Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजअरबाज ने 12 साल के बच्चे को 26 बार चाकुओं से गोदा: खून का...

अरबाज ने 12 साल के बच्चे को 26 बार चाकुओं से गोदा: खून का निशान छिपाने के लिए डाला कपड़ा, एक्शन में MP पुलिस

अरबाज ने चोरी के रास्ते में आने वाले 12 साल के मासूम को चाकुओं से गोद डाला और मृत समझ कर फरार हो गया। इस हमले में बच्चे को 26 बार चाकू से गोदा गया है, उसकी हालत बेहद नाजुक है।

मध्य प्रदेश के छतरपुर में 12 साल के मासूम को चाकुओं से 26 बार गोदा गया, क्योंकि वो पड़ोस के रहने वाले नशेड़ी अरबाज को चोरी करने से रोक रहा था। अरबाज ने चोरी के रास्ते में आने वाले 12 साल के मासूम को चाकुओं से गोद डाला और मृत समझ कर फरार हो गया। जिस समय उसने वारदात को अंजाम दिया, उस समय घर में बच्चे के अलावा कोई नहीं था। बच्चा अपनी बुआ सुमन सिकरवार के यहाँ रहता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये वारदात छतरपुर के सिविल लाइन थानाक्षेत्र के नारायण बाग पहाड़िया क्षेत्र के अनगढ़ टोरिया इलाके की है। जहाँ शुक्रवार (15 मार्च 2024) को अरबाज नाम का युवक चोरी की नीयत से पड़ोसी के घर में घुसा। उस समय घर पर 12 साल का बच्चा समर मौजूद था। समर ने अरबाज को चोरी करने से रोका, तो अरबाज ने समर पर हमला कर दिया। अरबाज ने समर को एक, दो बार नहीं, बल्कि 26 बार चाकू से मारा। यही नहीं, अरबाज जब घर से भागा, तो समर को मृत समझ कर उसके ऊपर कपड़ा डाल दिया, ताकि किसी को खून का निशान न दिखे और उसको फरार होने का समय मिल जाए।

इस हमले में बच्चे के गर्दन, पेट और सिर और सीने में गंभीर चोट आई है। परिजन बच्चे को अस्पताल ले गए, डॉक्टरों ने उसकी गंभीर हालत को देखते हुए ग्वालियर रेफर कर दिया है। इस हमले में समर के फेफड़े को भी नुकसान पहुँचा है। बताया जा रहा है कि अरबाज नशेड़ी है और वो चोरी की कई वारदातों को अंजाम दे चुका है। अरबाज की उम्र करीब 20 साल बताई जा रही है।

इस वारदात की जानकारी मिलते ही एसपी अमित सांघी भी मौके पर पहुँचे। उन्होंने आरोपित अरबाज के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही है। वहीं, पुलिस ने आरोपी अरबाज खान के खिलाफ थाना सिविल लाइन में केस दर्ज कर लिया है। हालाँकि अरबाज अब तक फरार है और पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इन्सिटटे ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -