो गई है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, वह डेटिंग ऐप बम्बल के जरिए इस लड़की से मिला और उसे तब अपने कमरे पर बुलाया था, जब श्रद्धा के शव के टुकड़े फ्रिज में ही रखे थे। दिल्ली पुलिस ने अब उस लड़की की पहचान कर ली है। आफताब और श्रद्धा भी बम्बल ऐप पर ही मिले थे।

पुलिस को अब भी गुमराह कर रहा है शातिर

इस हत्याकांड को लेकर हर रोज नई बातें और तथ्य भले ही सामने आ रहे हैं, लेकिन पुलिस की जाँच के बावजूद ये केस जल्द सुलझता नहीं दिख रहा है। आफताब किसी शातिर अपराधी की तरह दिल्ली पुलिस के साथ माइंड गेम खेल रहा है। सच उगलवाने के लिए इस शातिर का पॉलीग्राफ टेस्ट भी हुआ, लेकिन पुलिस को अपेक्षित सफलता नहीं मिली। कई सवालों पर वो चुप रहा तो कई को टाल गया। कुछ सवालों पर तो वो मुस्कुराता नजर आया।

पुलिस को तमाम कोशिशों के बाद भी श्रद्धा के शव के सभी टुकड़े, आरी, श्रद्धा का सिर, श्रद्धा का मोबाइल और उसके कपड़े जो हत्या के समय पहने थे अब भी नहीं मिले हैं। दिल्ली पुलिस की उम्मीदें अब आफताब के नार्को टेस्ट है। आफताब का नार्को टेस्ट सोमवार को कराया जा सकता है।

बता दें कि दिल्ली के छतरपुर इलाके में 18 मई, 2022 को श्रद्धा वालकर की हत्‍या कर दी गई थी। आफताब अमीन और श्रद्धा मुंबई से यहीं किराए के एक फ्लैट में लिव इन रिलेशन में रहने पहुँचे थे। आफताब ने हत्या के बाद श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े किए और महरौली, गुरुग्राम व मैदानगढ़ी के इलाकों में फेंकता रहा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -