Monday, April 12, 2021
Home देश-समाज PM मोदी के नाम धर्म विज्ञान संकाय के छात्रों ने लिखा पत्र: कुलपति की...

PM मोदी के नाम धर्म विज्ञान संकाय के छात्रों ने लिखा पत्र: कुलपति की निकाली शवयात्रा, आज ग्राम देवता पूजन

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान के छात्रों द्वारा फिरोज खान की नियुक्ति के विरोध में किया जा रहा आंदोलन जारी है। छात्र कक्षाओं और परीक्षाओं के बहिष्कार पर अंतिम समाधान तक कायम हैं।

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान के छात्रों द्वारा फिरोज खान की नियुक्ति के विरोध में किया जा रहा आंदोलन जारी है। छात्र कक्षाओं और परीक्षाओं के बहिष्कार पर अंतिम समाधान तक कायम हैं। प्रशासन द्वारा छात्रों से माँगी गई 10 दिन की मोहलत समाप्ति के अंतिम चरण में है।

एक तरफ छात्रों को मिलने वाला समर्थन बढ़ता जा रहा है। काशी के साथ ही, हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए संकल्पित तमाम आचार्यों, शंकराचार्य, काशी विद्वत परिषद, धर्मसंघ शिक्षामंडल, पूर्व प्रोफ़ेसर-गुरुओं के साथ-साथ अयोध्या के संत और राम जन्म भूमि से जुड़े स्वामी राघवाचार्य, कई महंत और संस्कृत और सनातन की रक्षा को समर्पित कई विद्यालय भी इस आंदोलन में साथ हैं और सड़क पर उतरने को तैयार भी।

दूसरी तरफ प्रशासन का क्या निर्णय है, यह अभी छात्रों को नहीं बताया गया है। लेकिन खबर है कि डॉ. फिरोज खान का BHU के ही दूसरे संस्कृत विभागों में इंटरव्यू जारी है। कल (29 नवम्बर 2019) को आयुर्वेद के संस्कृत विभाग में असोसिएट प्रोफ़ेसर के लिए डॉ. खान का इंटरव्यू हुआ। जिसे छात्रों के विरोध से बचाने के लिए होल्कर भवन की जगह VC गेस्ट हाउस में कराया गया। प्रशासन ने डॉ. खान को मीडिया और छात्रों की नज़रों से बचाने के लिए अपनी सुरक्षा में उनका इंटरव्यू कराकर अपने साथ ले गया। डॉ. फिरोज का कला संकाय में इंटरव्यू भी 4 दिसंबर को है।

कला संकाय के संस्कृत विभाग की लिस्ट

बता दें कि इस पूरे मामले को संज्ञान में लेने वाली कार्यकारिणी की बैठक 7 दिसंबर को, छात्र इस पूरे मामले के शांतिपूर्ण समाधान के लिए आशान्वित हैं। लेकिन प्रशासन को अपने तरफ से कोई ढील नहीं देना चाहते, इसीलिए प्रशासन के मनाने के बाद 15 दिन तक चले धरना समाप्त करने के बाद भी आंदोलन जारी है और अब तो खुलकर दूसरे संकाय के छात्र भी संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय के छात्रों के समर्थन में आ गए हैं।

इसी कड़ी में कल मृत हो चुकी प्रशासन के विवेक को जगाने के लिए प्रतीकात्मक रूप से कला संकाय के बिरला छात्रावास के छात्रों ने प्रशासन की शव यात्रा निकाल कर अपना मुखर विरोध दर्ज कराया। कला संकाय के छात्र अभिषेक सिंह ने ऑपइंडिया को बताया, “महामना के मूल्यों के रक्षा के लिए तथा सनातन परम्परा के विरुद्ध धर्म विज्ञान संकाय के छात्रों के आंदोलन को समर्थन देने के लिए हम बिरला छात्रावास के छात्र कुलपति की शव यात्रा निकाल रहे हैं।” उत्कर्ष, मृत्युंजय तिवारी सहित सैकड़ों छात्रों के साथ SVDV के शुभम तिवारी,आनन्द मोहन झा, शशिकांत मिश्र आदि शामिल हुए लेकिन बेहद शांतिपूर्ण और शास्त्रीय आंदोलन के समर्थक धर्म विज्ञान संकाय के छात्र इससे दूरी बनाए रखे।

डॉ. मुनीश मिश्र ने कहा, “हमारे विरोध की भी एक पद्धति है लेकिन दूसरे संकाय के छात्र हैं जो हमारे समर्थन में सड़कों पर हैं तो हम उनकी भावना का भी सम्मान करते हैं। तरीका चाहे जो हो पर सभी का उद्देश्य एक है धर्म और मालवीय जी के मूल्यों की रक्षा।”

इससे पहले 29 नवम्बर को ही महामना के मूल्यों, सनातन परम्परा की रक्षा और फिरोज खान की नियुक्ति की उच्च स्तरीय जाँच के लिए तथा सनातन धर्म और संस्कृति की रक्षा के लिए संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय के छात्रों ने प्रधानमंत्री मोदी और मानव संसाधन विकास मंत्रालय को पत्र लिखा। इससे पहले भी कई आचार्यों और गणमान्य नागरिक, प्रोफ़ेसर आदि भी विश्वविद्यालय के विजिटर महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिख कर पूरे मामले के निष्तारण के लिए आवश्यक हस्तक्षेप के लिए अनुरोध कर चुके हैं। पूर्व आचार्यों सहित वर्तमान प्रोफेसरों की चिंता किसी भी तरह से इस मामले का हल ढूँढ BHU के बदनामी को रोक लेने की है।

मीडिया द्वारा फैलाए जा रहे है तमाम झूठों और भ्रमों से आहत डॉ. फिरोज की तरफ से विश्विद्यालय प्रशासन ने उनका अधिकारिक बयान जारी किया है। जिसमें उन्होंने मालवीय मूल्यों को अपनाने, BHU की सेवा करने और अपने बारे में मीडिया द्वारा झूठ न फैलाने का उन्होंने अनुरोध किया।

आज (30 नवंबर) BHU में आंदोलन की कड़ी में पूछे जाने पर शशिकांत मिश्र ने ऑपइंडिया को बताया, “आज परिसर स्थित ग्राम देवताओं की SVDV के छात्रों द्वारा माल्यार्पण और पूजा करने का कार्यक्रम है। जिसकी शुरुआत रुइया छात्रावास के शिव मंदिर से होगा।”

गौरतलब है कि छात्रों का आंदोलन जारी है। अपनी माँग डॉ. फिरोज खान का स्थानांतरण संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय से किसी और विभाग में करने तक छात्र आंदोलन से पीछे नहीं हटेंगे, ऐसा ज़्यादातर छात्रों का कहना है। साथ ही साथ उन्होंने बताया कि यदि प्रशासन अपनी बात से पलटता है तो समय आने पर हम इससे भी बड़े आंदोलन के लिए तैयार हैं।

कला संकाय के छात्रों द्वारा SVDV के समर्थन में निकाली गई शवयात्रा

छात्रों के विरोध के बीच डॉ. फिरोज ने दिया BHU आयुर्वेद संकाय में गुपचुप तरीके से इंटरव्यू

BHU में मशाल जुलूस के बाद आज भिक्षाटन कर ‘धर्म विज्ञान संकाय’ के छात्रों ने फिरोज की नियुक्ति का किया विरोध

फिरोज खान काण्ड पर तथाकथित बुद्धिजीवियों द्वारा उठाए गए हर प्रश्न का BHU के विद्वानों ने दिया उत्तर

अगर वीसी ने धर्म संकाय में नियुक्ति नियमों का ध्यान रखा होता तो BHU की बदनामी नहीं होती: प्रो. वशिष्ठ त्रिपाठी

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

रवि अग्रहरि
अपने बारे में का बताएँ गुरु, बस बनारसी हूँ, इसी में महादेव की कृपा है! बाकी राजनीति, कला, इतिहास, संस्कृति, फ़िल्म, मनोविज्ञान से लेकर ज्ञान-विज्ञान की किसी भी नामचीन परम्परा का विशेषज्ञ नहीं हूँ!

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वास्तिक को बैन करने के लिए अमेरिका के मैरीलैंड में बिल पेश: हिन्दू संगठन की आपत्ति, विरोध में चलाया जा रहा कैम्पेन

अमेरिका के मैरीलैंड में हाउस बिल के माध्यम से स्वास्तिक की गलत व्याख्या की गई। उसे बैन करने के विरोध में हिंदू संगठन कैम्पेन चला रहे।

आनंद को मार डाला क्योंकि वह BJP के लिए काम करता था: कैमरे के सामने आकर प्रत्यक्षदर्शी ने बताया पश्चिम बंगाल का सच

पश्चिम बंगाल में आनंद बर्मन की हत्या पर प्रत्यक्षदर्शी ने दावा किया है कि भाजपा कार्यकर्ता होने के कारण हुई आनंद की हत्या।

बंगाल में ‘मुस्लिम तुष्टिकरण’ है ही नहीं… आरफा खानम शेरवानी ‘आँकड़े’ दे छिपा रहीं लॉबी के हार की झुँझलाहट?

प्रशांत किशोर जैसे राजनैतिक ‘जानकार’ के द्वारा मुस्लिमों के तुष्टिकरण की बात को स्वीकारने के बाद भी आरफा खानम शेरवानी ने...

सबरीमाला मंदिर खुला: विशु के लिए विशेष पूजा, राज्यपाल आरिफ मोहम्मद ने किया दर्शन

केरल स्थित भगवान अयप्पा के सबरीमाला मंदिर में विशेष पूजा का आयोजन किया गया। विशु त्योहार से पहले शनिवार को मंदिर को खोला गया।

रमजान हो या कुछ और… 5 से अधिक लोग नहीं हो सकेंगे जमा: कोरोना और लॉकडाउन पर CM योगी

कोरोना संक्रमण के बीच सीएम योगी ने प्रदेश के धार्मिक स्थलों पर 5 से अधिक लोगों के इकट्ठे होने पर लगाई रोक। रोक के अलावा...

राजस्थान: छबड़ा में सांप्रदायिक हिंसा, दुकानों को फूँका; पुलिस-दमकल सब पर पत्थरबाजी

राजस्थान के बारां जिले के छाबड़ा में सांप्रदायिक हिसा के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया गया है। चाकूबाजी की घटना के बाद स्थानीय लोगों ने...

प्रचलित ख़बरें

‘ASI वाले ज्ञानवापी में घुस नहीं पाएँगे, आप मारे जाओगे’: काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को धमकी

ज्ञानवापी केस में काशी विश्वनाथ के पक्षकार हरिहर पांडेय को जान से मारने की धमकी मिली है। धमकी देने वाले का नाम यासीन बताया जा रहा।

बंगाल: मतदान देने आई महिला से ‘कुल्हाड़ी वाली’ मुस्लिम औरतों ने छीना बच्चा, कहा- नहीं दिया तो मार देंगे

वीडियो में तृणमूल कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता को उस पीड़िता को डराते हुए देखा जा सकता है। टीएमसी नेता मामले में संज्ञान लेने की बजाय महिला पर आरोप लगा रहे हैं और पुलिस अधिकारी को उस महिला को वहाँ से भगाने का निर्देश दे रहे हैं।

SHO बेटे का शव देख माँ ने तोड़ा दम, बंगाल में पीट-पीटकर कर दी गई थी हत्या: आलम सहित 3 गिरफ्तार, 7 पुलिसकर्मी भी...

बिहार पुलिस के अधिकारी अश्विनी कुमार का शव देख उनकी माँ ने भी दम तोड़ दिया। SHO की पश्चिम बंगाल में पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी।

पॉर्न फिल्म में दिखने के शौकीन हैं जो बायडेन के बेटे, परिवार की नंगी तस्वीरें करते हैं Pornhub अकॉउंट पर शेयर: रिपोर्ट्स

पॉर्न वेबसाइट पॉर्नहब पर बायडेन का अकॉउंट RHEast नाम से है। उनके अकॉउंट को 66 badge मिले हुए हैं। वेबसाइट पर एक बैच 50 सब्सक्राइबर होने, 500 वीडियो देखने और एचडी में पॉर्न देखने पर मिलता है।

कूच बिहार में 300-350 की भीड़ ने CISF पर किया था हमला, ममता ने समर्थकों से कहा था- केंद्रीय बलों का घेराव करो

कूच बिहार में भीड़ ने CISF की टीम पर हमला कर हथियार छीनने की कोशिश की। फायरिंग में 4 की मौत हो गई।

राजस्थान: छबड़ा में सांप्रदायिक हिंसा, दुकानों को फूँका; पुलिस-दमकल सब पर पत्थरबाजी

राजस्थान के बारां जिले के छाबड़ा में सांप्रदायिक हिसा के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया गया है। चाकूबाजी की घटना के बाद स्थानीय लोगों ने...
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,173FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe