Sunday, July 14, 2024
Homeदेश-समाज'पाकिस्तान ज़िंदाबाद, हिदुस्तान मुर्दाबाद': पंजाब में सरकारी विभाग के ऑफिस पर ही लिख दिया...

‘पाकिस्तान ज़िंदाबाद, हिदुस्तान मुर्दाबाद’: पंजाब में सरकारी विभाग के ऑफिस पर ही लिख दिया खालिस्तानी नारा, SFJ के पन्नू ने वीडियो से धमकाया

गुरपतवंत सिंह पन्नू ने इस वीडियो में यह भी कहा है कि जून 1984 में श्री दरबार साहिब पर हमले के बाद सिखों और हिंदुस्तान के बीच एक बड़ी लाइन खिंच गई है।

पंजाब में खालिस्तान समर्थक एक बार फिर सिर उठा रहे हैं। यहाँ के बठिंडा में वन विभाग के कार्यालय की दीवार पर खालिस्तान के समर्थन में नारे लिखे गए हैं। कहा जा रहा है ये नारे रात में लिखे गए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रविवार (2 अक्टूबर 2022) को बठिंडा के डिविजनल फोरेस्ट ऑफिस की दीवार पर खालिस्तान समर्थक और भारत विरोधी नारे लिखे गए हैं। इस दीवार पर ‘खालिस्तान जिंदाबाद, पाकिस्तान जिंदाबाद’ ‘हिंदुस्तान मुर्दाबाद’ लिखा गया है। हालाँकि, जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस द्वारा इन नारों को मिटा दिया गया है।

इस मामले में, बठिंडा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जयबालन ई. ने कहा है कि खालिस्तान समर्थित नारे लिखे जाने की सूचना मिली है। इस मामले की जाँच शुरू कर दी गई है। जाँच के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

इन नारों के पीछे प्रतिबंधित खालिस्तान समर्थक आतंकी संगठन ‘सिख फॉर जस्टिस (SFJ)’ का हाथ सामने आया है। ये दावा खुद इस संगठन के सरगना गुरपतवंत सिंह पन्नू ने किया है। पन्नू ने इसकी जिम्मेदारी लेते हुए वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में पन्नू ने कहा है कि बठिंडा में ‘हिंदुस्तान मुर्दाबाद खालिस्तान- पाकिस्तान जिंदाबाद’ और सिख, मुस्लिम भाई-भाई’ लिखा गया है। उसने यह भी कहा है कि 26 जनवरी 2023 से पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश में खालिस्तान पर जनमत संग्रह (रेफरेंडम) शुरू हो रहा है।’

गुरपतवंत सिंह पन्नू ने इस वीडियो में यह भी कहा है कि जून 1984 में श्री दरबार साहिब पर हमले के बाद सिखों और हिंदुस्तान के बीच एक बड़ी लाइन खिंच गई है। उसने दावा किया कि तब तब 100,000 से ज्यादा खालिस्तान समर्थक सिखों ने स्वतंत्रता के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी थी। उसने ऐलान किया कि टोरंटो में 6 नवंबर को वोटिंग के साथ सिख फॉर जस्टिस का ग्लोबल खालिस्तान जनमत संग्रह पंजाब को भारतीय कब्जे से मुक्त करने की दिशा में एक जरूरी कदम है।

गुरपतवंत सिंह के इस नए वीडियो से यह एक बार फिर साफ हो गया है कि खालिस्तानी आतंकी पूरी तरह से पाकिस्तान के इशारे पर काम कर रहे हैं। बता दें कि खालिस्तानी आतंकी एक अलग देश बनाने की माँग करते हुए भारत से ‘कथित सिख लैंड’ को अलग कराने की साजिश रहते रहे हैं। इसी सिलसिले में खालिस्तान समर्थक नारे व पोस्टर जगह-जगह लगाए जाते रहे हैं

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

10 साल का इस्कॉन, 30 साल का युवक और न्यूयॉर्क में पहली रथयात्रा… जब महाप्रभु जगन्नाथ का प्रसाद ग्रहण कर डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा...

कंपनी ने तब कहा कि ये जमीन बिकने वाली है और करार के तहत अब इसके नए मालिकों के ऊपर है कि वो ये जमीन देते हैं या नहीं। नए मालिक डोनाल्ड ट्रम्प ही थे।

ट्रेनी IAS पूजा खेडकर की ऑडी सीज, ऊटपटांग माँगों के बचाव में रिटायर्ड IAS बाप: रिवॉल्वर लहराने पर FIR के बाद लाइसेंस रद्द करने...

ट्रेनिंग के दौरान ही VIP सुविधाओं के लिए नखरा करने वाली IAS पूजा खेडकर की करस्तानियों का उनके पिता दिलीप खेडकर ने बचाव किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -