Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाज1 की मौत, 3 घायल: बिहार जाने वाली ट्रेन में चढ़ने के दौरान सूरत...

1 की मौत, 3 घायल: बिहार जाने वाली ट्रेन में चढ़ने के दौरान सूरत रेलवे स्टेशन पर हादसा, RPF जवानों ने बचाई कई की जान

हादसे के बाद सूरत की सांसद और राज्य रेल मंत्री दर्शना जरदोश घायलों से मिलने अस्पताल पहुँची। वहाँ उन्होंने घायलों से मिलकर उनका हालचाल जाना।

देशभर में लोग दिवाली और छठ पर्व के लिए घर जा रहे हैं। ऐसे में बस अड्डे और रेलवे स्टेशन पर लोगों की भारी भीड़ जमा है। इसी कड़ी में गुजरात के सूरत रेलवे स्टेशन पर शनिवार (11 नवंबर, 2023) को भगदड़ की घटना सामने आई है। इस हादसे में बिहार के एक व्यक्ति की मौत भी हो गई। वहीं कई लोगों के घायल होने के साथ ही चार-पाँच लोग बेहोश बताए जा रहे हैं, जिनको हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। जिन्हें होश आ गया है।

पश्चिम रेवले के प्रवक्ता सुमित ठाकुर के अनुसार सूरत स्टेशन पर भीड़ को लेकर जरूरी उपाय किए गए हैं। फिर भी भीड़ ट्रेन में चढ़ने के लिए बेकाबू हो जा रही है। वहीं घटना को लेकर पुलिस अधीक्षक (पश्चिम रेलवे) सरोजनी कुमारी ने बताया कि यात्री सुबह सूरत रेलवे स्टेशन से ताप्ती गंगा एक्सप्रेस ट्रेन में चढ़ने के लिए दौड़ पड़े, जिससे अफरा-तफरी का माहौल हो गया और हादसे में एक की मौत हो गई जबकि तीन  लोग घायल हो गए।

क्या है पूरी घटना 

दरअसल, सूरत रेलवे स्टेशन पर दीवाली और छठ के मौके पर घर पहुँचने के लिए पिछले दो दिनों से भारी भीड़ सामने आ रही थी। ऐसे में शनिवार की सुबह जैसे ही छपरा जा रही ताप्ती गंगा एक्सप्रेस ट्रेन स्टेशन पर पहुँची तो यात्रियों में भगदड़ मच गई। भगदड़ में बिहार के एक एक व्यक्ति की मौत सहित कई यात्रियों के गिरने से चोट लगाने की खबर सामने आई है।

शुरूआती जाँच में भगदड़ में जान गँवाने वाले यात्री की पहचान वीरेंद्र कुमार के तौर पर हुई है। वह बिहार के छपरा के रहने वाले थे और सूरत में नौकरी करते थे। रेलवे पुलिस के अनुसार भगदड़ में बेहोश हुए वीरेंद्र कुमार को इलाज के लिए नजदीक के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया था। जहाँ पर उनकी मौत हो गई।

इस हादसे के बारे में प्रत्यक्षदर्शी विनय कुमार ने बताया कि मृतक वीरेंद्र कुमार डायमंड के कारीगर थे। वे अपने भाई के साथ ताप्ती गंगा एक्सप्रेस से बिहार के भागलपुर जाने के लिए पहुँचे थे। जब ट्रेन आई तो उसमें चढ़ने के लिए धक्का-मुक्की और भगदड़ हुई। इसी दौरान वीरेंद्र नीचे गिर गए। और यह हादसा हो गया। 

बेहोश हुए यात्रियों को आरपीएफ के अधिकारियों ने दिया सीपीआर

सूरत रेलवे स्टेशन पर भारी भीड़ और भगदड़ में बेहोश हुए 5 यात्रियों को आरपीएफ के अधिकारियों ने सीपीआर देकर बचाया। हालाँकि, इस तरह की भीड़ शनिवार को पहली बार नहीं देखी गई बल्कि सूरत रेलवे स्टेशन पर एक दिन पहले भी यात्री ट्रेन में खिड़कियों के जरिए घुसे थे। तब भी अफरा-तफरी की स्थिति बन गई थी। 

रेल राज्य मंत्री ने लिया घायलों का हालचाल 

हादसे के बाद सूरत की सांसद और राज्य रेल मंत्री दर्शना जरदोश घायलों से मिलने अस्पताल पहुँची। वहाँ उन्होंने घायलों से मिलकर उनका हालचाल जाना।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नारी शक्ति को मोदी सरकार ने समर्पित किए ₹3 लाख करोड़: नौकरी कर रहीं महिलाओं और उनके बच्चों के लिए भी रहने की सुविधा,...

बजट में महिलाओं की हिस्सेदारी कार्यबल में बढ़ाने पर काम किया गया है। इसके अलावा कामकाजी महिलाओं के लिए छात्रावास स्थापित करने का भी ऐलान हुआ।

25000 ग्रामीण बसावटों के लिए सड़क, कोसी-मेची के जुड़ने से किसानों को फायदा: बजट 2024 में इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए ₹1111111 करोड़, राज्यों को भी...

बजट 2024-25 में इंफ्रास्ट्रक्चर पर जोर है। इसके साथ ही पहाड़ी राज्यों में बादल फटने और लैंड स्लाइड से हुई हानि के लिए भी प्रावधान है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -