Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजअमृतसर के स्वर्ण मंदिर में महिला सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर ने किया योग: SGPC ने...

अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में महिला सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर ने किया योग: SGPC ने ‘जघन्य अपराध’ बता दर्ज कराई शिकायत, 3 सेवादारों पर भी लिया एक्शन

स्वर्ण मंदिर के नाम से मशहूर श्री दरबार साहिब के परिसर में योग करने वाली एक महिला के खिलाफ शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने शिकायत दर्ज कराई है।

अमृतसर से चौंकाने वाले घटनाक्रम की जानकारी मिल रही है। स्वर्ण मंदिर के नाम से मशहूर श्री दरबार साहिब के परिसर में योग करने वाली एक महिला के खिलाफ शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने शिकायत दर्ज कराई है। अर्चना मकवाना नाम की ये महिला सोशल मीडिया इन्फ्लूएंशर हैं और योग की तस्वीरें उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी। उन्होंने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर योग किया था और तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा की थी, जिसके बाद SGPC ने ये कदम उठाया। यही नहीं, योग करने की अनुमति देने वाले तीन सेवादारों के खिलाफ भी शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने एक्शन लिया है।

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने तीन सेवादारों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया है। इस मामले में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष हरजिंदर सिंह धामी ने कहा, “सचखंड श्री हरमंदिर साहिब में गुरुमाटी के खिलाफ काम करने की इजाजत किसी को नहीं दी जा सकती, लेकिन कुछ लोग जान बूझकर घृणित कामों द्वारा इस पवित्र स्थान की पवित्रता और ऐतिहासिक महत्ता को चोट पहुँचा रहे हैं।”

धामी ने कहा कि अर्चना मकवाना नामक महिला के कृत्य से सिखों की भावनाएँ आहत हुई हैं, इसलिए उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई है। उन्होंने कहा कि महिला ने पहले ही अपने कृत्य के लिए माफी माँग ली है, और लोगों को ऐसा काम नहीं करना चाहिए जिसके लिए बाद में माफी माँगनी पड़े।

इस मामले पर श्री दरबार साहिब के जनरल मैनेजर भगवंत सिंह धंगेरा ने बताया कि मकवाना की योग करते हुए तस्वीरें सोशल मीडिया पर आई थीं, जिसकी पुष्टि के लिए सीसीटीवी कैमरों की जाँच की गई। फुटेज का विश्लेषण करने पर पता चला कि महिला ने योग की मुद्रा में केवल 5 सेकंड के लिए ही पोज दिया था। इस मामले में तीन सेवादारों – गगनपाल सिंह, हरजिंदर सिंह और पलविंदर सिंह – के खिलाफ कर्तव्य में लापरवाही के आरोप में कार्रवाई शुरू की गई है।

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के अनुसार, इनमें से दो सेवादारों को पहले ही निलंबित कर दिया गया है, और एक को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है और उसे गुरुद्वारा गढ़ी साहिब गुरदास नंगल में ट्रांसफर कर दिया गया है। भगवंत सिंह धंगेरा ने कहा कि महिला के व्यवहार से सिखों की भावनाओं को ठेस पहुँची है, जिसके चलते लड़की के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। वहीं, अर्चना मकवाना ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से ये तस्वीरें और वीडियो पहले ही हटा दिए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -