Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजबासित-सज्जाद घर में घुस मिंटू को बाहर खींच लाए, फिर खंभे में बाँध तब...

बासित-सज्जाद घर में घुस मिंटू को बाहर खींच लाए, फिर खंभे में बाँध तब तक मारा, जब तक वह बेहोश नहीं हो गया: मुंगेर पुलिस ने किया मामला दर्ज

पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। एसडीपीओ पंकज कुमार ने बताया कि मोहम्मद इनामुल नाम के पीड़ित पर चोरी का आरोप लगाकर उसे बेरहमी से पीटा गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि वीडियो फुटेज के आधार पर आरोपितों की पहचान की जा रही है।

बिहार के मुंगेर से मॉब लिंचिंग का मामला प्रकाश में आया है, जहाँ कुछ मुस्लिमों ने चोरी का आरोप लगाते हुए एक युवक के घर में घुसकर उसे बाहर खींच लिया और फिर खंबे से बाँधकर उसे बुरी तरह पीटा। आरोपित युवक को लात-घूँसे और लोहे की रॉड से तब तक मारते रहे, जब तक कि वह बेहोश नहीं हो गया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, घटना मुंगेर जिले के तारापुर थाना क्षेत्र के गाजीपुर गाँव की है। शनिवार (8 जनवरी 2021) को सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो के आधार पर पुलिस घटनास्थल पर पहुँची तो वहाँ इब्राहिमपुर मोहल्ले का रहने वाला इनाम उर्फ मिंटू घायल अवस्था में पड़ा मिला। उसकी गंभीर हालत को देखते हुए इलाज के लिए उसे भागलपुर रेफर कर दिया गया है।

अस्पताल में होश में आने के बाद मिंटू ने अपने गाँव के दो आरोपितों- मोहम्मद बासित और मोहम्मद सज्जाद पर जान से मारने का आरोप लगाया। मिंटू का कहना है कि शनिवार को ये दोनों पिस्टल लेकर उसके घर में घुस गए और उसे गंदी-गंदी गालियाँ देते हुए मारपीट करने लगे। दोनों उसे घसीटकर इमामबाड़ा के पास लेकर गए और बेरहमी से पीटा। वहाँ पर पहले से के साथी हसन, सलमान और सद्दाम पहले से मौजूद थे। इस दौरान सब ने मिलकर उसे बेरहमी से मारा।

इसके बाद आरोपित उसे लेकर लकड़ी के गोदाम के पास गए और वहाँ एक खंबे से उसे बाँध दिया और फिर सभी ने उसे पीटा। वायरल वीडियो में भी कुछ लड़कों को एक व्यक्ति को जमीन पर गिराकर बेरहमी से लात और लाठियों से पीटते देखा जा सकता है।

बहरहाल, इस मामले में पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। एसडीपीओ पंकज कुमार ने बताया कि मोहम्मद इनामुल नाम के पीड़ित पर चोरी का आरोप लगाकर उसे बेरहमी से पीटा गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि वीडियो फुटेज के आधार पर आरोपितों की पहचान की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -