Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजहिन्दू लड़कियों से छेड़छाड़ के कारण पलायन को मजबूर अलीगढ़ के दलित, एक पीड़िता...

हिन्दू लड़कियों से छेड़छाड़ के कारण पलायन को मजबूर अलीगढ़ के दलित, एक पीड़िता के पिता को चेन से पीटा: रिपोर्ट में दावा – लगे ‘मकान बिकाऊ हैं’ के पोस्टर

"ये लोग (चार मुस्लिम युवक) मेरे साथ गाली-गलौच करने के अलावा जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे। इतना ही नहीं, गंदे इशारे भी कर रहे थे।"

देश के कई इलाकों में जिहादी किस कदर हावी हैं, इसका अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में हिन्दू परिवार मुस्लिमों के डर से घर छोड़ने को मजबूर हो गए हैं। यहाँ के कई घरों में ‘घर बिकाऊ है’ के पोस्टर भी लग चुके हैं। पीड़ित हिन्दुओं का कहना है कि मुस्लिम लड़के लड़कियों से छेड़छाड़ करते हैं और मना करने पर मारपीट करते हैं।

यह पूरा मामला अलीगढ़ जिले के मोरथल गाँव का है, जहाँ जिहादी मानसिकता से भरे हुए मुस्लिम लड़कों ने हिन्दू लड़कियों का जीना हराम कर दिया है। ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ ने अपनी एक्सक्लुसिव रिपोर्ट में बताया है कि मुस्लिमों से परेशान होकर मोरथल गाँव के कई दलित परिवारों ने अपना घर छोड़कर पलायन करने की चेतावनी दी है। यही नहीं, जिन घरों में ‘यह मकान बिकाऊ है’ लिखा गया था, वहाँ काले रंग से पोत कर ढँकने का प्रयास किया गया है।

एक पीड़िता ने ‘टाइम्स नाउ’ से हुई बातचीत में बताया, “ये लोग (चार मुस्लिम युवक) मेरे साथ गाली-गलौच करने के अलावा जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे। इतना ही नहीं, गंदे इशारे भी कर रहे थे। मैंने शाम को ये बात अपने पापा को बताई तो उन्होंने युवकों को डाँटा, जिसके बाद ये मुस्लिम लड़के मारने-पीटने पर उतारू हो गए। मेरे पिता को साइकिल की चैन से पीटा और मुझे घर के अंदर से खींचकर ले गए और गंदी-गंदी गालियाँ दी। ये सब लगातार बढ़ता जा रहा है।”

वहीं, एक अन्य शख्स ने आरोप लगाते हुए कहा है कि मुस्लिम समुदाय के युवक उसके मोहल्ले में आकर लड़कियों और महिलाओं के साथ गलत तरीके का व्यवहार करते हैं। बीते कुछ दिनों से मुस्लिमों का आतंक ज्यादा बढ़ गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, रविवार (4 सितंबर, 2022) को जब एक बार फिर लड़कियों से छेड़खानी हुई तो यह मामला थाने तक पहुँचा। दलित समुदाय ने आरोप लगाया है कि पुलिस भी जाँच में सहयोग नहीं कर रही है। साथ ही ग्राम प्रधान भी इस मामले को लेकर दबाव बना रहा है और मुस्लिम पक्ष की ओर से समझौते की बात कर रहा है।

हालाँकि, इस मामले की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई का आश्वासन दिया है। साथ ही यह भी कहा है कि किसी को पलायन नहीं करने दिया जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेशी महिला के 5 छोटे बच्चे, 3 लड़कियाँ… इसलिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दे दी जमानत: सपा विधायक की मदद से भारत में रहने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जेल में बंद एक बांग्लादेशी महिला हिना रिजवान को जमानत दे दी। महिला अपने बच्चों के साथ अवैध रूप से भारत में रही थी।

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -