Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजअंडमान निकोबार द्वीपसमूह में छिपकर बैठा था पत्नी का हत्यारा पति: 11 साल बाद...

अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में छिपकर बैठा था पत्नी का हत्यारा पति: 11 साल बाद हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार

कैंपबेल खाड़ी 'इंदिरा पॉइंट' के लिए प्रसिद्ध है और यह भारत की मुख्य भूमि से दूर सबसे दक्षिणी बिंदु है। 23 अगस्त 2023 को हरियाणा पुलिस की एक टीम पोर्ट ब्लेयर पहुँची और फिर कैंपबेल खाड़ी गई। वहाँ, स्थानीय पुलिस की मदद से सेल्वन को गिरफ्तार कर लिया गया।

पत्नी की हत्या करके फरार हुए एक आरोपित को हरियाणा पुलिस ने 11 साल फिर से गिरफ्तार कर लिया है। 54 वर्षीय आरोपित एपी सेल्वन वारदात को अंजाम देने के बाद अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह के एक दूरदराज द्वीप में छिपकर बैठा था। सेल्वन एक रसोइया है।

दरअसल, साल 2007 में सेल्वन की पत्नी के शव को छत के पंखे से लटका हुआ पाया गया था। इसके बाद हत्या के आरोप में सेल्वन को हरियाणा पुलिस ने अंबाला में उनके किराए के घर से उठा लिया था। हालाँकि, बाद में सबूतों के अभाव में उसे जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

जाँच के दौरान अधिकारियों को पता चला कि वह अपनी पत्नी की हत्या में शामिल था। इसके बाद साल 2012 में जाँच अधिकारियों ने सेल्वन के खिलाफ कोर्ट में पर्याप्त सबूत रखे। इसके बाद अंबाला कोर्ट ने उसके खिलाफ दोबारा गिरफ्तारी वारंट जारी किया।

हालाँकि, अधिकारियों को उसका पता नहीं लग पाया। सेल्वन जमानत मिलने के बाद लापता हो गया। गिरफ्तारी वारंट जारी होने के बाद पिछले 11 वर्षों से वह अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह में निकोबार जिले के कैंपबेल खाड़ी स्थित एक दूर-दराज के गाँव विजय नगर में छिपकर बैठा था।

कैंपबेल खाड़ी ‘इंदिरा पॉइंट’ के लिए प्रसिद्ध है और यह भारत की मुख्य भूमि से दूर सबसे दक्षिणी बिंदु है। 23 अगस्त 2023 को हरियाणा पुलिस की एक टीम पोर्ट ब्लेयर पहुँची और फिर कैंपबेल खाड़ी गई। वहाँ, स्थानीय पुलिस की मदद से सेल्वन को गिरफ्तार कर लिया गया।

अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह के पुलिस महानिदेशक देवेश चंद्र श्रीवास्तव ने कहा, “उसे कैंपबेल खाड़ी से गिरफ्तार किया गया है। हम हरियाणा में अपने समकक्ष के संपर्क में हैं और आगे की जाँच जारी है।”

देश की मुख्य भूमि से लगभग 1300 किलोमीटर दूर छिपे सेल्वन को 25 अगस्त को पोर्ट ब्लेयर लाया गया और चैथम पुलिस स्टेशन के लॉकअप में रखा गया। इसके बाद 27 अगस्त 2023 दिन रविवार को आरोपित को पहले दिल्ली और फिर वहाँ से हरियाणा ले जाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

‘लैंड जिहाद और लव जिहाद को बढ़ावा दे रही हेमंत सोरेन की सरकार’: झारखंड में गरजे अमित शाह, कहा – बिगड़ रहा जनसंख्या का...

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन पर 'भूमि जिहाद', 'लव जिहाद' को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए उन पर तीखा हमला किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -