Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाज'2 बीवी रखने से जन्नत मिलती है': 9 बच्चों के अब्बा साकिर ने पहले...

‘2 बीवी रखने से जन्नत मिलती है’: 9 बच्चों के अब्बा साकिर ने पहले राजकुमार बन पंजाबी महिला को फँसाया, फिर धर्मांतरण का दबाव; FIR दर्ज

पीड़िता का कहना है कि जब उसे यह पता चला कि आरोपित की पत्नी जिंदा है और व 9 बच्चों का बाप है तो उसने इसका विरोध किया। जिस पर साकिर ने कहा कि उसके मजहब में एक से अधिक बीवी रखना सबाब (पुण्य) का काम है इससे जन्नत मिलती है।

मध्य प्रदेश के इंदौर से लव जिहाद और धर्मांतरण की खबर सामने आई है। यहाँ, साकिर मोहम्मद नामक व्यक्ति ने खुद को राजकुमार बताते हुए युवती से दोस्ती की और फिर उसका रेप कर उसका अश्लील वीडियो बना लिया। इसके बाद उस पर धर्मांतरण करने का दवाब बनाने लगा। मना करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी देता था। स्थानीय थाने में एफआईआर दर्ज न होने पर पीड़िता ने हाईकोर्ट की शरण ली। कोर्ट के आदेश के बाद एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

दरअसल, यह पूरा मामला साकिर मोहम्मद और शहडोल निवासी पंजाबी महिला के बीच का है। महिला ने याचिकी दायर कर हाईकोर्ट में कहा है कि चार साल पहले हुए एक एक्सीडेंट में उसके पति मौत हो गई थी। इसके बाद वह अकेली रह रही थी। इस दौरान वह काम की तलाश में थी। काम न मिलने पर वह लोन लेने के लिए एक बैंक गई थी। जहाँ, उसकी मुलाकात साकिर मोहम्मद से हुई।

महिला का आरोप है कि बैंक में हुई मुलाकात में साकिर ने खुद को हिंदू बताते हुए अपना नाम राजकुमार बताया था। उसने कहा था कि उसकी पत्नी की मौत हो चुकी है। उसका एक बच्चा है। इसके बाद साकिर पीड़िता को घुमाने के बहाने कहीं ले गया और नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ रेप कर आपत्तिजनक वीडियो बना लिए।

बाद में वह वीडियो दिखाकर पीड़िता को लगातार ब्लैकमेल करता रहा। यही नहीं, पीड़िता को घर ले जाकर वह उसे बुर्के में रखता था और उसका शारीरिक शोषण करता था। इसके साथ ही मदरसे में ले जाकर उर्दू में लिखे कुछ कागजों में दस्तखत कराकर धर्मांतरण के लिए प्रताड़ित करने लगा।

पीड़िता का कहना है कि जब उसे यह पता चला कि आरोपित की पत्नी जिंदा है और व 9 बच्चों का बाप है तो उसने इसका विरोध किया। जिस पर साकिर ने कहा कि उसके मजहब में एक से अधिक बीवी रखना सबाब (पुण्य) का काम है इससे जन्नत मिलती है। आरोपित की पूरी सच्चाई पीड़िता के सामने आने के बाद वह उसे परेशान करने लगा और बेटी का धर्मांतरण कराने का भी दवाब बनाने लगा।

साकिर मोहम्मद से तंग आकर पीड़िता अपनी बेटी को साथ लेकर इंदौर आ गई और यहाँ विजय नगर थाना क्षेत्र में किराए के मकान में रहने लगी। इसके बाद साकिर यहाँ भी आ धमका और फिर वीडियो वायरल करने की धमकी देने लगा।

पीड़िता का आरोप है कि वह आरोपित से तंग आकर शिकायत कराने के लिए महिला थाने गई थी। लेकिन वहाँ, उससे कहा गया कि शहडोल की हो वहीं जाकर एफआईआर दर्ज करो। महिला ने कई अन्य पुलिस अधिकारियों से बात की लेकिन किसी ने भी एफआईआर दर्ज नहीं की।

पीड़िता, आरोपित द्वारा लगातार परेशान किए जाने से तंग आ चुकी थी। उसने मजबूरन हाईकोर्ट की शरण ली। जहाँ, हुई सुनवाई में हाईकोर्ट ने पुलिस को फटकार लगाते हुए एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। कोर्ट ने कहा कि पीड़िता द्वारा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को शिकायत करने के बाद थाने पर आवेदन देना आवश्यक नहीं है। पीड़िता के बयानों को ही उसकी ओर से लिखित शिकायत माना जाए और कार्रवाई की जाए।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20000 महिलाओं को रेप-मौत से बचाने के लिए जब कॉन्ग्रेसी मंत्री ने RSS से माँगी थी मदद: एक पत्र में दर्ज इतिहास, जिसे छिपा...

पत्र में कहा गया था कि आरएसएस 'फील्ड वर्क' के लिए लोगों को अत्यधिक प्रशिक्षित करेगा और संघ प्रमुख श्री गोलवर्कर से परामर्श लिया जा सकता है।

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -