Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजजसपुर में दरगाह पर इबादत करने पहुँचे जायरीनों को मुजाविरों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा,...

जसपुर में दरगाह पर इबादत करने पहुँचे जायरीनों को मुजाविरों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, शब-ए-बारात के मौके पर पहुँचे थे मजार पर

पुलिस ने 6 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। छिपियान मोहल्ला निवासी अमजद अली ने कहा कि वो सोमवार को दोपहर राजू, फरहान, फराज, व इल्लू के साथ मजार पर जियारत करने गया था। वहाँ मोहल्ला पट्टी चौहान निवासी अब्दुल हमीद, शहीद सुधिया, जाहिद, शादाब, तीर्थनगर के सैफ अली और आरिफ ने जोर-जबरदस्ती की....

उत्तराखंड के उद्धम नगर जिले में स्थित एक दरगाह पर इबादत करने वाले जायरीनों को मामूली सी बात पर वहाँ दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया। जायरीनों के साथ मजार के मुजाविरों की नोकझोंक हुई, जिसके बाद दोनों पक्षों में जम कर मारपीट हुई। इस घटना में तीन लोग घायल हुए हैं। एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हुआ है, जिसका इलाज काशीपुर में चल रहा है। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर जम कर शेयर हो रहा है।

ये घटना शब-ए-बारात के मौके पर हुई। जायरीन इबादत करने के लिए दरगाह पर आए थे। घटना जसपुर के पतरामपुर में स्थित कानू सैय्यद बाबा दरगाह की है, जहाँ इस्लामी त्योहारों के मौके पर बड़ी संख्या में मुस्लिम आते हैं। इसी क्रम में शब-ए-बारात के कार्यक्रम में मुस्लिम आए थे और मजार के प्रबंधकों के साथ उनकी मारपीट हो गई। जम कर लाठी-डंडे चले। तीन लोग घायल हो गए। जसपुर के सरकारी अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है।

जसपुर कोतवाल जगदीश देउपा ने बताया कि सूचना पर पुलिस घटना स्थल पर पहुँची, जिसके बाद दोनों पक्षों को शांत कराया गया। पुलिस ने 6 लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। छिपियान मोहल्ला निवासी अमजद अली ने कहा कि वो सोमवार (मार्च 29, 2021) को दोपहर राजू, फरहान, फराज, व इल्लू के साथ मजार पर जियारत करने गया था। वहाँ मोहल्ला पट्टी चौहान निवासी अब्दुल हमीद, शहीद सुधिया, जाहिद, शादाब, तीर्थनगर के सैफ अली और आरिफ ने जोर-जबरदस्ती की।

आरोप है कि ये सभी गल्ले में ज्यादा रुपए डालने को बोल रहे थे। मना करने पर चाकुओं से हमला किया और बंधक बना लिया। सूचना मिलने पर पुलिस वहाँ पहुँची। पुलिस ने सब को बंधक से छुड़ाया। चौकी इंचार्ज डीएस बिष्ट ने बताया कि दूसरे पक्ष ने भी रिपोर्ट दर्ज करा कर कहा है कि सोनू, रिजवान और उनके साथियों ने चौकीदार अख्तर से दरगाह के चढ़ावे का हिस्सा माँगा और मना करने पर हमला बोल दिया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe