Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाज'ईसामसीह सब भगवान से बड़े...' : जौनपुर में लालच देकर हिंदुओं को ईसाई बनाने...

‘ईसामसीह सब भगवान से बड़े…’ : जौनपुर में लालच देकर हिंदुओं को ईसाई बनाने का आरोप, सेंट जेवियर्स स्कूल के मैनेजर सहित कई पर FIR

आरोप है कि सभा बुलाकर हिंदुओं को ईसाई बनने का लालच दिया जा रहा था। कथित तौर पर उनसे कहा गया कि ईसामसीह सब भगवान से बड़े हैं। जो काम भगवान नहीं करते, वह ईसामसीह की कृपा से हो जाती है।

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में ईसाई धर्मान्तरण के एक रैकेट का पर्दाफाश हुआ है। इसका सरगना बदलापुर के सेंट जेवियर्स स्कूल का प्रबंधक थॉमस जोसेफ है। FIR में थॉमस और 8 अन्य लोगों को नामजद किया गया है। इन पर लालच देकर हिंदुओं को धर्मांतरित करने का आरोप है। मामला रविवार (12 फरवरी 2023) को सामने आया।

यह मामला जौनपुर के बदलापुर थाना क्षेत्र के गाँव मुरादपुर कोटिला का है। मामले की शिकायत प्रमोद शर्मा ने की है। उन्होंने बताया कि 12 फरवरी को दोपहर लगभग 12:30 पर उन्हें मुरादपुर कोटिला गाँव में हिन्दुओं के धर्म परिवर्तन की सूचना मिली। यह काम सेंट जेवियर्स स्कूल के प्रबंधक थॉमस जोसेफ द्वारा करवाया जा रहा था। इसमें सहयोगी दिनेश कुमार मौर्या था, जो एक पादरी बताया जा रहा है। आरोप है कि इस दौरान सभा बुलाकर हिंदुओं को ईसाई बनने का लालच दिया जा रहा था। कथित तौर पर उनसे कहा गया कि ईसामसीह सब भगवान से बड़े हैं। जो काम भगवान नहीं करते, वह ईसामसीह की कृपा से हो जाती है।

​शिकायत में कहा गया है कि सभा के आयोजकों में शिव प्रसाद, समर बहादुर, दुर्गा प्रसाद, कमलेश, राम अजोर, आशीष कुमार और संजय कुमार भी शामिल थे। इनके साथ कई महिलाएँ भी मौजूद थीं जो खुद को ईसामसीह का वालेंटियर बता रहीं थीं। शिकायतकर्ता ने सनातन के विरुद्ध साजिश रचने वालों पर कड़ी कार्रवाई की माँग की है।

इस शिकायत में आरोपित के तौर पर कई अन्य अज्ञात लोग भी बताए गए हैं। ऑपइंडिया के पास FIR कॉपी मौजूद है। पुलिस ने FIR दर्ज कर सभी नामजद आरोपितों को हिरासत में ले लिया है। इन सभी पर उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म सम्परिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 2021 की धारा 3/5 (1) के तहत कार्रवाई की गई है। पुलिस के मुताबिक इस मामले में जाँच कर जरूरी कार्रवाई की जा रही है।

छोड़ दिया गया थॉमस

ऑपइंडिया ने मामले के शिकायतकर्ता प्रमोद शर्मा से बात की। प्रमोद ने हमें बताया कि मुख्य आरोपित थॉमस को थाने से छोड़ दिया गया है। इसकी शिकायत वे पुलिस के उच्चअधिकारियों से करने जा रहे हैं। प्रमोद के मुताबिक थॉमस मूल रूप से केरल का रहने वाला। उसके स्कूल में सैकड़ों हिन्दू बच्चे पढ़ते हैं। बकौल प्रमोद ये बच्चे इंटरमीडिएट की पढ़ाई पूरी करते-करते मानसिक तौर पर ईसाई बन चुके होते हैं।

प्रमोद ने ऑपइंडिया को इस घटना के वीडियो भेजे। वीडियो में सभा में कई महिलाएँ और पुरुष दिख रहे हैं। एक मंच सजा है जिस पर कुछ लड़कियाँ एक जैसा ड्रेस पहने बैठीं दिखी रही हैं। पुलिस बल को भी मौके पर देखा जा सकता है। एक अन्य वीडियो में थॉमस पुलिस और हिन्दू संगठन के लोगों से बहस करते देखा जा सकता है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

IAS बेटी ऑडी पर बत्ती लगाकर बनाती थी भौकाल, माँ-बाप FIR के बाद फरार: पूजा खेडकर को जाँच के बाद डॉक्टरों ने नहीं माना...

पूजा खेडकर का मामला मीडिया में उठने के बाद उनके माता-पिता से जुड़ी कई वीडियो सामने आई है। ऐसे में पुलिस ने उनकी माँ के खिलाफ एफआईआर की है।

शूटिंग क्लब का सदस्य था डोनाल्ड ट्रम्प पर गोली चलाने वाला, शिकारी वाली वेशभूषा थी पसंद: रिपब्लिकन पार्टी ने बुलाया राष्ट्रीय सम्मेलन, पूर्व राष्ट्रपति...

वो लगभग 1 साल से पास में ही स्थित 'क्लेयरटन स्पोर्ट्समेन क्लब' का सदस्य भी था। इसमें कई शूटिंग रेंज हैं। पहले से कोई भी आपराधिक या ट्रैफिक चालान का मामला दर्ज नहीं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -