Monday, July 22, 2024
Homeदेश-समाजगुरुग्राम में फिर खुले में नमाज: बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने भगाया, कहा- हिंदुओं के...

गुरुग्राम में फिर खुले में नमाज: बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने भगाया, कहा- हिंदुओं के खिलाफ रच रहे साजिश, कुछ दिन बाद बना लेंगे मजार

बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने खुले में नमाज पढ़ने को लेकर कहा, "यहाँ 35 टुकड़े नहीं चलेंगे। ये उदयपुर नहीं है, गुड़गाँव है ये। गुड़गाँव की धरती है ये। दिन में पढ़ा करो तुम लोग नमाज। नमाज पढ़ने के लिए वहाँ से यहाँ आते हो। कहाँ है पुलिस प्रशासन।"

​हरियाणा के गुरुग्राम में एक बार फिर सार्वजनिक स्थानों पर नमाज अदा करने का मामला सामने आया है। शुक्रवार (23 दिसंबर 2022) को सेक्टर-69 में खुले में नमाज पढ़े जाने का हिंदू संगठनों ने जमकर विरोध किया है। मौके पर पहुँचे बजरंग दल के कार्यकताओं ने जुम्मे की नमाज पढ़ने आए मुस्लिमों को यहाँ से खदेड़ कर भगा दिया। इस दौरान पुलिस पर मौजूद रही।

हिंदू संगठनों का आरोप है कि दूसरी जगहों से सैकड़ों लोगों को बुलाकर यहाँ खुले में नमाज पढ़वाई जा रही है। हिंदुओं के खिलाफ बड़ी साजिश रची जा रही है। खुले में नमाज पढ़ने के लिए यह जमीन नहीं दी गई है। ​हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का आदेश है कि कोई भी खुले में नमाज नहीं पढ़ सकता है। यहाँ कई लोग अन्य जिले से आए हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, हिंदू संगठन के लोगों के कहना है कि मुस्लिम बाहर से आकर यहाँ नमाज पढ़ते हैं। मौलवी पलवल से यहाँ नमाज पढ़ाने आ रहा है। हर शुक्रवार को ये यहाँ आकर लैंड जिहाद कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा, “हम 15 सालों से यहाँ रह रहे हैं। थोड़े दिन बाद ये यहाँ मजार बनाकर कहेंगे की ये 25 साल पहले बनी थी। सीएम साहब के स्पष्ट आदेश है कि खुले में नमाज नहीं पढ़ सकते, इसके बावजूद ये लोग ऐसा कर रहे हैं।” बताया जा रहा है कि घटनास्थल पर दोनों पक्षों को नियंत्रित करने के लिए पुलिस बल तैनात किया गया है।

वहीं, सोशल मीडिया पर भी इस घटना का ​वीडियो खूब वायरल हो रहा है। वायरल हो रहे वीडियो में बजरंग दल के कार्यकर्ता मुस्लिमों द्वारा खुले में नमाज पढ़ने को लेकर उनका विरोध कर रहे हैं। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने कहा, “खुले में होने वाली 6 नमाजों को भी हटाया जाएगा। तुम्हें खुले में नमाज पढ़ने की अनुमति किसने दी है।” तभी एक अन्य कार्यकर्ता पीछे से कहता है कि ये लोग कह रहे हैं कि वे यहाँ 15 सालों से खुले में नमाज अदा कर रहे हैं, जबकि इस रोड को भी बने हुए 15 साल नहीं हुए हैं।

इसके बाद कार्यकर्ताओं ने कहा, “यहाँ 35 टुकड़े नहीं चलेंगे। ये उदयपुर नहीं है, गुड़गाँव है ये। गुड़गाँव की धरती है ये। दिन में पढ़ा करो तुम लोग नमाज। नमाज पढ़ने के लिए वहाँ से यहाँ आते हो। कहाँ है पुलिस प्रशासन।” इसके बाद सभी कार्यकर्ताओं ने पास में खड़ी पुलिस से इन पर कार्रवाई करने को कहा।

ध्यान दें पिछले साल 10 दिसंबर को हरियाणा CM मनोहर लाल खट्टर ने गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने के मामले पर कहा था, “अगर कोई अपनी जगह पर नमाज पढ़ता है, पाठ पढ़ता है उससे हमें कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन खुले में ऐसे कार्यक्रम नहीं होने चाहिए। नमाज पढ़ने का जो काम खुले में हुआ है, यह बिल्कुल भी सहन नहीं किया जाएगा।”

गौरतलब है कि पिछले साल भी गुरुग्राम में खुले में नमाज अदा करने को लेकर विरोध प्रदर्शन हुआ था। शुक्रवार (15 अक्टूबर, 2021) को गुरुग्राम सेक्टर-47 में स्थानीय हिंदू लोगों ने लगातार चौथे सप्ताह भजन-कीर्तन कर प्रदर्शन किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -