Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजजाँच एजेंसियों की रडार पर केरल के CM विजयन की बेटी वीणा, अवैध लेनदेन...

जाँच एजेंसियों की रडार पर केरल के CM विजयन की बेटी वीणा, अवैध लेनदेन से जुड़ा है मामला: केंद्र ने दिया जाँच का आदेश

केंद्र सरकार ने केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन की बेटी टी. वीणा की कंपनी एक्सलॉजिक के खिलाफ जाँच का आदेश दिया है। दरअसल, यह जाँच कंपनी रजिस्ट्रार द्वारा प्रस्तुत एक रिपोर्ट से शुरू की गई है, जिसमें कंपनी अधिनियम के तहत विभिन्न उल्लंघनों और अपराधों पर प्रकाश डाला गया है। केंद्र की कॉरपोरेट अफेयर के महानिदेशक के आदेश पर तीन सदस्यीय टीम इसकी जाँच करेगी।

केंद्र सरकार ने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन की बेटी टी. वीणा की कंपनी एक्सलॉजिक के खिलाफ जाँच का आदेश दिया है। दरअसल, यह जाँच कंपनी रजिस्ट्रार द्वारा प्रस्तुत एक रिपोर्ट से शुरू की गई है, जिसमें कंपनी अधिनियम के तहत विभिन्न उल्लंघनों और अपराधों पर प्रकाश डाला गया है। केंद्र की कॉरपोरेट अफेयर के महानिदेशक के आदेश पर तीन सदस्यीय टीम इसकी जाँच करेगी।

वीणा की कंपनी की जाँच के लिए जो टीम नियुक्त की गई है, उसमें कर्नाटक के डिप्टी रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज वरुण बीएस, चेन्नई के डिप्टी डायरेक्टर केएम शंकर नारायण और पांडिचेरी कंपनी के रजिस्ट्रार ए गोकुलनाथ शामिल हैं। कॉरपोरेट मामलों के महानिदेशक ने जाँच रिपोर्ट चार महीने के भीतर सौंपने का आदेश दिया है।

12 जनवरी 2024 को जारी आदेश में कहा गया है, “एक शिकायत के आधार पर कंपनी अधिनियम 2013 की धारा 206 (4) के प्रावधानों के तहत कंपनी रजिस्ट्रार, बैंगलोर द्वारा एक्सलॉजिक सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड की जाँच की गई थी। जिसने अधिनियम के तहत विभिन्न उल्लंघनों और अपराधों पर प्रकाश डालते हुए मामलों की जाँच की सिफारिश की।”

इस आदेश में एर्नाकुलम के कंपनी रजिस्ट्रार द्वारा दी गई उस रिपोर्ट का भी हवाला दिया गया है, जो केंद्र को सौंपी गई थी। वहीं, आयकर अंतरिम सेटलमेंट बोर्ड (आईटीआईएसबी) ने बताया था कि साल 2017 से तीन वर्षों में कोचीन मिनरल्स एंड रुटाइल लिमिटेड (CMRL) द्वारा एक्सलॉजिक सॉल्यूशंस को 1.72 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया था।

सीएमआरएल से वीणा की फर्म को मासिक भुगतान की रिपोर्ट सामने आने के बाद राजनीतिक विवाद शुरू हो गया था। विपक्ष ने विजयन की सरकार पर वीणा को अवैध रूप से फायदा पहुँचाने का आरोप लगाया था। बिना किसी सर्विस के वीणा की कंपनी से वित्तीय लेन-देन किया गया। उन्होंने आरोप लगाया था कि सीएमआरएल को अनुचित लाभ पहुँचाने के लिए वीणा की कंपनी को पैसे दिए गए।

मुवत्तुपुझा से कांग्रेस विधायक मैथ्यू कुझालनदान ने कंपनी के खिलाफ आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि मुख्यमंत्री की बेटी ने उनकी कंपनी का जीएसटी नहीं चुकाया है। उन्होंने कथित रिश्वत को लेकर वीणा के खिलाफ जाँच की माँग करते हुए सतर्कता विभाग से भी संपर्क किया था।

इसके अलावा, आईटीआईएसबी द्वारा ट्रेड यूनियन नेताओं, अधिकारियों और राजनेताओं को अवैध भुगतान पाए जाने के बाद केंद्रीय कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय ने सीएमआरएल और केएसआईडीसी को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

शूटिंग क्लब का सदस्य था डोनाल्ड ट्रम्प पर गोली चलाने वाला, शिकारी वाली वेशभूषा थी पसंद: रिपब्लिकन पार्टी ने बुलाया राष्ट्रीय सम्मेलन, पूर्व राष्ट्रपति...

वो लगभग 1 साल से पास में ही स्थित 'क्लेयरटन स्पोर्ट्समेन क्लब' का सदस्य भी था। इसमें कई शूटिंग रेंज हैं। पहले से कोई भी आपराधिक या ट्रैफिक चालान का मामला दर्ज नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -