Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजकेजरीवाल की असमर्थता के बाद, LG ने वापस लिया फैसला: दिल्ली में अब होम...

केजरीवाल की असमर्थता के बाद, LG ने वापस लिया फैसला: दिल्ली में अब होम क़्वारन्टाइन रह सकेंगे कोरोना पॉजिटिव

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल से कहा है कि होम आइसोलेशन खत्म करने पर समस्याएँ होंगी। उन्होंने कहा था कि सरकारी अस्पतालों और अन्य सरकारी इंतजामों में अभी सिर्फ 6000 बेड उपलब्ध हैं, जबकि दिल्ली में अभी होम आइसोलेशन में 10 हजार लोग रह रहे हैं.......

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने कोरोना पॉजिटिव मरीजों को होम क़्वारन्टाइन करने पर रोक लगाने वाले अपने ही फैसले को वापस ले लिया है। इससे उन हजारों मरीजों को राहत मिलेगी जो अस्पताल में भर्ती होना चाहते हैं। साथ ही दिल्ली सरकार ने हालात को संभालने के लिए छुट्टी पर गए सभी स्वास्थ्यकर्मियों को वापस बुलाने के लिए अस्पतालों को पत्र लिखा है।

दरअसल शुक्रवार (19 जून, 2020) को ही दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों को होम क़्वारन्टाइन करने पर रोक लगा दी थी। इसके साथ ही उपराज्यपाल ने दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों को पहले पाँच दिन अनिवार्य संस्थागत क़्वारन्टाइन करने का आदेश दिया था।

इस फैसले का विरोध करते हुए दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा था कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल से कहा है कि होम आइसोलेशन खत्म करने पर समस्याएँ होंगी। उन्होंने कहा था कि सरकारी अस्पतालों और अन्य सरकारी इंतजामों में अभी सिर्फ 6000 बेड उपलब्ध हैं, जबकि दिल्ली में अभी होम आइसोलेशन में 10 हजार लोग रह रहे हैं। अब सवाल है कि इन्हें कहाँ रखा जाए।

दूसरी ओर शनिवार (20 जून, 2020) को केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के सभी सरकारी अस्पतालों को एक पत्र लिखा है, जिसमें सरकार ने छुट्टी पर चल रहे सभी स्वास्थ्यकर्मियों को बुलाने की बात कही है। इसी के साथ आप सरकार ने कहा है कि अति आवश्यक काम होने की स्थिति में ही स्वास्थ्यकर्मियों को छुट्टी दी जानी चाहिए।

सरकार से पत्र जारी होने के बाद ही दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग ने सभी स्वास्थ्यकर्मियों की छुट्टियों को रद्द कर दिया है। इसे लेकर स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग के विशेष सचिव की ओर से एक आदेश भी जारी किया गया है।

आपको बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 53116 हो चुकी है। इसके अलावा दिल्ली में कोरोना के कारण मरने वालों की संख्या 2035 हो गई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -