Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजचीखता-चिल्लाता रहा बिराज, ये पेड़ से बाँध कर मारते रहे: सिर मूँड़ के कर...

चीखता-चिल्लाता रहा बिराज, ये पेड़ से बाँध कर मारते रहे: सिर मूँड़ के कर दिया पेशाब: निजामुद्दीन, अक्लासुद्दीन और सलमा गिरफ्तार

वीडियो में पीछे से किसी महिला की भी आवाज सुनाई दे रही है, जो आरोपितों को रोकने के बजाए उसकी करतूत का समर्थन कर रही है। मौके पर मौजूद किसी अन्य व्यक्ति द्वारा यह वीडियो कई एंगल से बनाया गया है।

असम के हैलाकांडी जिले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में कुछ लोगों ने एक युवक को पेड़ से बाँध कर रखा है और उसकी पिटाई कर रहे हैं। कुछ ही देर बाद युवक के बालों को छील दिया जाता है और उस पर एक व्यक्ति पेशाब करता है। दर्द से चीखता युवक रहम की भीख माँगता दिखाई दे रहा है लेकिन सामने वालों पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ा। वीडियो में कुछ महिलाओं की भी आवाजें सुनाई दे रहीं हैं।

अब पुलिस ने इस मामले में 4 आरोपितों को गिरफ्तार किया है। इसमें मुख्य आरोपित का नाम निजामुद्दीन है। 2 अन्य आरोपितों के नाम अक्लासुद्दीन और सलमा बेगम हैं। पीड़ित युवक का नाम बिराज पॉल है।

वायरल वीडियो लगभग 2 मिनट 20 सेकेंड का है। इसे नयन दास नाम के व्यक्ति द्वारा ट्विटर हैंडल @nayanda40927241 से मंगलवार (7 फरवरी 2023) को ट्वीट किया गया है। इस वीडियो में एक युवक के ऊपर के कपड़े उतार कर उसके दोनों हाथों को पेड़ से बाँधा गया है। शुरुआत में लुंगी और बनियान पहना आरोपित पीड़ित को डंडे से मार रहा है। इस दौरान पीड़ित जोर-जोर से चीखता है। बाद में एक मशीन से पीड़ित के बालों को छील दिया जाता है और उसको घुटनों के बल बिठा कर उस पर लुंगी वाले व्यक्ति द्वारा पेशाब कर दिया जाता है। इस दौरान पीड़ित लगातार रोता रहता है।

वीडियो में पीछे से किसी महिला की भी आवाज सुनाई दे रही है, जो आरोपितों को रोकने के बजाए उसकी करतूत का समर्थन कर रही है। मौके पर मौजूद किसी अन्य व्यक्ति द्वारा यह वीडियो कई एंगल से बनाया गया है। इस वीडियो का संज्ञान असम के DGP जी पी सिंह ने लिया। मंगलवार (7 फरवरी 2023) को उन्होंने बताया कि इस मामले में हैलाकांडी पुलिस ने कुल 4 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। DGP ने मुख्य आरोपित का नाम निजामुद्दीन बताते हुए उसकी फोटो भी शेयर की है। पुलिस का कहना है कि मामले में कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

क्या था पूरा मामला

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला हैलाकांडी जिले के लाला थाना क्षेत्र के गाँव कृष्णापुर का है। मुख्य आरोपित निजामुद्दीन नशीली दवाओं का तस्कर बताया जा रहा है जो पहले भी जेल जा चुका है। पीड़ित बिराज पॉल के अनुसार, वह 2000 रुपए ले कर निजामुद्दीन के घर हेरोइन के 4 डिब्बे खरीदने गया था। निजामुद्दीन ने उसे डिब्बे खुद उठा कर लेने के लिए कहा। बिराज ने 4 डिब्बों के बजाय 5 डिब्बे उठा लिए, जिसे निजामुद्दीन की अम्मी ने देख लिया। बिराज को लगा कि वह पकड़ा गया तो उसने एक डिब्बा फेंक कर खुद ही उसे खोजने का दिखावा करने लगा।

बिराज के अनुसार, निजामुद्दीन ने उसकी तलाशी ली और डिब्बा न मिलने पर उस दिन उसे जाने दिया। बाद में निजामुद्दीन पीड़ित बिराज पॉल को लगातार कॉल कर के कभी सस्ते में ड्रग्स देने तो कभी ज्यादा कमीशन देने के बहाने बुलाने लगा। बिराज उसकी बातों में आ गया। वह आरोपितों के घर चला गया और वहाँ उसके साथ निर्ममता कर के उसकी वीडियो वायरल कर दी गई। बिराज का आरोप है कि आरोपित निजामुद्दीन पहले भी 17 साल के एक नाबालिग को मरने पर मजबूर कर चुका है। इसी के साथ वह एक पुलिसकर्मी की हत्या भी कर चुका है। पुलिस बिराज पॉल के आरोपों की जाँच कर रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -