Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजजावेद-अख्तर ने मिल कर हिन्दू सब्जी विक्रेता को पीटा, महिलाओं को भी नहीं छोड़ा:...

जावेद-अख्तर ने मिल कर हिन्दू सब्जी विक्रेता को पीटा, महिलाओं को भी नहीं छोड़ा: छत्तीसगढ़ के कवर्धा में बंद का ऐलान, पहले भी हुए थे दंगे

पीड़ित परिवार का आरोप है कि हमलावरों ने उन्हें जान से मार डालने की धमकी भी दी। घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुँच गई। प्रकाश की बहन राधिका की शिकायत पर...

छत्तीसगढ़ के कवर्धा में सांप्रदायिक तनाव की खबर है। यहाँ अख्तर और जावेद नाम के आरोपितों द्वारा सब्जी विक्रेता प्रकाश साहू की पिटाई के बाद हिन्दू संगठन आक्रोशित हैं। बताया जा रहा है कि हमलावरों ने पीड़ित के पूरे परिवार पर भी हमला किया था। भाजपा ने राज्य सरकार पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाया है। घटना के विरोध में कवर्धा बंद का भी एलान किया गया है। अब तक 3 आरोपितों की गिरफ्तारी की सूचना है। घटना शनिवार (19 नवम्बर, 2022) की बताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना शहर के लोहरा नाका चौक की है। यही वो जगह है जहाँ कुछ दिनों पहले झंडा लगाने के विवाद ने बड़ा रूप ले लिया था। यहाँ पर प्रकाश साहू अपने परिवार के साथ रहते हैं। वो सब्ज़ी बेच कर गुजर-बसर करते हैं। इस जगह पर पक्की सड़क का निर्माण हो रहा है। इस निर्माण कार्य के लिए गिराए जा रहे मैटेरियल को ठेकेदार सड़क के एक हिस्से में गिरा रहा था। वहाँ मौजूद प्रकाश साहू ने ठेकेदार से सामान थोड़ी दूर गिराने के लिए कहा। इसी के चलते दोनों के बीच बहस होने लगी।

बताया जा रहा है कि इसी दौरान आरोपित अख्तर खान वहाँ पहुँच गया। अख्तर ने बीच में पड़ते हुए प्रकाश साहू को हड़काना शुरू कर दिया। प्रकाश ने अख्तर को बीच में न पड़ने के लिए कहा। इसी बात पर दोनों पक्षों में बातचीत से शुरू हुआ विवाद मारपीट में बदल गया। इस बीच प्रकाश के परिवार से कुछ महिलाएँ भी विवाद वाली जगह पहुँच गईं। प्रकाश के परिजनों का आरोप है कि अख्तर ने अपने कई साथियों को बुला लिया। शिकायत में बताया गया है कि अख्तर और उसके साथियों ने इस दौरान प्रकाश के साथ उनकी बहन राधिका व घर के अन्य सदस्यों की पिटाई की।

पीड़ित परिवार का आरोप है कि हमलावरों ने उन्हें जान से मार डालने की धमकी भी दी। घटना की जानकारी होते ही पुलिस मौके पर पहुँच गई। प्रकाश की बहन राधिका की शिकायत पर अख्तर और जावेद को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के मुताबिक मामले की जाँच की जा रही है। वहीं हिन्दू संगठनों ने इस घटना पर आक्रोश जताया है। घटना के विरोध में विहिप और भाजपा नेताओं ने राजनांदगाँव मार्ग पर जाम लगा दिया। इस दौरान पुलिस पर आरोपितों को संरक्षण देने के भी आरोप लगे।

प्रदर्शन में शामिल पूर्व संसदीय सचिव मोतीराम चंद्रवती ने छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री मोहम्मद अकबर पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मोहम्मद अकबर ही ऐसे तत्वों को संरक्षण देते हैं। घटना के विरोध में हिन्दू संगठनों ने कवर्धा बंद का भी एलान किया। इस दौरान मोहम्मद अकबर के इस्तीफे की भी माँग करते हुए प्रदेश सरकार पर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाया गया। घटना की संवेदनशीलता को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भिंडराँवाले के बाद कॉन्ग्रेस ने खोजा एक नया ‘संत’… तब पैसा भेजते थे, अब संसद में कर रहे खुला समर्थन: समझिए नेहरू-गाँधी परिवार की...

RA&W और सेना के पूर्व अधिकारी कह चुके हैं कि कॉन्ग्रेस ने पंजाब में खिसकती जमीन वापस पाने के लिए भिंडराँवाले को पैदा किया। अब वही फॉर्मूला पार्टी अमृतपाल सिंह के साथ आजमा रही। कॉन्ग्रेस के बड़े नेता जरनैल सिंह के सामने फर्श पर बैठते थे। संजय गाँधी ने उसे 'संत' बनाया था।

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -