Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजसीनियर डॉक्टर सैफ करता था तंग… जूनियर प्रीति ने एनिस्थीसिया का इंजेक्शन लगाकर कर...

सीनियर डॉक्टर सैफ करता था तंग… जूनियर प्रीति ने एनिस्थीसिया का इंजेक्शन लगाकर कर ली आत्महत्या: आरोपित बोला- ‘मैं उसे सुधार रहा था’

तेलंगाना में एक दलित मेडिकल छात्रा डॉ प्रीति ने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने जाँच में पाया कि उसके सीनियर डॉ सैफ उसकी रैगिंग करते थे जिसकी वजह से वह काफी तंग रहती थी। कुछ समय पहले उसने खुद को एनेस्थीसिया के इंजेक्शन दिए, जिसके बाद उसका इलाज चला और रविवार को खबर आई कि उसने दम तोड़ दिया है।

तेलंगना के वारंगल जिले में आत्महत्या का प्रयास करने वालीं काकतीय मेडिकल कॉलेज की दलित छात्रा डॉ प्रीति की इलाज के दौरान मौत हो गई है। प्रीति के सीनियर डॉ सैफ पर उन्हें रैंगिंग के नाम पर प्रताड़ित करने का आरोप है। डॉ प्रीति की मृत्यु की पुष्टि रविवार (26 फरवरी 2023) को निज़ाम इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेस द्वारा की गई है। बुधवार (22 फरवरी 2023) को पीड़िता ने एनेस्थीसिया की दवा का इंजेक्शन लगाकर आत्महत्या की कोशिश की थी। तब से उनका इलाज चल रहा था।

इस मामले में आरोपित डॉ सैफ को पुलिस ने शुक्रवार (24 फरवरी 2023) को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस सैफ के खिलाफ सबूत जुटा रही है। पुलिस ने प्रीति का फोन चेक करने के बाद पाया कि उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा था। सैफ पर SC/ST एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। वहीं निज़ाम इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेस के सुपरिंटेंडेंट ने प्रीति की मौत की खबर की पुष्टि अपने आधिकारिक लेटर हेड पर की है। उन्होंने बताया कि तमाम कोशिशों के बाद भी हम डॉ प्रीति को नहीं बचा पाए। पीड़िता ने रात 9 बज कर 10 मिनट पर अंतिम सांस ली।

जानकारी के मुताबिक डॉ प्रीति के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। घटना के बाद से मृतका की हालत लगातर गंभीर बनी हुई थी। इस दौरान कई डॉक्टरों ने प्रीति के लिए चिंता जरूर प्रकट की लेकिन उन्होंने सैफ के साथ अपना समर्थन खुल कर दिखाया था। खुद आरोपित सैफ का मानना था कि वो प्रीति के कामों में सुधार कर रहे थे जिसे प्रीति खुद के लिए परेशानी मानती थी। तेलंगाना जूनियर्स डॉक्टर एसोशिएशन ने भी सैफ के समर्थन में आवाज उठाते हुए उनके खिलाफ दर्ज केस बंद करने की माँग की।

जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन का मानना है कि जिसे पुलिस रैंगिंग बता रही है वह सीनियर और जूनियर के बीच सामान्य बातचीत है। इसी मामले ट्राइबल यूनियन ने गुरुवार (23 फरवरी 2023) को प्रीति के समर्थन और सैफ के विरोध में अस्पताल के बाहर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकरियों ने पुलिस पर सैफ के खिलाफ कार्रवाई में हीलाहवाली का आरोप लगाया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -