Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजगोरक्षक की गर्भवती पत्नी को मारी लात, पेट में मर गया बच्चा: राजस्थान पुलिस...

गोरक्षक की गर्भवती पत्नी को मारी लात, पेट में मर गया बच्चा: राजस्थान पुलिस पर हरियाणा में FIR, श्मशान से बाहर निकाला गया था नवजात शिशु का शव

श्रीकांत की माँ ने राजस्थान पुलिस की प्रताड़ना को लेकर हरियाणा के नूँह के नगीना थाने में शिकायत दी थी। पुलिस पर घर में घुसकर प्रताड़ित करने और गर्भवती बहू के पेट पर लात मारने का आरोप लगाया था। इसके कारण बच्चा मृत पैदा हुआ था।

हरियाणा में राजस्थान पुलिस पर मंगलवार (21 फरवरी 2023) को एफआईआर दर्ज की गई। यह मामला गोरक्षक श्रीकांत कौशिक की माँ दुलारी देवी की शिकायत पर दर्ज हुआ है। राजस्थान पुलिस पर श्रीकांत की गर्भवती पत्नी के पेट पर लात मारने का आरोप है। उसका नवजात शिशु मृत पैदा हुआ था।

वैसे नवजात की मौत की वजह की अभी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। हरियाणा पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। डॉक्टरों के बोर्ड से पोस्टमार्टम कराने के लिए ​हरियाणा पुलिस ने नवजात शिशु का शव 19 फरवरी को मरोड़ा गाँव के श्मशान से बाहर निकलवाया था।

17 फरवरी 2023 की सुबह श्रीकांत कौशिक के घर में घुसने और परिजनों को प्रताड़ित करने का आरोप भरतपुर पुलिस पर है। हालाँकि राजस्थान पुलिस इन आरोपों को नकार चुकी है। श्रीकांत को राजस्थान पुलिस गो तस्कर जुनैद और नासिर की हत्या के मामले में तलाश रही है। जुनैद और नासिर की जली हुई लाश हरियाणा के भिवानी में मिली थी।

श्रीकांत की माँ दुलारी ने पुलिस प्रताड़ना को लेकर 18 फरवरी को हरियाणा के नूँह के नगीना थाने में शिकायत दी थी। उस पर अब एफआईआर दर्ज हुई है। श्रीकांत के मृत शिशु का पोस्टमार्टम 20 फरवरी को पुलिस की मौजूदगी में हुआ था। दुलारी देवी ने अपनी शिकायत में कहा था कि 17 फरवरी को उनके घर में 30 से 40 पुलिसकर्मी जबरन घुस गए और मारपीट की। इस दौरान श्रीकांत के बारे में सवाल करते हुए कहते पुलिस ने कहा, “श्रीकांत कहाँ है, वह बहुत बड़ा गोरक्षक बनता है।” जब घर वालों ने श्रीकांत की जानकारी नहीं होने की बात कही तो उन्हें गालियाँ देते हुए पीटा गया। श्रीकांत की गर्भवती पत्नी कमलेश के पेट पर लात मारी गई।

FIR में पुलिस के हवाले से बताया गया है कि मौत का असल कारण मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगा। वहीं अन्य परीक्षण के लिए विसरा को सुरक्षित रख लिया गया है। इस मामले में 30 से 40 अज्ञात पुलिसकर्मियों के विरुद्ध IPC की धारा 148, 149, 452, 312 और 354 के तहत केस दर्ज कर जाँच शुरू कर दी गई है। ऑपइंडिया के पास FIR की कॉपी मौजूद है।

भरतपुर पुलिस द्वारा आरोपों को खारिज किए जाने के बाद ऑपइंडिया ने श्रीकांत के चाचा प्रवीण कुमार से बात की थी। उन्होंने कहा था कि पुलिस की हरकत के कारण उनके परिवार के लोग भयभीत हैं। श्रीकांत के चचेरे भाई विष्णु कौशिक ने भी राजस्थान पुलिस पर खुद को 40 घंटे तक अवैध हिरासत में रखने और टॉर्चर करने का आरोप लगाया था।

विहिप के केंद्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ सुरेंद्र जैन ने हरियाणा में हुई एफआईआर को राजस्थान पुलिस के गाल पर तमाचा बताया है। विहिप शुरुआत से ही इस मामले की सीबीआई जाँच की माँग कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1 साल में बढ़े 80 हजार वोटर, जिनमें 70 हजार का मजहब ‘इस्लाम’, क्या याद है आपको मंगलदोई? डेमोग्राफी चेंज के खिलाफ असम के...

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने तथ्यों को आधार बनाते हुए चिंता जाहिर की है कि राज्य 2044 नहीं तो 2051 तक मुस्लिम बहुल हो जाएगा।

5 साल में 123% तक बढ़ गए मुस्लिम वोटर, फैक्ट फाइडिंग रिपोर्ट से सामने आई झारखंड की 10 सीटों की जमीनी हकीकत: बाबूलाल का...

झारखंड की 10 विधानसभा सीटों के कई मुस्लिम बहुल बूथ पर 100% से अधिक वोटर बढ़ गए हैं। यह खुलासा भाजपा की एक रिपोर्ट में हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -