Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजमारा-पीटा, शरीर को चिमटे से जलाया...: गुरुग्राम के दंपति ने 14 साल की नाबालिग...

मारा-पीटा, शरीर को चिमटे से जलाया…: गुरुग्राम के दंपति ने 14 साल की नाबालिग पर किए अत्याचार, कूड़ेदान से खाना खाकर जिंदा रही

राँची की रहने वाली किशोरी को गुरुग्राम का एक दंपति प्रताड़ित कर रहा था। लड़की के शरीर पर गर्म चिमटे से दागे जाने और दूसरे कई तरह के घाव मिले हैं। लड़की के चेहरे पर भी चोट के कई निशान मिले हैं।

हरियाणा के गुरुग्राम से 14 साल की बच्ची के साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है। रिपोर्टों के मुताबिक राँची की रहने वाली किशोरी को गुरुग्राम का एक दंपति प्रताड़ित कर रहा था। लड़की के शरीर पर गर्म चिमटे से दागे जाने और दूसरे कई तरह के घाव मिले हैं। लड़की के चेहरे पर भी चोट के कई निशान मिले हैं। बताया गया है कि लड़की को खाना भी नहीं दिया जाता था। किशोरी को गुरुग्राम पुलिस ने ‘वन स्टॉप सेंटर’ सखी की मदद से छुड़ाया। लड़की के साथ दरिंदगी करने वाले दंपति को गिरफ्तार कर लिया गया है।

दंपति के खिलाफ स्थानीय सखी सेंटर की प्रभारी पिंकी मलिक ने केस दर्ज कराया है। जिसके बाद कार्रवाई करते हुए गुरुग्राम के न्यो कॉलोनी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। एफआईआर के मुताबिक झारखंड के राँची की रहने वाली नाबालिग लड़की को मनीष खट्टर और कमलजीत कौर ने काम पर रखा था। मनीष और कमलजीत निजी कंपनी के लिए काम करते हैं। उन्होंने प्लेसमेंट एजेंसी की मदद से पीड़िता को काम पर रखा था।

शिकायत के अनुसार दोनों मिलकर न सिर्फ लड़की की पिटाई करते थे बल्कि उसे बुरी तरह टॉर्चर कर रहे थे। लड़की के हाथों, पैर और मुँह पर चोट के निशान हैं। शरीर के कई हिस्सों को बुरी तरह दागा गया है। बताया गया कि लड़की को रातभर सोने नहीं दिया जाता था और तो और उसे खाने के लिए भी नहीं दिया जाता था। लड़की भूख मिटाने के लिए कचरे के डिब्बे में फेंका गया बचा-खुचा भोजन व जूठन खाने को मजबूर थी। शिकायत के अनुसार दंपति महीनों से लड़की को प्रताड़ित कर रहा था तथा उसका यौन उत्पीड़न भी कर रहा था।

गुरुग्राम में ‘वन स्टॉप सेंटर’ सखी की केंद्र प्रभारी पिंकी मलिक ने ऑपइंडिया से बात करते हुए जानकारी दी कि उन्हें एक अनजान शख्स ने गुरुग्राम के न्यू कॉलोनी में लड़की को प्रताड़ित किए जाने की जानकारी दी। इसके बाद बिना देरी किए पिंकी मलिक ने पुलिस में शिकायत दी और पीसीआर की मदद से लड़की को घर से छुड़ा लिया।

फिलहाल पीड़िता को एक अस्पताल में दाखिल कराया गया है। अत्याचारी दंपति को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी से पहले दोनों हाथ जोड़कर माफी माँग रहे थे। दंपति का कहना है कि उन्होंने अपनी साढ़े तीन साल की बेटी की देखभाल के लिए उसे रखा था। पिंकी मलिक ने ऑपइंडिया को बताया कि वह पीड़ित लड़की से दोबारा मुलाकात करेंगी। पीड़िता को ठीक होने में थोड़ा समय लग सकता है।

बता दें सखी ‘वन स्टाप सेंटर’ अनाथ, विधवा, निराश्रित महिलाओं को सहारा प्रदान देता है। वन स्टॉप सेंटर योजना भारत सरकार ने एक अप्रैल 2015 को हिंसा प्रभावित महिलाओं की मदद के लिए शुरू की है। यह योजना मूल रूप से सखी के नाम से जानी जाती है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में NDA की बड़ी जीत, सभी 9 उम्मीदवार जीते: INDI गठबंधन कर रहा 2 से संतोष, 1 सीट पर करारी...

INDI गठबंधन की तरफ से कॉन्ग्रेस, शिवसेना UBT और PWP पार्टी ने अपना एक-एक उमीदवार उतारा था। इनमें से PWP उम्मीदवार जयंत पाटील को हार झेलनी पड़ी।

नेपाल में गिरी चीन समर्थक प्रचंड सरकार, विश्वास मत हासिल नहीं कर पाए माओवादी: सहयोगी ओली ने हाथ खींचकर दिया तगड़ा झटका

नेपाल संसद के निचले सदन प्रतिनिधि सभा में अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में प्रचंड मात्र 63 वोट जुटा पाए। जिसके बाद सरकार गिर गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -