Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाज'चुप! वर्दी उतरवा दूँगी.. तेरी औकात नहीं है': नैनीताल में महिला पर्यटक की पुलिस...

‘चुप! वर्दी उतरवा दूँगी.. तेरी औकात नहीं है’: नैनीताल में महिला पर्यटक की पुलिस से दबंगई, ₹6 करोड़ की कार जब्त

जब स्थानीय लोग बीच-बचाव करने आए तो महिला ने कहा कि तुम्हारे जैसे लोग हमारे घरों में पोछा लगाते हैं। इससे उत्तराखंड के स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए।

उत्तराखंड के नैनीताल में एक महिला पर्यटक द्वारा हंगामा मचाए जाने का वीडियो वायरल हो रहा है। महिला का नाम स्मिता बताया गया है। उक्त महिला ने पुलिस को वर्दी उतरवाने की धमकी दे डाली। फ़िलहाल पुलिस ने महिला की 6 करोड़ रुपए की कार को जब्त कर लिया है और सरकारी कर्मी की ड्यूटी में बाधा डालने का आरोप लगाया गया है। दरअसल, ये सब तब शुरू हुआ जब पुलिस ने उक्त महिला से कार के शीशे पर लगी काली फिल्म को लेकर चालान कटवाने को कहा।

इस पर वो भड़क गई और पुलिस के साथ ही बहस करने लगी। पुलिसकर्मियों को अपने रसूख की बात करते हुए धमकी भी दी। महिला के साथ उसके कुछ साथी भी थे, जो लगातार पुलिसकर्मियों के साथ बदसलूकी कर रहे थे। मॉल रोड पर चेकिंग अभियान चलाने के दौरान ये घटना हुई। हिमाचल प्रदेश के नंबर की उस कार पर जेड ब्लैक फिल्म चढ़ी हुई थी। आरोप है कि तल्लीताल अध्यक्ष विजय मेहता के साथ महिला के साथियों ने गाली-गलौज की।

पुलिस इन सभी को थाने ले गई, लेकिन वहाँ भी ये लोग हंगामा करते रहे। फिर गाड़ी सीज करने की कार्रवाई की गई। उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और उन्हें मंगलवार (3 अगस्त, 2021) को अदालत में पेश किया जाएगा। महिला ने पुलिसकर्मी को लात मारी और बार-बार ‘चुप-चुप’ भी बोल रही थी। शीशे पर काली फिल्म चढ़ाने पर चालान काटने को लेकर ये सारा विवाद हुआ। महिला के साथियों ने पुलिस से कहा कि वो रुपए लेकर मामले को रफा-दफा करे।

बात हाथापाई तक पहुँच गई। इस दौरान वहाँ कई पर्यटक जमा थे, जो इस घटना का वीडियो बनाने लगे। महिला की पहचान कानपुर निवासी स्मिता और अन्य युवकों की पहचान दिल्ली के वसंत विहार निवासी शिवम मिश्रा, विवेक और संदीप के रूप में हुई है। IPC की धारा-504 (शांति भंग करना), 506 (आपराधिक धमकी), 353 (किसी लोक सेवक को उसके कर्तव्यों के दौरान डराना, काम में बाधा डालना) और 186 के तहत मामला दर्ज हुआ है।

महिला ने महिला दरोगा को धमकाते हुए कहा था, “तेरी औकात नहीं जो इस गाड़ी का चालान कर सको। तुमलोगों की वर्दी उतरवा दूँगी। अगर पैसे चाहिए तो बताओ, गाड़ी को कुछ नहीं कर सकते। गाड़ी को हाथ नहीं लगाना।” जब स्थानीय लोग बीच-बचाव करने आए तो महिला ने कहा कि तुम्हारे जैसे लोग हमारे घरों में पोछा लगाते हैं। इस पर स्थानीय लोग भी भड़क गए, जिसके बाद उन पर्यटकों को थाने ले जाना पड़ा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

100 मलयाली ISIS में हुए शामिल- 94 मुस्लिम, 5 कन्वर्टेड: ‘नारकोटिक्स जिहाद’ पर घिरे केरल के CM ने बताया

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बुधवार को खुलासा किया कि 2019 तक केरल से ISIS में शामिल होने वाले 100 मलयालियों में से लगभग 94 मुस्लिम थे।

इस्लामी कट्टरपंथ से डरा मेनस्ट्रीम मीडिया: जिस तस्वीर पर NDTV को पड़ी गाली, वह HT ने किस ‘दहशत’ में हटाई

इस्लामी कट्टरपंथ से डरा हुआ मेन स्ट्रीम मीडिया! ऐसा हम नहीं कह रहे बल्कि हिंदुस्तान टाइम्स ने ऐसा एक बार फिर खुद को साबित किया। जब कोरोना से सम्बंधित तमिलनाडु की एक खबर में वही तस्वीर लगाकर हटा बैठा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,886FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe