Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाज'बच्चों के सामने पीएम मोदी और सीएम योगी को देते हैं गंदी-गंदी गालियाँ': देवरिया...

‘बच्चों के सामने पीएम मोदी और सीएम योगी को देते हैं गंदी-गंदी गालियाँ’: देवरिया के स्कूल में ‘जय हिंद’ कहने पर शिक्षक की पिटाई मामले में खुलासा

देवरिया स्कूल में मारपीट कांड के पीड़ित शिक्षक अरुण कुमार सिंह ने बताया कि स्कूल में कुछ शिक्षक गुट बनाकर रहते और ना ही बच्चों को बढ़ाते हैं और ना स्कूल के किसी कार्यक्रम में भाग लेते हैं। उन्होंने कहा कि ये शिक्षक पीएम नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को बच्चों के सामने गंदी-गंदी गालियाँ देते हैं।

उत्तर प्रदेश के देवरिया के एक स्कूल में प्रार्थना सभा के दौरान ‘जय हिंद’ कहने को लेकर शिक्षक की पिटाई के मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पीड़ित शिक्षक अरुण कुमार सिंह ने बताया कि स्कूल में कुछ शिक्षक गुट बनाकर रहते और ना ही बच्चों को बढ़ाते हैं और ना स्कूल के किसी कार्यक्रम में भाग लेते हैं। उन्होंने कहा कि ये शिक्षक पीएम नरेंद्र मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को बच्चों के सामने गंदी-गंदी गालियाँ देते हैं।

दरअसल, लार विकास खंड के धरहरा कंपोजिट विद्यालय में शनिवार (23 दिसंबर, 2023) को प्रार्थना सभा के दौरान ‘जय हिंद’ बोलने पर धर्मेंद्र कुमार वर्मा, अनय कुमार, संजय कुमार ने शिक्षक अरुण कुमार सिंह की पिटाई कर दी थी। इस घटना में अरुण सिंह को गंभीर चोटें आई हैं। प्रभारी प्रिंसिपल राम विलास भी घटना के दौरान मूकदर्शक बने रहे।

दैनिक भास्कर से बात करते हुए पीड़ित शिक्षक ने कहा कि ये स्कूल में गुट बनाकर रहते हैं और जातिवाद दलित-सवर्ण को जातिवाद करते रहते हैं। उनका कहना है कि वे स्कूल में छात्रों को पढ़ाते भी नहीं हैं और गुट बनाकर स्कूल में बैठे रहते हैं। 8वीं तक के इस स्कूल में सिर्फ कुछ ही कक्षाएँ चलती हैं। इस मामले में सभी चारों शिक्षकों को निलंबित कर दिया गया है।

अरुण सिंह के अनुसार, “मैं इस स्कूल में पिछले 3 साल से पढ़ा रहा हूँ। पहले स्कूल की हालत बहुत खराब थी। यहाँ आने के बाद मैंने पढ़ाई का स्तर थोड़ा सुधारा तो आरोपित टीचर मुझे धमकाने लगे। ऐसा करने से मुझे रोका गया। जब मैं बच्चों को प्रार्थना के बाद राष्ट्रगान करवाता हूँ तो ये लोग तेज-तेज हँसते हैं। स्कूल के किसी भी कार्यक्रम में ये शामिल नहीं होते, चाहे प्रार्थना हो या पूजा।”

अरुण सिंह ने कहा, “इन लोगों को पता नहीं क्यों हिंदू धर्म से इतनी नफरत है? देश के प्रधानमंत्री, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री, सरकार की योजनाओं आदि का ये लोग मजाक बनाते रहते हैं। मैं बच्चों को स्कूल में प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री के बारे में बताता हूँ तो ये लोग बच्चों के सामने उन्हें गंदी-गंदी गालियाँ देते हैं। सरकारी योजनाओं को लेकर कहते हैं, हमें पता है वो लोग क्या काम करते हैं?”

अरुण कुमार ने कहा कि हाल में ही चंद्रयान लॉन्च किया गया था और जब वे स्कूल में चंद्रयान लॉन्च होने का वीडियो बच्चों को दिखाने की कोशिश की तो इन शिक्षकों ने उसे दिखाने नहीं दिया। उन्होंने कहा कि क्लास में बच्चों को इसलिए चंद्रयान लॉन्च का वीडियो दिखाना चाहते थे, ताकि बच्चे कुछ सीख सकें।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि इन शिक्षकों को हिंदू धर्म से भी नफरत है। स्कूल में हर पूजा को ये लोग रोकने की कोशिश करते हैं और भगवान की मूर्ति के साथ खिलवाड़ करते हैं। पीड़ित शिक्षक ने कहा कि ये तीनों शिक्षक स्कूल में कभी आते हैं और कभी चले जाते हैं। क्लास में पीछे की सीटों को जोड़कर सोते रहते हैं और मना करने पर गाली देने लगते हैं।

BSA शालिनी श्रीवास्तव ने कहा कि मामले में जाँच की जा रही है और गलत पाए जाने वाले शिक्षकों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए 2 सदस्यीय टीम का गठन कर कर दिया गया है। शालिनी श्रीवास्तव ने यह भी कहा कि स्कूल में बच्चों से उन शिक्षकों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। आरोपित शिक्षकों का रिकॉर्ड खराब ही मिला है। उन पर एक्शन लिया गया है।

बताते चलें कि BSA ने आरोपित शिक्षकों के साथ-साथ पीड़ित शिक्षक को भी निलंबित कर दिया गया है। वहीं, घटना की सूचना मिलने के बाद स्कूल पहुँची पुलिस ने तीनों आरोपित शिक्षकों- अनय कुमार, असिस्टेंट टीचर धर्मेंद्र वर्मा, टीचर संजय कुमार को हिरासत में लेकर थाने लेकर चली गई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

वामपंथी सरकार ने चलवाई गोली, मारे गए 13 कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता: जानें क्यों ममता बनर्जी मना रहीं ‘शहीद दिवस’, TMC ने हाईजैक किया कॉन्ग्रेस का...

कभी शहीद दिवस कार्यक्रम कॉन्ग्रेस मनाती थी, लेकिन ममता बनर्जी ने कॉन्ग्रेस पार्टी से अलग होने के बाद युवा कॉन्ग्रेस के 13 कार्यकर्ताओं की हत्या को अपने नाम के साथ जोड़ लिया और उसका इस्तेमाल कम्युनिष्टों की जड़ काटने में किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -